रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय
Home रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय

एड्स के शुरूआती लक्षण क्या हैं ? | Early Symptoms of HIV AIDS in Hindi

By Dr Paritosh Trivedi On, Wednesday, January 17, 2018


AIDS जिसका full form या Meaning होता हैं Acquired Immuno Deficiency Syndrome यानि एक ऐसा रोग जिसमे HIV Virus के संक्रमण के कारण आप के शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति (Immunity) पूरी तरह से नष्ट हो जाती हैं। AIDS के कारण, लक्षण, उपचार, निदान और बचने के उपाय की जानकारी हम पहले ही इस ब्लॉग पर प्रकाशित कर चुके है और उस लेख को अभी तक भारत में 50 लाख से ज्यादा लोग पढ़ चुके हैं।

अगर अपने अभी तक वह लेख नहीं पढ़ा है तो पहले वह लेख यहाँ क्लिक कर अवश्य पढ़े - HIV AIDS की पूरी जानकारी।

हमें ईमेल, कमेंट, Whatsapp मैसेज और फेसबुक पेज पर कई लोगों ने AIDS के शुरूआती लक्षण क्या होते है इससे जुड़े कई सवाल पूछे है और इसलिए आज इस लेख में हम आपको AIDS के कुछ ऐसे early symptoms और sign की जानकारी देने वाले है जिनसे आप AIDS के खतरे को पहले ही पहचान पाएंगे।

HIV AIDS के कुछ ऐसे ही लक्षण की जानकारी निचे दी गयी हैं :


Early Symptoms of HIV AIDS in Hindi | एड्स के लक्षण क्या हैं ?

शरीर में HIV virus का संक्रमण होने पर पहले 1 से 2 महीने के भीतर ज्यादातर मरीजों में AIDS के कुछ लक्षण दिखाई देना शुरू हो जाता हैं। शरीर में वायरस का संक्रमण होने पर हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति यानि Immunity उस HIV वायरस से लड़ता है और शरीर में सर्दी-जुखाम के सामान्य लक्षण निर्माण होते हैं।

इस स्तिथि को Sero-conversion Period कहा जाता हैं। इस दौरान शरीर में Virus का प्रमाण अधिक होता है और पीड़ित व्यक्ति से शारीरिक संबंध बनाने से अन्य व्यक्ति को एड्स होने का खतरा रहता हैं।
  1. बुखार : HIV virus शरीर में प्रवेश कर तेजी से अपनी संख्या बढ़ाने लगता हैं और हमारी रोग प्रतिरोधक शक्ति इसका सामना करती है जिसकी वजह से बुखार, कमजोरी, जुखाम, बदनदर्द और ग्रन्थियो में सुजन जैसे लक्षण निर्माण होते हैं। 
  2. कमजोरी : पीड़ित व्यक्ति खुद को कमजोर महसूस करता हैं। बुखार और भूक की कमी की वजह से कमजोरी अधिक बढ़ जाती हैं। थोडा सा काम करने पर भी जल्द थकान का अनुभव होता हैं। 
  3. सिरदर्द : शरीर में रोग प्रतिकार शक्ति HIV वायरस का सामना करती है और उस कारण शरीर में कमजोरी, थकान के साथ सिरदर्द की समस्या भी बढ़ जाती हैं। सिरदर्द की समस्या सुबह के मुकाबले दोपहर और शाम को अधिक रहती हैं। 
  4. ग्रंथि में सुजन : Lymph nodes हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक शक्ति का हिस्सा है और जब कभी भी शरीर में कोई विशेष संक्रमण होता है तब इसमें सुजन आ जाती हैं। Lymph node में swelling आना यह HIV वायरस संक्रमण का विशेष लक्षण हैं। 
  5. वजन कम होना : अगर आपका वजन बिना किसी खास कारण से अपने आप तेजी से कम होने लगा है तो यह अच्छा संकेत नहीं है। 
  6. त्वचा पर चकत्ते : कई लोगों को त्वचा पर लाल रंग के चकत्ते (rashes) हो जाते हैं। यह भी एक AIDS का लक्षण हैं। 
  7. बार-बार बीमार पड़ना : अगर आपको बार-बार बुखार आना, जुलाब लगना, सर्दी-जुखाम या खांसी होना जैसे लक्षण दिखाई दे रहे है तो यह आपकी रोग प्रतिरोधक शक्ति कमजोर होने का संकेत हैं। इसका मतलब यह है की HIV के virus आपके शरीर में फ़ैल रहा है और आपकी Immunity को कमजोर कर रहा हैं। 
इन लक्षणों के अलावा जी मचलाना, उलटी होना, तनाव और जोड़ों में दर्द ये कुछ शुरुआती लक्षण है जो HIV virus के संक्रमण होने पर शुरुआती 1 से 2 महीनों में नजर आते हैं। यह AIDS की पहली स्टेज है जिसे Acute Retroviral Syndrome कहा जाता हैं। यह लक्षण नजर आने पर आपको डॉक्टर से संपर्क कर एड्स की जांच करा लेना चाहिए। 

HIV AIDS से जुड़े सवालों के जवाब यहाँ पढ़े - HIV AIDS से जुड़े आपके सवालों के जवाब 

अगर आपको यह Early Symptoms of HIV AIDS in Hindi की जानकारी महत्वपूर्ण लगती है तो कृपया इसे share अवश्य करे !
loading...

No comments:

Post a Comment