रजोनिवृत्ति या Menopause, यह हर महिला के जिंदगी में होनेवाली एक महत्वपूर्ण घटना हैं। रजोनिवृत्ति के दौरान महिलाओं को कई प्रकार के परेशानी के दौर से गुजरना पड़ता हैं। रजोनिवृत्ति क्यों होती है और इसके लक्षण क्या हैं इसकी अधिक जानकारी पढ़ने के लिए कृपया यहाँ क्लिक करे - रजोनिवृत्ति के कारण और लक्षण संबंधी जानकारी।

रजोनिवृत्ति के लक्षणों से निपटने के लिए कुछ महिलाओं में किसी प्रकार के उपाय या उपचार की जरुरत नहीं पड़ती हैं। कुछ महिलाओं में यह लक्षण बिना कोई तकलीफ के अपने आप ठीक हो जाते है परन्तु कई महिलाओं में यह लक्षण शारीरिक और मानसिक रूप से इतने पीड़ादायक होते है की उनके लिए योग्य उपाय और उपचार करना जरुरी होता हैं।

Treatment-and-remedies-for-menopausal-symptoms-in-Hindi
रजोनिवृत्ति / Menopause के लक्षण और समस्या से बचने का उपचार और उपाय क्या हैं ?
Treatment and remedies for Menopausal Symptoms

रजोनिवृत्ति के उपचार और घरेलु उपाय संबंधी जानकारी निचे दी गयी हैं :
  • हॉर्मोन उपचार / Menopausal Hormone Therapy : कुछ महिलाओं में रजोनिवृत्ति के दरम्यान होने वाले हार्मोनल बदलाव के कारण समस्या इतनी गंभीर हो जाती है की उन्हें डॉक्टर से ईलाज की जरुरत पड़ जाती हैं। डॉक्टर महिलाओं के समस्या के गंभीरता अनुसार हार्मोनल दवा देकर Menopausal Hormone Therapy देते हैं। इस थेरेपी के कई दुष्परिणाम होने के कारण अधिक आवश्यकता पड़ने पर ही यह लेनी चाहिए और अल्प काल तक ही लेनी चाहिए। हार्मोनल थेरेपी की जगह अपने जीवन जीने के तरीके में योग्य बदलाव लाकर महिलाएं रजोनिवृत्ति के लक्षणों से निपट सकती हैं।   
  • गर्म पसीने आना / Hot Flashes : रजोनिवृत्ति के बाद गर्म पसीने आने की समस्या आने पर निचे दिए हुए उपाय करे। 
  1. पता लगाये की आपको किन चीजो से गर्म पसीने आने की तकलीफ होती हैं। 
  2. अधिक तीखा, तला हुआ आहार, तनाव, शराब, चाय, कॉफ़ी, तंग कपडे, गर्म स्थान और सिगरेट पीना जैसे उत्तेजना निर्माण करनेवाले चीजो से परहेज करे। 
  3. अगर आपका वजन ज्यादा है तो वजन कम करने का प्रयास करे। 
  4. हमेशा ठंडी जगह पर काम करे या काम करने की जगह आवश्यकता अनुसार पंखा या AC का उपयोग करे। 
  5. गर्म पसीने आनेपर शांत बैठकर लंबी और गहरी साँसे लेना चाहिए। 
  6. अपने आहार में सोयाबीन से बने पदार्थ का समावेश करे। 
  • नींद की कमी / Difficulty in Sleeping (Insomnia) : रजोनिवृत्ति के कारण नींद की कमी आनेपर  उपाय योजना करना चाहिए।  
  1. नींद की गोली लेना कम / बंद करे।
  2. रात के समय चाय / कॉफ़ी जैसे कैफीन युक्त पदार्थ और शराब नहीं लेना चाहिए। 
  3. अपना कमरा ठंडा रखे और हलके कपडे पहने। 
  4. रोज नियत समय पर सोये और जागे।  
  5. रात को देरी से खाने और भारी खाने से परहेज करे। 
  • यौन समस्या / Sexual Problems : रजोनिवृत्ति के कारण होनेवाली यौन समस्या से निपटने के लिए निचे दिए हुए उपाय योजना करे। 
  1. रजोनिवृत्ति के बाद योनि की शुष्कता के कारण पीड़ादायक संभोग की समस्या होती हैं। महिलाये डॉक्टरी सलाह अनुसार घाव कम करने के लिए एस्ट्रोजन क्रीम, यौनइच्छा बढ़ाने के लिए टेस्टोस्टेरोन क्रीम और योनि की शुष्कता दूर करने के लिए चिकनाई क्रीम का इस्तेमाल कर सकते हैं। 
  2. सूती अंतर्वस्त्रों का उपयोग करे। 
  3. पेल्विक फ्लोर कसरत करे। पेशाब करते समय पेशाब को बीच में ही 2 सेकंड तक रोकना और छोड़ने की प्रक्रिया को पेल्विक फ्लोर कसरत कहते हैं। 
  4. अपने पति के साथ आपके शारीरिक और मानसिक बदलाव के बारे में चर्चा करे। 
  • बालों और त्वचा का रूखापन / Dry Skin and Hair : रजोनिवृत्ति के कारण त्वचा और बालों में रूखापन आ जाता हैं। इनसे निपटने के लिए निचे दी हुई उपाय योजना करे। 
  1. त्वचा अधिक शुष्क होने पर डॉक्टर की सलाह अनुसार दिन में दो बार अल्कोहल फ्री मॉइस्चराइजर / लोशन का इस्तेमाल करे। 
  2. बालों को धोते समय कंडीशनर का इस्तेमाल करे। 
  3. धुप से बचे। Cap या टोपी का इस्तेमाल करे। सूर्यकिरणों से बचने के लिए 15 SPF सनस्क्रीन का इस्तेमाल करे। 
  4. अधिक केमिकल युक्त सौंदर्य प्रसाधन का उपयोग करने की जगह डॉक्टर की सलाह लेकर हर्बल चीजो का उपयोग करे। 
  • मानसिक परेशानी / Mental Problems : रजोनिवृत्ति के कारण महिलाओं को तनाव, चिंता, चिड़चिड़ापन, कम स्मरणशक्ति और बैचेनी जैसे मानिसक परेशानी से गुजरना पड़ता हैं। इन लक्षणों को कम करने के लिए निचे दी हुई उपाय योजना करे। 
  1. तनाव मुक्त रहे। सकारात्मक सोच रखे। 
  2. अपने मानसिक बदलाव के बार में अपने डॉक्टर और साथी से चर्चा करे। 
  3. उन कार्यों में सहभाग ले जिन्हे करने से आपको आनंद प्राप्त होता हैं। 
  4. योग और प्राणायाम का नियमित अभ्यास करे। नियमित रूप से व्यायाम करे। 
  5. एक समय पर एक ही कार्य पर ध्यान केंद्रित करे। 
  • आहार / Diet : रजोनिवृत्ति के समय होनेवाले हार्मोनल बदलाव के कारण महिलाओं में कमजोरी आ जाती है इसलिए पौष्टिक समतोल आहार लेना बेहद जरुरी होता हैं। 
  1. विभिन्न प्रकार की सब्जियां, फल और साबुत अनाज का अपने आहार में समावेश करे। 
  2. प्रोटीन युक्त आहार अधिक लेना चाहिए। 
  3. इस समय महिलाओं में कैल्शियम की कमी अधिक होती है इसलिए सुबह-शाम एक ग्लास दूध पीना चाहिए। 
  4. शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी मिलने के लिए सुबह 8 बजे के पहले 15 से 20 मिनिट तक सूर्यकिरणों की आवश्यकता होती हैं। 
  5. अपने आहार में नमक, चीनी और चर्बी युक्त आहार का प्रमाण कम करे। 
  6. रोजाना 8 से 10 ग्लास पानी अवश्य पीना चाहिए। 
ऊपर दिए हुए सुझावों का पालन कर महिलाए रजोनिवृत्ति के समय होनेवाले परेशानी को काफी हद तक कम कर सकती हैं। महिलाओं ने रजोनिवृत्ति के कारण अधिक परेशानी होने पर उसे छुपाने की जगह अपने पति से चर्चा कर डॉक्टर की सहायता अवश्य लेनी चाहिए। आप थोड़ी सी सावधानी और उपाय कर अपने जीवन का यह नया दौर ख़ुशी-ख़ुशी बिता सकते हैं।

Image courtesy of stockimages at FreeDigitalPhotos.net
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook, Whatsapp या Tweeter account पर share जरुर करे !
loading...
Labels:

Post a Comment

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.