हमारे शरीर के आस पास हर समय करोडो Bacteria और Virus मौजूद होते है। हमारे शरीर कि रोग प्रतिकार शक्ति / Immune System इन खतरनाक  Bacteria और Virus से हमारे शरीर कि रक्षण करती है। आपने देखा होंगा कि, समान परिस्थिति में भी कुछ व्यक्ति अक्सर जल्दी बीमार हो जाते है तो कुछ व्यक्ति अच्छी रोग प्रतिकार शक्ति होने की वजह से लम्बे समय तक बीमार नहीं होते है।

हमारे शरीर कि रोग प्रतिकार शक्ति कई चीजो पर निर्भर करती है जैसे कि हमारा खान-पान और हमारी जीवनशैली। शरीर को स्वस्थ और रोग मुक्त बनाने के लिए अच्छी सशक्त रोग प्रतिकार शक्ति होना बेहद आवश्यक है। हमारे शरीर कि रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ाने के कुछ उपाय निचे दिए गए है :

How-to-Boost-our-Immune-System-In-Hindi

आहार (Diet)

हमारे शरीर के साथ साथ हमारे शरीर के रोग प्रतिकार शक्ति के लड़ाकू  Fighter T Cells और Macrophages को भी नियमित पौष्टिक समतोल आहार कि आवश्यकता होती है। आपने देखा होंगे कि, समतोल आहार लेने वाले बच्चो कि तुलना में कुपोषित बच्चे जल्दी बीमार पड़ जाते है। शरीर कि रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ाने के लिए Zinc, Iron, Selenium, Copper, Folic acid और Vitamin A, B6, C, E जैसे Micro-nutrients और Anti-Oxidants कि जरुरत होती है।
  • समतोल आहार / Balanced Diet : रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ने के लिए नियमित समतोल आहार लेना आवश्यक है। आहार में ज्यादा प्रमाण में पौष्टिक फल, सब्जी और Protein युक्त चीजो का समावेश करे और वसायुक्त चीजे कम रखे।
  • Food Pyramid : आहार में कौन सी चीज कितनी मात्रा में लेना चाहिए यह जानने के लिए Food Pyramid कि सहायता ले। Food Pyramid के बारे में जानने के लिए पढ़े :  Food Pyramid   
  • Anti-Oxidants : शरीर कि रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ाने के लिए योग्य प्रमाण में Anti-Oxidants लेना जरुरी है। Anti-Oxidants हमारे शरीर के ख़राब पेशी को ठीक करते है और बुढ़ापे को दूर भगाते है। आप निचे दिए हुए आहार लेकर या अपने डॉक्टर कि सलाह अनुसार Anti-Oxidants और Vitamin युक्त दवा ले सकते है।    
  1. Beta Carotene - यह खुबानी (Apricot), हरी फूलगोभी (Broccoli), चुकंदर (Beet), पालक (Spinach), टमाटर (Tomatoes), मका (Corn) और गाजर (Carrots) में पाया जाता है। 
  2. Selenium - यह जौ (Oats), प्याज (Onions), सूर्यमुखी फूल के बिज (Sunflower seeds), कुकरमुत्ता (Mushroom), भूरे चावल (Brown Rice), अंडा (Eggs), मछली (Fish) और मटन (Meat) में पाया जाता है। यह कई प्रकार के Cancer से शरीर को बचाने में मदद करता है। 
  3. Vitamin A - यह शक्कर कंद (Sweet Potato), गाजर (Carrots),  खुबानी (Apricot), हरी सब्जिया (Green Vegetables), लाल मिर्च (Red Pepper), Cantaloupe (खरबूजा) में अधिक पाया जाता है।   
  4. Vitamin B2 -  यह पालक (Spinach), बदाम (Almonds), सोयाबीन (Soyabeans), कुकरमुत्ता (Mushroom), गाय का दूध (Cow's Milk)  में पाया जाता है। 
  5. Vitamin B6 - यह पालक (Spinach), केला (Banana), आलू (Potato),  सूर्यमुखी फूल के बिज (Sunflower seeds) में पाया जाता है। 
  6. Vitamin C - यह संत्रा (Oranges), टमाटर (Tomatoes), पपीता (Papaya), स्ट्रॉबेरी (Strawberry), पत्तागोभी (Cauliflower) में पाया जाता है। 
  7. Vitamin E - यह  गाजर (Carrots), पपीता (Papaya),  पालक (Spinach), सूर्यमुखी फूल के बिज (Sunflower seeds), बदाम (Almonds) में पाया जाता है। 
  8. Vitamin D - यह दूध (Milk),  कुकरमुत्ता (Mushroom), अंडा (Eggs), सामन (Salmon), सार्डिन मछली (Sardines) में पाया जाता है। 
  9. Zinc - यह लौकी के बिज (Pumpkin seeds), तिल (Sesame seeds),  जौ (Oats), दही (Yogurt), झींगा (Shrimp),  शुक्ति (Oysters), मटन (Meat) में पाया जाता है।    
  • पानी / Water - दिन भर में कम से कम 8 ग्लास पानी लेना चाहिए। योग्य प्रमाण में पानी पिने से शरीर को बल प्राप्त होता है और पाचन ठीक से होता है। पानी शरीर के अनावश्यक पदार्थो को शरीर से बाहर निकलता है। 
  • सफाई / Hygiene - खाना बनाते समय और खाना खाते समय सफाई का विशेष ख्याल रखे। बाहर का चटपटा खाने कि जगह पर घर के स्वच्छ और स्वादिष्ट खाने को प्राथमिकता देना चाहिए। अस्वच्छ और बासी खाना खाने से कई अनचाही पाचन से जुडी बीमारी हो सकती है जो कि आपके रोग प्रतिकार शक्ति को कमजोर कर देती है। 
  • जड़ी बूटी / Herbs - अपनी रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ाने के लिए आप कुछ प्रख्यात जड़ी बूटियों का भी उपयोग कर सकते है जैसे कि गुडूची सत्व, अश्वगंधा चूर्ण, लहसुन, अदरक, जिनसेंग, हल्दी इत्यादि। अभी सर्दी का मौसम है और यह मौसम रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ने के लिए सबसे उत्तम समय है। इस मौसम में आप नियमित व्यायाम और साथ में रोज सुबह और रात में गरम दूध के साथ १ चमच्च च्यवनप्राश लेकर अपनी रोग प्रतिकार शक्ति को बल दे सकते है। 

दिनचर्या / Lifestyle 

रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ने के लिए आहार के साथ साथ हमारे दिनचर्या में बदलाव करना भी जरुरी है। अगर हम अपनी कुछ बुरी आदते बदल दे तो, कुछ बीमारियो से बच सकते है और अपनी रोग प्रतिकार शक्ति भी बढ़ा सकते है।
  • तनावमुक्त रहे / Stress Management  - कोशिश करे कि आप भय, क्रोध, चिंता और तनाव इन शरीर के मानसिक शत्रुओ से दूर रहे। जब हम तनावग्रस्त रहते है तब हमारे शरीर में Cortisol Hormone का ज्यादा मात्रा में निर्माण होता है। इस Hormone के कारण मोटापा, हृदयरोग, कर्करोग जैसी कई समस्या पैदा हो सकती है। आप तनावमुक्त रहने के लिए योगा, प्राणायाम, ध्यान या अपना पसंदीदा काम कर सकते है। ज्यादा तनाव होने पर किसी मनोचिकित्सक कि सलाह लेना चाहिए। 
  • व्यायाम करे / Exercise - शोध से यह पता चला है कि जो लोग सप्ताह में 5 दिन नियमित 30 से 40 मिनिट तक व्यायाम करते है, वह लोग अन्य लोगो कि तुलना में 50 से 60 % कम बीमार पड़ते है। नियमित व्यायाम करने से आपका वजन भी नियंत्रित रहता है और रोग प्रतिकार शक्ति भी बढती है। नियमित व्यायाम असल में एक स्वस्थ जीवन कि कुंजी है। 
  • वजन नियंत्रण / Weight Control - आज के युग में मोटापे कि समस्या एक महामारी कि तरह फ़ैल रही है। मोटापा अपने साथ कई गम्भीर बीमारियो को आमंत्रण देता है। अपनी रोगप्रतिकार शक्ति बढ़ाने के लिए और स्वस्थ रहने के लिए वजन को काबू में रखना बेहद जरुरी है। वजन नियंत्रण के बारे में अधिक जानकारी के लिए पढ़े : Weight Management  
  • नींद / Sleep - दिन भर काम करने के बाद आपके मन और शरीर के लिए रोजाना 7 से 8 घंटे कि नींद जरुरी है। जो लोग अपने मन और शरीर को पर्याप्त आराम देते है वे अधिक कार्यक्षम और निरोगी रहते है।     
  • बुरी आदते छोड़े / Stop Bad Habits - स्वस्थ और निरोगी शरीर के लिए शराब, धूम्रपान, गुटखा और तंबाखू सेवन इत्यादि बुरी आदतो का त्याग करे। इन आदतो से आपको कुछ क्षण के लिए सुख कि अनुभूति होती होंगी पर आपके सेहत और आपके परिवार के लिए यह आदते किसी जहर से कम नहीं है। जिन लोगो को ऐसी बुरी आदते होती है वह जल्दी बीमार होते है और इन्हे होनेवाली बीमारी सामान्य व्यक्ति को होनेवाली बीमारी से गम्भीर होती है।  
  • स्वच्छता रखे / Be Hygienic - अपने शरीर के साथ-साथ अपने आस-पास के माहौल को स्वच्छ रखे। केवल स्वच्छता रखने से ही, आप लगभग 50 % बीमारियो को दूर भगा सकते है। खुद स्वच्छ रहे और बाकि लोगो को भी स्वच्छता रखने के लिए प्रेरित करे, जिससे आप बाकि लोगो से होनेवाली बीमारियो से बच सके। 
  1. रोजाना स्नान करे 
  2. दिन में दो बार दात साफ करे 
  3. हमेशा अच्छे से हाथ साफ करे     
  4. अगर आप कही बाहर जाते है या सफ़र कर रहे है तो Antibacterial Hand Sanitizer साथ रखे 
  5. हफ्ते दो बार shampoo करे 
  6. घर / ऑफिस कि सफाई के ओर विशेष ध्यान रखे 
  • स्वास्थ्य परिक्षण / Health checkup - अपने डॉकटर से नियमित स्वस्थ्य परिक्षण कराते रहे। किसी भी बीमारी या बीमारी के लक्षण को नजरअंदाज न करे। उचित समय पर बीमारी बढ़ने से पहले डॉक्टर कि सलाह अनुसार इलाज शुरू कर दे। अपने बच्चो को उम्र अनुसार सारे टिके / Vaccination लगवाए। डॉक्टर के सलाह बिना कोई दवा न ले। अपने डॉकटर से आपके स्वास्थ के इतिहास / Medical History के हिसाब से रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ाने के लिए उपयुक्त आहार, व्यायाम और दवा के बारे में सलाह ले। बेवजह छोटी समस्या के लिए बिना सलाह कोई दवा न ले।     
ऊपर दिए गए आहार, दिनचर्या और व्यायाम संबंधी सलाह का अनुकरण कर आप अपनी रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ा सकते है और साथ ही निरोगी स्वस्थ जीवन का आनंद उठा सकते है।

अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook या Tweeter account पर share करे !

आपसे अनुरोध है कि आप आपने सुझाव, प्रतिक्रिया या स्वास्थ्य संबंधित प्रश्न निचे Comment Box में या Contact Us में लिख सकते है !

loading...
Labels:

Post a Comment

  1. बहुत ही उपयोगी पोस्ट ! हाथ साफ़ रखने से और संतुलित आहार लेने से बहुत सी बीमारियों को स्वतः ही दूर किया जा सकता है !

    ReplyDelete
  2. this is very useful article for health

    ReplyDelete
  3. Sir main TB ka ilaz kara rha hoon . 2 weeks se . kya main iske medicine k sath apni rog pratirodhak chhmta bdhane k liye chyayanprash le skta hoon .

    ReplyDelete
  4. Since last 6-7 days I am feeling Temp.98-99 (about), Head (little Heavy), Cough.
    I took Paracetamol for Fever & Phenergan for Cough, but No Relief. Phenergan I am using Continues 2-teaspoon + 2-time/per day & Paracetamol 1-tab + 2-times/per day for 3days.

    fever controls when took Pills, after that it resumes. Cough is Continue.

    Plz. Suggest & Help me.

    Thank you,

    A. K. A.

    ReplyDelete
    Replies
    1. कृपया डॉक्टर को दिखाकर अपनी ब्लड टेस्ट कराये ताकिन बीमारी का निदान होकर सही उपचार शुरू हो सके. ऐसे दवा लेना ठीक नहीं

      Delete

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.