गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर कम होने के कारण, लक्षण और उपचार

गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर कम होने के कारण, लक्षण और उपचार गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर कम होने के कारण, लक्षण और उपचार
भारत में अधिकतर महिलाओं का ब्लड प्रेशर सामान्य से कम ही पाया जाता हैं। प्रेगनेंसी में होनेवाले शारीरिक और हार्मोनल बदलाव के कारण ब्लड प्रेशर और कम हो जाता हैं जो की प्रसव के बाद फिर से सामान्य हो जाता हैं। गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर का बेहद कम हो जाना गर्भवती महिला और पेट में पल रहे शिशु को नुकसान पहुंचा सकता हैं।

जब आप प्रेगनेंसी में अपने डॉक्टर के पास सामान्य जांच कराने के लिए जाते है तो डॉक्टर सबसे पहले आपका ब्लड प्रेशर की जांच करते हैं। प्रेगनेंसी में माँ और शिशु के विकास के लिए ब्लड प्रेशर नियंत्रण में होना जरुरी होता हैं। ब्लड प्रेशर बेहद कम होने पर गर्भपात होने का खतरा भी रहता हैं।

गर्भावस्था में महिला का ब्लड प्रेशर कितना रहना चाहिए, ब्लड प्रेशर कम होने के क्या कारण है और ब्लड प्रेशर कम होने पर उसे सामान्य करने के लिए क्या करना चाहिए इसकी जानकारी आज इस लेख में हम देने जा रहे हैं :
pregnancy-low-blood-pressure-causes-symptoms-treatment-in-hindi

गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर कम होने के कारण, लक्षण और उपचार   

गर्भावस्था में महिला का ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए ?

गर्भावस्था में महिला का उपर का ब्लड प्रेशर यानि की Systolic Blood pressure 120 mmhg और निचे का ब्लड प्रेशर यानि की Diastolic Blood pressure 80 mmhg होना चाहिए। इसे सामान्य भाषा में 120/80 mmhg कहा जाता हैं। अगर गर्भवती महिला का ब्लड प्रेशर 90/60 mmhg या इससे कम होता है तो इसे Low Blood Pressure कहा जाता हैं। अगर गर्भवती महिला का ब्लड प्रेशर 80/50 mmhg या इससे भी कम हो जाता है तो उन्हें तुरंत डॉक्टर को दिखाकर हॉस्पिटल में दाखिल कराना चाहिए।

गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर कम होने के क्या कारण हैं ?

गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर कम होने के कारण इस प्रकार हैं :
  1. शरीर में पानी की कमी 
  2. शरीर में खून की कमी 
  3. रक्तस्त्राव / Bleeding 
  4. पोषक आहार की कमी 
  5. संक्रमण 
  6. एलर्जी 
  7. दवा का दुष्परिणाम 
  8. अधिक समय तक आराम 
  9. ह्रदय रोग 
  10. एक्टोपिक प्रेगनेंसी 

गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर कम होने के लक्षण क्या हैं ?

गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर कम होने के लक्षण इस प्रकार हैं :
  1. चक्कर आना 
  2. कमजोरी 
  3. सिर में भारीपन 
  4. थकान 
  5. धुंधला दिखाई देना 
  6. जी मचलाना 
  7. हाथ पैर ठन्डे पड़ जाना 
  8. प्यास लगना 
  9. सांस लेने में कठिनायी होना 
  10. एकाग्रता की कमी 

गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर की कमी का निदान कैसे किया जाता हैं ?

गर्भावस्था में महिला को डॉक्टर समय-समय पर मेडिकल जांच की लिए बुलाते है और हर बार वजन के साथ ब्लड प्रेशर की जांच भी करते है। ब्लड प्रेशर की जांच करते समय अगर एक हाथ में ब्लड प्रेशर कम आता है तो डॉक्टर महिला के दूसरे हाथ में भी ब्लड प्रेशर नापते हैं। अगर दोनों हाथ में महिला का ब्लड प्रेशर 90/60 mmhg या इससे कम आता है तो ब्लड प्रेशर कम होने का निदान किया जाता है और डॉक्टर महिला को इसके लिए उचित सलाह देते हैं।   

गर्भावस्था में महिला का ब्लड प्रेशर कम होने का उपचार और घरेलु उपाय क्या हैं ?

सामान्यतः गर्भावस्था के पहले तीन महीनो में महिला का रक्तचाप यानि की ब्लड प्रेशर कम होता है और प्रेगनेंसी बढ़ने के साथ ब्लड प्रेशर सामान्य हो जाता हैं। प्रेगनेंसी में अगर महिला का ब्लड प्रेशर थोड़ा ही कम हैं और उन्हें इसके कारण कोई समस्या या लक्षण नहीं है तो डॉक्टर इसके लिए कोई विशेष उपचार नहीं करते है परन्तु अगर महिला या गर्भस्थ शिशु को ब्लड प्रेशर कम होने की वजह से कोई समस्या हो रही है तो डॉक्टर गर्भवती महिला को हॉस्पिटल में दाखिल कर इंजेक्शन और सलाइन लगाते हैं। 

ब्लड प्रेशर कम होने पर महिला को निचे दी हुई सलाह दी जाती हैं :
  1. गर्भवती महिला को सो कर बैठते समय या बैठ कर उठते समय अचानक कोई हरकत नहीं करना चाहिए। हमेशा अपनी स्थिति (Position) धीरे-धीरे बदलना चाहिए जिससे चक्कर नहीं आते हैं। 
  2. गर्भवती महिला ने लम्बे समय तक खड़ा नहीं रहना चाहिए। 
  3. गर्भवती महिला ने हमेशा बायीं करवट पर सोना चाहिए। 
  4. गर्भवती महिला ने हर 2-3 घंटे से थोड़ा आहार लेना चाहिए। 
  5. दिनभर में 3 से 4 लीटर पानी अवश्य पीना चाहिए। इसके साथ आप फ्रूट जूस, नारियल पानी का सेवन कर सकते हैं। 
  6. अधिक टाइट कपडे नहीं पहनना चाहिए। 
  7. अधिक गर्म पानी से नहाना नहीं चाहिए। 
  8. अगर सोडियम की कमी के कारण ब्लड प्रेशर कम है तो आपको सोडियम युक्त आहार लेना चाहिए। आप नामक डालकर निम्बू पानी बनाकर पी सकती है या फिर नमकीन बिस्कुट या पापड़ खा सकती हैं। 
  9. गर्भवती महिला ने ब्लड प्रेशर कम होने पर घर पर आराम करना चाहिए और अधिक परिश्रम नहीं करना चाहिए। 
  10. रात को सोते समय या दिन में आराम करते समय सिर का हिस्सा निचे और पैर की बाजु थोड़ी ऊँची रहना चाहिए। इसके लिए आपके पैर के निचे तकिया रख सकते हैं और पलंग को हल्का ऊँचा उठा सकते हैं। 
  11. ब्लड प्रेशर कम होने पर उसे बढ़ाने के अन्य उपाय आप हमारे इस लेख में पढ़ सकते हैं - Low Blood Pressure का उपचार 
अगर गर्भवती महिला का ब्लड प्रेशर कम है और इसके कारण कोई समस्या हो रही है तो आपको तुरंत डॉक्टर की सलाह लेकर उपचार कराना चाहिए। गर्भावस्था में हर बार डॉक्टर के द्वारा दिए हुए तारीख पर जाकर महिला ने अपनी पूरी जांच कराना चाहिए। 

अगर आपको यह गर्भावस्था में ब्लड प्रेशर कम होने के कारण, लक्षण और उपचार की जानकारी उपयोगी लगती है तो आपसे निवेदन है की इस जानकारी को अपने परिचित गर्भवती महिला के साथ शेयर जरूर करे। 
देखे हमारे उपयोगी हिंदी स्वास्थ्य वीडियो ! Youtube 12k
अपनी दवा पर 20% बचत करे !
अपनी दवा पर 20% बचत करे !
loading...

Loading

Sunday, March 11, 2018 2018-03-11T06:48:32Z

No comments:

Post a Comment

Follow Us