रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय
Home रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय

एलोवेरा के 7 फायदे और नुक्सान

By Dr Paritosh Trivedi On, Tuesday, July 10, 2018


एलोवेरा को आयुर्वेद में घृतकुमारी भी कहा जाता हैं। एलोवेरा के प्रसिद्ध आयुर्वेदिक औषधि हैं। इसके पत्तों के जेल में Vitamin A, B1, B3, B6, B12, E और Folic acid जैसे कई महत्वपूर्ण तत्व पाए जाते हैं। इसके साथ ही इसके रस / Juice में Iron, Sodium, Calcium, Zinc और Magnesium जैसे खनिज तत्व भी होते हैं। एलोवेरा के उपयोग से शरीर को अंधरुनि और बाहरी दोनों लाभ होते हैं।

आजकल योग गुरु बाबा रामदेव जी के योग और आयुर्वेद के प्रचार के कारण एलोवेरा जूस का उपयोग लाखों लोग कर रहे हैं। एलोवेरा जूस या जेल के उपयोग करने से पहले आपको इसके फायदे और नुकसान की जानकारी होना आवश्यक हो जाता हैं। एलोवेरा का इस्तेमाल करते समय क्या सावधानी बरतना चाहिए इसकी जानकारी भी आपको होना जरुरी हैं।

एलोवेरा जूस के फायदे और नुकसान से जुडी जानकारी नीचे दी गयी हैं :

aloe-vera-side-effects-health-benefits-in-hindi

एलोवेरा के 7 फायदे और नुक्सान 

Aloe Vera health benefits and side effects in Hindi


1. एलोवेरा रखता है त्वचा को जवान


इजिप्त में एलोवेरा को Plant of Immortality कहा जाता हैं, मतलब एक ऐसा पौधा जो आपको अमर कर सकता हैं। अगर आप हमेशा जवान रहना चाहते है तो एलोवेरा आपके लिए यह काम कर सकता हैं। एक चमच्च एलोवेरा जेल, आधा चमच्च जैतून का तेल और एक चमच्च दलिया (Oat meal) का मिश्रण कर इसका paste आधा घंटे तक चेहरे पर लगाए रखे। इससे आपको त्वचा कोमल, गोरी और जवान बनी रहेगी। प्रेगनेंसी के बाद Stretch Marks हटाने के लिए भी आप इसका उपयोग कर सकते हैं।

2. एलोवेरा से बढ़ती है रोग प्रतिरोधक शक्ति (Immunity)


एलोवेरा के रस में Immuno booster गुण होते हैं। रोजाना एक ग्लास एलोवेरा का ताजा स्वच्छ जूस पीने से शरीर में Fighter cells में इजाफा होता हैं की रोग प्रतिरोधक शक्ति को बढ़ाता हैं। बच्चों और बुजुर्गों को खासकर यह अवश्य पीना चाहिए। एड्स के रोगी भी इसे पीकर अपना स्वास्थ में लाभ पा सकते हैं। सीधे एलोवेरा जेल की मालिश करने से भी आपके हाथ पैर की त्वचा मुलायम बनी रहती हैं। एलोवेरा जेल में थोड़ा निम्बू का रस मिलाकर चेहरे पर लगाने से मुंहासों के दाग धब्बे भी कम हो जाते है।

अवश्य पढ़े : अजवाईन का पानी पिने के फायदे और नुक्सान

3. एलोवेरा रखता है दिल तंदुरुस्त


आजकल देखने में आ रहा है की 30 साल के कम उम्र के युवा व्यक्ति को भी दिल की बीमारी हो रही है और हार्ट अटैक हो रहा हैं। इसका एक प्रमुख कारण है मोटापा और कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ना। रोजाना सुबह 20 से 30 ml शुद्ध और ताजा एलोवेरा जूस पिने से weight loss होता है और साथ ही Cholesterol की मात्रा भी नियंत्रण में रहती हैं।

4. एलोवेरा से दूर होती है पेट की गड़बड़


अगर आपको पेट फूलना, कब्ज, गैस या अपचन से जुडी समस्या है तो आपको एलोवेरा का लाभ अवश्य लेना चाहिए। पाचन से जुडी समस्या में आप 20 से 30 ml एलोवेरा जूस में आधा चमच्च शहद और 4 से 5 बून्द निम्बू का रस मिलाकर सुबह पिए तो पाचन संबंधी समस्या से राहत मिलेंगी।

जरूर पढ़े : बच्चों और बड़ों की भूख बढ़ाने के घरेलु आयुर्वेदिक उपाय

5. एलोवेरा दूर करता है जोड़ों का दर्द


आज कल कई लोग जोड़ों के दर्द और जकड़न की समस्या से परेशान हो रहे हैं। इससे दर्द के सतह चलने फिरने में भी तकलीफ होती हैं। ऐसे में आप एलोवेरा का इस्तेमाल कर राहत पा सकते हैं। एलोवेरा के बीचमे से काटकर इसमें हल्दी भरकर पहले इसे हल्का गर्म करे। अब इसे जोड़ों पर लगाकर पट्टी बांध लीजिये। इसके साथ ही सुबह - शाम 15 से 25 ml एलोवेरा का शुद्ध और ताजा जूस पिए। एलोवेरा के इस प्रयोग से कई लोगों को जोड़ों के दर्द में आराम मिला हैं।


6. एलोवेरा से करे बालों की देखभाल 


आजकल काम आयु में ही लोगों के बाल पकने और झड़ने शुरू हो गए हैं। एलोवेरा का नियमित इस्तेमाल कर आप Hair loss और सफ़ेद बालों की परेशानी को दूर कर सकते हैं। 2 चमच्च एलोवेरा जेल और 1 चमच्च अरंडी का तेल को मिलाकर इसके मिश्रण से रात में सिर की मालिश करे। सुबह गुनगुने गर्म पानी से बालों को शैम्पू करे। ऐसा सप्ताह में 2 बार करने से 3 महीने में ही आपको लाभ होना शुरू हो जायेगा। इससे डैंड्रफ की समस्या से भी छुटकारा मिलता हैं।

अवश्य पढ़े : गिलोय के 10 चमत्कारिक फायदे

7. एलोवेरा से करे दातों की सुरक्षा 


एलोवेरा में प्रचुर मात्रा में विटामिन होने के साथ-साथ इसमें जीवाणु से लड़ने की शक्ति भी होती हैं। दांत में दर्द, सड़न, खून निकलना या मुंह की बदबू आदि दूर करने के लिए एलोवेरा का उपयोग किया जा सकता हैं। एलोवेरा जेल से दातों और मसूड़ों की मालिश करने से लाभ होता हैं। टूथ पेस्ट की जगह एलोवेरा पाउडर ब्रश पर डालकर दांत को साफ करने से भी फायदा होता हैं। एलोवेरा जूस से कुल्ला / Gargling करने से मुंह की बदबू दूर होती हैं और दांत साफ़ और सफ़ेद रहते हैं।


एलोवेरा के नुकसान क्या हैं ? Aloe vera side effects in Hindi


एलोवेरा एक बहुउपयोगी आयुर्वेदिक औषधि द्रव्य है पर इसका इस्तेमाल भी हमें सोच समझकर शै मात्रा में और डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए अन्यथा शरीर को फायदा होने की जगह आपको एलोवेरा लेने से नुक्सान भी हो सकता हैं। एलोवेरा से क्या नुकसान हो सकता है और हमें एलोवेरा का उपयोग करते समय किस बात का ख्याल रखना चाहिए इसकी जानकारी नीचे दी गयी हैं :

  1. गर्भावस्था / Pregnancy : गर्भावस्था में महिलाओं को एलोवेरा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। एलोवेरा जूस पिने से गर्भाशय संकोचन होने का खतरा रहता है इसलिए प्रेगनेंसी के समय एलोवेरा का जूस नहीं पीना चाहिए। 
  2. स्तनपान / Breast feeding : स्तनपान करानेवाली महिलाओं ने भी एलोवेरा जूस नहीं पीना चाहिए। एलोवेरा के रस में एक केमिकल तत्व अन्थ्रोकविनोन होता है जिससे दस्त लगने का खतरा रहता हैं। 
  3. बच्चे / Kids : 12 वर्ष से कम आयु के बच्चों से एलोवेरा का जूस नहीं पीना चाहिए। अधिक मात्रा में एलोवेरा जूस पीने से पेट दर्द और दस्त लगने का खतरा रहता हैं। 
  4. ह्रदय रोग / Heart disease : ऐसे तो अगर मात्रा में एलोवेरा जूस ले तो आपका ह्रदय स्वस्थ रहता है पर अगर आप इसे अधिक मात्रा में और अधिक समय तक पिए तो शरीर में एड्रेनालिन का स्तर बढ़ जाता है और पोटैशियम की मात्रा कम हो सकती है जिससे ह्रदय में खराबी आ सकती हैं। 


एलोवेरा एक आयुर्वेदिक औषधि है इसके लिए इसका उपयोग डॉक्टर की सलाह से अपने शरीर के हिसाब से योग्य मात्रा में और योग्य समय के लिए ही लेना चाहिए अधिक मात्रा में और अधिक समय तक लेने से एलोवेरा के ऊपर दिए हुए दुष्परिणाम भी हो सकते हैं।

अगर आपको यह एलोवेरा के फायदे और नुक्सान से जुडी जानकारी उपयोगी लगी है तो कृपया इसे शेयर अवश्य करे !
loading...

No comments:

Post a Comment