पढाई करते समय Chemistry में मैग्नेशियम / Magnesium (Mg) तत्व के बारे में आपने पढ़ा ही होगा। पढाई करते समय हम जानते भी नहीं थे की जो Magnesium हमें पढ़ने में इतना बोरिंग लगता हैं, असल में हमारे स्वास्थ्य के लिए एक बेहद आवश्यक खनिज तत्व (Mineral) हैं। हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जिस प्रकार Proteins, Vitamins, Carbohydrates, Fats इत्यादि की जरुरत होती है उसी प्रकार कुछ प्रमाण में Minerals की भी बेहद जरुरत होती हैं।

शरीर में Magnesium की आवश्यकता, महत्त्व और आहार स्त्रोत की जानकारी निचे दी गयी हैं :

Health benefits Magnesium food source hindi
शरीर और Magnesium

हमारे शरीर के हर कोशिका (Cells) में अल्प प्रमाण में Magnesium होता हैं। एक स्वस्थ मानव शरीर के अंदर Magnesium की कुल मात्रा 50 ग्राम से कम होती हैं। शरीर के कई जरुरी कार्यों के लिए Magnesium की जरुरत होती हैं। Magnesium के अभाव में शरीर में कई तरह के रोग हो सकते हैं।

उम्र और लिंग के हिसाब से शरीर को कितने Magnesium की जरुरत होती है इसकी अधिक जानकारी निचे तालिका (Table) में दी गयी हैं :

आयु / Age
पुरुष (Male)
महिला (Female)
1 – 3 Years
80 mg/day
80 mg/day
4 - 8  Years
130 mg/day
130 mg/day
9 – 13 Years
240 mg/day
240 mg/day
14 – 18 years
360 mg/day
410 mg/day
19 – 30 Years
310 mg/day
400 mg/day
31 years या उससे अधिक
320 mg/day
420 mg/day
गर्भावस्था / Pregnancy

सामान्य से 40 mg/day अधिक

आहार पदार्थों से आप ऊपर दी हुई मात्रा में Magnesium ले सकते हैं। अगर Vitamin Supplements के रूप में हम Magnesium लेते है तो उसकी अधिक मात्रा नुक्सानदेह हो सकती हैं।

Vitamin Supplement में Magnesium की उच्चतम मात्रा इस प्रकार हैं।

आयु / Age
पुरुष (Male)
महिला (Female)
1 – 3 Years
65 mg/day
65 mg/day
4 - 8  Years
110 mg/day
110 mg/day
9 – 13 Years
350 mg/day
350 mg/day
14 – 18 years
350 mg/day
350 mg/day
19 – 30 Years
350 mg/day
350 mg/day
31 years या उससे अधिक
350 mg/day
350 mg/day
गर्भावस्था / Pregnancy

350 mg/day
Source : WebMd

Magnesium का आहार स्त्रोत (Food Source) क्या हैं ?

शरीर के लिए आवश्यक Magnesium की मात्रा दवा की जगह आहार पदार्थो से लेना ज्यादा बेहतर रहता हैं। Magnesium युक्त Vitamin Supplement लेने से कुछ लोगों को जी मचलाना (Nausea), दस्त (Diarrhea), बदनदर्द और कमजोरी जैसे दुष्परिणाम हो सकते है इसलिए नैसर्गिक रूप में आहार पदार्थो से Magnesium लेना चाहिए। 
अपने शरीर को स्वस्थ और सदृढ़ रखने के लिए आप अपने आहार में निचे दिए हुए Magnesium के आहार स्त्रोत का समावेश कर सकते हैं।
  1. हरी पत्तेदार सब्जिया - जैसे पालक, ब्रोकोली
  2. साबुत अनाज (Whole Grain Food) - Refinement और processing की प्रक्रिया में अनाज में कुछ प्रमाण में Magnesium निकल जाता हैं। 
  3. मूंगफली, काजू, बदाम 
  4. सोयाबीन, ओट्स 
  5. केले, एवाकाडो 
  6. कद्दू 
  7. दूध, दही 
  8. चॉकलेट 
  9. तुलसी  
  10. अलसी के बीज, सूर्यफुल के बीज, तरबूज के बीज 
ऊपर दिए हुए विभिन्न आहार पदार्थ रोजाना अपने आहार में समावेश कर आप पर्याप्त मात्रा में नैसर्गिक रूप में Magnesium ले सकते हैं। 

शरीर में Magnesium के कमी के लक्षण क्या हैं ?

शरीर में Magnesium की कमी लक्षण निचे दिए गए हैं :
  1. सिरदर्द / Headache 
  2. जी मचलना / Nausea
  3. कमजोरी / Fatigue & Weakness 
  4. भूक कम लगना / Loss of appetite 
  5. हाथपैर में झुनझुनि या बधिरता / Tingling numbness 
  6. मांसपेशियों में खिचाव और दर्द / Muscle pain and cramps  
Magnesium शरीर के लिए क्यों जरुरी हैं ?

Magnesium को हमारे शरीर के लिए जीवनदायी माना गया हैं। जैसे शरीर में Iron की कमी के कारण रक्त की कमी (Anemia) हो जाता है या Calcium की कमी के कारण हड्डिया भंगुर (Osteoporosis) हो जाती है उसी प्रकार शरीर में Magnesium की कमी के कारण कई सारे गंभीर विकार निर्माण हो सकते हैं। मानव शरीर में 300 से ज्यादा कार्यों में Magnesium की आवश्यकता होती हैं। 

शरीर के लिए Magnesium क्यों जरुरी है और इसके अभाव से क्या दुष्परिणाम हो सकते है इसकी अधिक जानकारी निचे दी गयी हैं :
  • ह्रदय रोग / Heart Disease : ह्रदय को स्वस्थ रखने में Magnesium का बड़ा योगदान रहता हैं। यह रक्त धमनी में होनेवाले अवरोध (Blockage) को रोकता हैं। ह्रदय के मांसपेशियों का लचीलापन बढ़ाता हैं। शरीर में प्राणवायु (Oxygen) की आपूर्ति संतुलित करता हैं। 
  • रक्तचाप / Blood Pressure : Magnesium के कारण रक्त धमनियों का लचीलापन बना रहता है और रक्तचाप नियंत्रित रहता हैं। एक अध्ययन में यह साबित हुआ है की Magnesium की पर्याप्त मात्रा आहार में लेने से रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद होती हैं। गर्भावस्था में रक्तचाप अधिक बढ़ जाने पर Magnesium का उपयोग किया जाता हैं। 
  • मधुमेह / Diabetes : दुनियाभर में मधुमेह के रोगियों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही हैं। इन्सुलिन की कमी मधुमेह का सबसे बड़ा कारण हैं। संतुलित मात्रा में Magnesium लेने से शरीर में इन्सुलिन निर्माण की प्रक्रिया बराबर रहती हैं। हमारे शरीर में कई enzymes, Magnesium के साथ मिलकर ग्लूकोस बनाने का कार्य करते हैं। पर्याप्त मात्रा में Magnesium लेने से आपको मधुमेह होने का खतरा लगभग 20% कम हो जाता हैं।  
  • सिरदर्द / Headache : कई रोगियों पर किये गए एक अध्ययन से पता चला है की Magnesium की संतुलित मात्रा लेने से सिरदर्द और Migraine के attack में कमी आ जाती हैं। 
  • मांसपेशी / Muscles : शरीर के हर मांसपेशी और स्नायु को Magnesium की जरुरत होती हैं। अगर आपको बार-बार मांसपेशी में दर्द, मोच या कमजोरी का अनुभव होता है तो केवल Calcium की कमी का विचार करने की जगह Magnesium की संतुलित मात्रा लेने का विचार भी अवश्य करना चाहिए। 
  • मजबूत हड्डियां / Bones : शरीर में हड्डियों के लिए जरुरी Calcium और Vitamin D के शोषण और सुचारू कार्य के लिए Magnesium की जरुरत होती हैं। हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए Calcium और Vitamin D के साथ Magnesium भी पर्याप्त मात्रा में लेना जरुरी हैं। 
  • पथरी / Stones : पर्याप्त मात्रा में Magnesium और Vitamin B6 लेने से पित्ताशय की पथरी (Gall Bladder Stones) का खतरा कम हो जाता हैं। 
इसके अलावा शरीर के और भी महत्वपूर्ण गतिविधियों में Magnesium की आवश्यकता होती हैं। अपने आहार में पर्याप्त मात्रा में Magnesium लेने के लिए आप अपने डॉक्टर या Dietician की सलाह ले सकते हैं।

अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook, Whatsapp या Tweeter account पर share जरुर करे !
loading...
Labels:

Post a Comment

  1. Thanks, ye jankari hamere liye bhut labhkari sidhha hogi.

    ReplyDelete

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.