भारत में मधुमेह / Diabetes के रोगियों की संख्या दिन बी दिन बढ़ती जा रही हैं। ऐसे लाखों डायबिटीज के मरीज है जिन्हे अपनी blood sugar को नियंत्रण में रखने के लिए Insulin के injection का सहारा लेना पड़ रहा हैं। डायबिटीज के मरीजों को Insulin के injection दिन में 2 से 3 बार लेने पड़ते है और इसलिए यह इंजेक्शन कैसे लेना है इसकी सम्पूर्ण जानकारी मरीज को होना बेहद जरुरी हैं।

डायबिटीज के मरीजों ने Insulin का इंजेक्शन कैसे लेना चाहिए इसकी अधिक जानकारी निचे दी गयी हैं :

Insulin का injection कहा देना चाहिए ?

यह आप पर निर्भर करता है की आप यह इंजेक्शन कहा लेना चाहते हैं, लेकिन जरुरी है की आप यह इंजेक्शन ऐसी जगह ले जहाँ पर चर्बी मौजूद हों। आपको Insulin का injection चमड़ी के निचे Fat layer में (Sub Cutaneous) देना होता हैं। अगर आप यह इंजेक्शन गलती से muscles में देते है तो इसका absorption आवश्यकता से जल्दी हो जाता हैं।

आप Insulin का injection निचे दिए हुए स्थानो पर दे सकते हैं : (चित्र देखे)

how to give insulin injection in hindi
  1. पेट पर - नाभि के आस-पास का इलाका छोड़कर 
  2. हाथ का ऊपरी और बाहरी हिस्सा 
  3. कूल्हे / नितम्ब / Buttocks / Hips 
  4. जांघ (Thighs) का सामने वाला और बगल वाला भाग 
Insulin का injection देते समय निचे दी हुई बातों का ख्याल रखे :
  • Insulin का injection देने की जगह हर समय बदलते रहना चाहिए। 
  • एक ही जगह पर बार-बार इंजेक्शन देने से उस जगह पर सूजन, गाँठ या चमड़ी मोटी होने का खतरा अधिक रहता हैं। 
  • ऐसी जगह Insulin का injection नहीं देना चाहिए जहा की त्वचा का रंग बदल गया हैं। 
Insulin का injection कैसे देना चाहिए ?

how to give insulin injection in hindi
Insulin का injection देते समय सबसे पहले उपयोग में ली जानेवाली सभी सामग्री को एकत्रित करना चाहिए, जैसे की - Insulin की बोतल, Insulin सिरिंज, रुई (Cotton), अल्कोहल (Medicated Spirit) इत्यादि। 
  1. सबसे पहले अपने इन्सुलिन का नाम ठीक से देख ले की यह बराबर है या नहीं। तुरंत और कम समय तक सक्रीय रहनेवाला (Fast & Short acting) इन्सुलिन पानी की तरह साफ़ रहता है और उसमे कोई कण (Particles) नहीं  रहता हैं। अगर बोतल में कोई कण मौजूद हो तो वह इस्तेमाल न करे। उपयोग करने से पहले Insulin के injection की expiry date अवश्य जांचना चाहिए। 
  2. अगर आप रेफ्रिजरेटर से निकाल कर Insulin का injection ले रहे है तो थोड़ी देर रूककर उसे Room temperature पर आने के बाद इस्तेमाल करे। 
  3. Insulin के injection को मिक्स करने के लिए उसे जोर से shake करने की जगह अपने दोनों हाथों के तलवो में Insulin के injection की बोतल को रखकर धीरे-धीरे घुमाना (roll) चाहिए। 
  4. ध्यान रहे की कोई भी इंजेक्शन देने से पहले आपने अपने हाथ साबुन से अच्छे से धोकर साफ़ अवश्य करना चाहिए। 
  5. अब Insulin की बोतल का ढक्कन (Cap) को हटा दे। बोतल के ऊपरी हिस्से को अल्कोहल में भिगोई हुई रुई से साफ़ करले और उसे सूखने दे। 
  6. अब Insulin के सिरिंज / सुई का ढक्कन हो हटा दे और उसमे आपको जितने मात्रा / unit Insulin लेना है उतनी मात्रा तक हवा भर ले। 
  7. अब इस Insulin के सुई को बोतल में लगाकर सारी हवा बोतल में भर दीजिये। ऐसा करने से बोतल में उतना ही दबाव बनेगा जितने मात्रा में हमें Insulin की आवश्यकता होती हैं। 
  8. अब सुई को बोतल में रखते हुए बोतल को उल्टा करे और जितनी unit आवश्यकता है उससे थोड़ी सी अधिक मात्रा syringe में भरे। 
  9. अब syringe की सुई बोतल से निकाल कर उसपर ढक्कन लगाकर निचे रखे। 
  10. Syringe अगर कोई हवा का गुब्बारा / bubble है तो उसे निकाल दे। 
  11. आपको जिस जगह Insulin देना है वह जगह अल्कोहल में भिगोई हुई रुई से साफ़ करे और उसे सूखने दे।
  12. अब अपने अंगूठे (Thumb) और तर्जनी उंगली (Index finger) से चमड़ी और Fat को ऊपर उठाकर चुटकी (Pinch) में पकड़ ले। 
  13. अब दूसरे हाथ से Insulin भरे हुए syringe का ढक्कन हटाकर उसे pen की तरह पकडे और 90 डिग्री के angle में सीधा त्वचा में प्रवेश करे। ध्यान रहे की Syringe की पूरी सुई अंदर तक जाना चाहिए। बच्चों और पतले व्यक्ति में 45 degree के angle में सुई प्रवेश करे। 
  14. अब पकड़ी हुई चमड़ी को छोड़ दे और धीरे-धीरे इंजेक्शन को देना हैं। 
  15. इंजेक्शन देने के बाद धीरे से उसी angle में syringe को निकाले और इंजेक्शन दिए हुए स्थान को 2 मिनिट दबाकर रखे। इसे रगड़े नहीं।  
  16. Insulin के injection दिए हुए स्थान से हल्का रक्त निकलने पर नहीं घबराना चाहिए। रक्त को रुई से साफ़ करे और थोड़ा दबाकर रखे। 
  17. आप अपने लिए एक बार इस्तेमाल की हुई सुई का इस्तेमाल कर सकते है। सुई कुंद / blunt हो जाने पर उसे Bio Medical waste में फेक देना चाहिए। किसी अन्य व्यक्ति की सुई कभी इस्तेमाल न करे। 
  18. अपने Insulin के इंजेक्शन के सामान को हमेशा बच्चों की पहुंच से दूर रखना चाहिए। 
Insulin के injection का दर्द कम से कम होने के लिए क्या सावधानी बरतनी चाहिए ?

कई रोगी ऐसे है जो केवल Insulin के injection के डर के कारण इसे लेने से घबराते है। Insulin के injection देने के लिए 26G नंबर की सुई का इस्तेमाल होता है जिससे बेहद कम दर्द होता हैं। अगर आप इस दर्द को और भी कम करना चाहते है तो निचे दी हुई बातों का ख्याल रखे :
  • Insulin के injection देते समय ध्यान रखे की इस्तेमाल किये जानेवाला इन्सुलिन का तापमान सामान्य कमरे के तापमान इतना होना चाहिए। अगर इन्सुलिन को फ्रिज में रखा है तो उसे बाहर निकाल कर रखे और तापमान सामान्य होने पर इस्तेमाल करे। 
  • Insulin के injection देते समय syringe में हवा का गुब्बारा / bubble नहीं रहने देना चाहिए। 
  • Insulin के injection की सुई कंद / blunt होने पर उसका इस्तेमाल न करे। 
  • अगर मुमकिन हो तो हमेशा नयी disposable syringe का इस्तेमाल करे। 
  • Insulin के injection देने वाली जगह हमेशा बदलते रहे। 
  • Insulin के injection देने से पहले त्वचा को ढीला रखे। 
  • Insulin के injection देते समय और सुई को बाहर निकालते समय उसकी दिशा / angle न बदले। 
  • अल्कोहल से भीगी हुई रुई से त्वचा साफ़ करने पर पहले उसे सूखने दे और उसके बाद ही इंजेक्शन देना चाहिए। 
डायबिटीज के रोगियों में इन्सुलिन की निर्मिति न होने पर या अकार्यक्षम इन्सुलिन निर्माण होने पर Insulin के injection लेना जरुरी होता हैं। आजकल नए इन्सुलिन के pen भी मिलते है जो महंगे होते है पर उन्हें साथ ले जाना और इस्तेमाल करना बेहद आसान होता हैं। Insulin के Pen में भी ऊपर बताये गए तरीके में इंजेक्शन लगाना होता हैं।
मधुमेह / डायबिटीज संबंधी अन्य जानकारी भरे उपयोगी लेख पढने के लिए यहाँ क्लिक करे - मधुमेह / Diabetes हिंदी में !! 
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook, Whatsapp या Tweeter account पर share जरुर करे !
loading...
Labels:

Post a Comment

  1. I am glad to read your article about dibetics and hypothyroidism. Iam suffering both disease.may I know the tips.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Dear Pradip,

      There are no such tips to cure both the disease. Kindly follow your doctor's advice and take your medicine on time.

      Delete

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.