रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय
Home रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय

Vitamin C के फायदे और आहार स्त्रोत

By Dr Paritosh Trivedi On, Saturday, May 13, 2017


हम सभी जानते है की विटामिन हमारे शरीर के लिए एक बेहद जरुरी पोषक तत्व हैं। हमारे शरीर को Vitamin A, B, C, D, E. और K की आवश्यकता होती हैं। जन्म से लेकर मृत्यु तक हर वक्त हमारे शरीर को इन विटामिन्स की विविध कार्यो के लिए जरुरत होती हैं। इन विटामिन की कमी से शरीर पर गंभीर दुष्परिणाम भी होते हैं।

आज इस लेख में हम Vitamin C के बारे में चर्चा करने जा रहे हैं। Vitamin C को Ascorbic acid के नाम से भी जाना जाता हैं। यह एक बेहतरीन anti oxidant भी हैं। Vitamin C यह एक पानी में घुलनेवाला (Water Soluble) विटामिन हैं।

Vitamin C हमारे शरीर के लिए क्यों जरुरी है और इसके आहार स्त्रोत क्या है इसकी जानकारी निचे दी गयी हैं :

vitamin-c-health-benefits-food-source-in-hindi

Vitamin C के फायदे और आहार स्त्रोत Health benefits and food source of Vitamin C in Hindi

Vitamin C शरीर के लिए एक बहुउपयोगी पोषक तत्व हैं। हमारे उम्र के अनुसार हमें रोजाना कितने मात्रा में Vitamin C की आवश्यकता होती है इसकी जानकारी निचे दी गयी हैं :
  1. जन्म से लेकर 6 महीने तक - 40 mg 
  2. 7 महीने से 1 वर्ष - 45 mg
  3. 1 वर्ष से 3 वर्ष - 15 mg
  4. 4 वर्ष से 8 वर्ष - 25 mg
  5. 9 वर्ष से 13 वर्ष - 45 mg
  6. 14 वर्ष से 18 वर्ष - 75 mg (पुरुष), 65 mg (महिला)
  7. 19 वर्ष से 50 वर्ष - 90 mg (पुरुष), 75 mg (महिला)
  8. गर्भावस्था (Pregnancy) - 85 mg
  9. स्तनपान (Breastfeeding) - 120 mg  
इस तरह एक स्वस्थ व्यक्ति को रोजाना 80 से 100 mg Vitamin C की आवश्यकता होती हैं। इसके लिए आप Vitamin C युक्त आहार या जरुरत पड़ने पर डॉक्टर द्वारा लिखी हुई Vitamin की गोली भी ले सकते हैं।

Click करे और अवश्य पढ़े - Vitamin D की कमी के लक्षण और आहार स्त्रोत

Vitamin C के स्वास्थ्य फायदे क्या हैं ? Health benefits of Vitamin C in Hindi

Vitamin C हमारे शरीर में कई महत्वपूर्ण कार्यों के लिए जरुरी होता हैं। इससे होनेवाले स्वास्थ्य लाभ की जानकारी निचे दी गयी हैं :
  • एंटी ऑक्सीडेंट / Anti-oxidant : Vitamin C को एक अच्छा एंटी ऑक्सीडेंट माना जाता हैं। हमारे शरीर में Free  radicals के कारण त्वचा पर झुर्रियां पड़ने लगती हैं और बुढ़ापा जल्द आ जाता हैं। Vitamin C युक्त आहार लेने से free radicals का खात्मा होता हैं और आपकी त्वचा जवान बने रहती हैं। 
  • रोग प्रतिकार शक्ति / Immunity : Vitamin C के नियमित सेवन से शरीर की रोग प्रतिकार शक्ति मजबूत रहती है और व्यक्ति जल्द बीमार नहीं होता हैं। खासकर बच्चों को पर्याप्त मात्रा में Vitamin C देने से वे बार-बार सर्दी-खांसी और बुखार के शिकार नहीं होते हैं। 
  • कैल्शियम / Calcium : Vitamin C शरीर में कैल्शियम के अवशोषण (absorption) के लिए बेहद जरुरी होता हैं। Vitamin C की absence में कैल्शियम का अवशोषण नहीं होता और हड्डियां कमजोर हो जाती हैं। शिशुओं की मांसपेशिया और हड्डियों का विकास ठीक तरह से होने के लिए कैल्शियम के साथ Vitamin C पर्याप्त मात्रा में खिलाना जरुरी होता हैं। 
  • कोलेस्ट्रॉल / Cholesterol : अगर आप रोजाना पर्याप्त मात्रा में Vitamin C लेते है तो यह आपका कोलेस्ट्रॉल नियत्रण में रखने में सहायक होता हैं। 
  • जुखाम / Cold : जिन लोगों को बार-बार सर्दी-जुखाम हो जाता है ऐसे लोगो ने Vitamin C अवश्य लेना चाहिए। यह शरीर में सर्दी को बढ़ानेवाले तत्व हिस्टामिन के असर को कम करता हैं और आपकी रोग प्रतिकार शक्ति भी बढ़ाता हैं। 
  • खून जमना / Clotting : चोट लगने पर थोड़े समय पर खून जम जाता है और खून का बहाव अपने आप रुक जाता हैं। इस clotting क्रिया के लिए रक्त में Vitamin C बेहद जरुरी होता हैं। 
  • उच्च रक्तचाप / High blood pressure : हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को रोजाना पर्याप्त मात्रा में Vitamin C जरूर लेना चाहिए। यह नसों और रक्तवाहिनी को फैलाकर ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद करता हैं। 
  • दांत / Tooth : मसूड़ों के स्वास्थ्य के लिए Vitamin C बेहद जरुरी होता हैं। इसके अभव में मसूड़ों से खून बहना, मसूड़े ढीले होना और मसूड़ों का टूटना जैसे दिक्क्त पैदा हो सकती हैं। 
  • कैंसर / Cancer : Vitamin C शरीर में हर तरह के कैंसर को फैलने से रोकता हैं। जो व्यक्ति नियमित पर्याप्त मात्रा में Vitamin C लेता है उनमे कैंसर का खतरा 50 % तक कम हो सकता हैं। 
Click करे और अवश्य पढ़े - खाना खाने के बाद न करे यह गलतियां 

Vitamin C के आहार स्त्रोत क्या हैं ? Vitamin C Food Source in Hindi 

शरीर को पर्याप्त मात्रा में Vitamin C मिलता रहे इसके लिए आपको अपने आहार में निचे दिए हुए फल और सब्जियों का समावेश करना चाहिए :
  • फल - आंवला, नारंगी, निम्बू, संतरा, बेर, पपीता, अंगूर, टमाटर, अमरुद, केला, अनानस, स्ट्रॉबेरी, अवाकाडो, सेब, खट्टे रसीले फल आदि। 
  • सब्जिया - मूली के पत्ते, कटहल, शलजम, पुदीना, मक्का, चुकंदर, बंदगोभी, हरा धनिया, दालें (भिगाने के बाद), पालक, दूध आदि 

Vitamin C की कमी के क्या दुष्परिणाम होते हैं ? Vitamin C deficiency side effects in Hindi

Vitamin C शरीर को पर्याप्त मात्रा में न मिलने पर इसकी कमी से निचे दिए हुए दुष्परिणाम होते हैं :
  1. मोतियाबिंद 
  2. त्वचा रोग 
  3. गर्भपात 
  4. खून बहना 
  5. मसूड़ों में दर्द 
  6. एलर्जी 
  7. खून की कमी 
  8. भूक न लगना 
  9. कैंसर 
  10. स्कर्वी 
Click करे और अवश्य पढ़े - Vitamin A के फायदे और आहार स्त्रोत
इस तरह Vitamin C हमारे शरीर के लिए एक बेहद आवश्यक पोषक तत्व है और अपने शरीर को स्वस्थ और सशक्त रखने के लिए हमें रोजाना अपने आहार में ऐसे आहार का समावेश करना चाहिए जिनसे हमें रोजाना पर्याप्त मात्रा में Vitamin C मिलता रहे। 
अगर यह स्वास्थ्य जानकारी आपको उपयोगी लगी है तो कृपया इसे शेयर अवश्य करे !
loading...

1 comment:

  1. Vitamins ke strot or uske benefits ki jaankari jo yaha di gai he vah bahut hi upyogi he,aaj jab jyadatar log jaruri vitamins ki kami se pidit he tab yah information sabke bahut kaam aayegi.

    ReplyDelete