रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय
Home रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय

केला खाने के फायदे और नुकसान

By Dr Paritosh Trivedi On, Wednesday, May 10, 2017


केला (Banana) फल ही नहीं अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ाने वाला और रोगों  से लड़ने वाला योद्धा है। केले में कई तरह के विटामिन और पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो केले को सुपर फूड बनाते हैं, जैसे कि कार्बोहाइड्रेट्स, विटामिन ए, सी, बी 6, लोह,  फॉस्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम, कैल्शियम, जिंक, प्राकृतिक शर्कराऐ जैसे ग्लूकोज, फ्रुक्टोज़, सुक्रोज आदि।

केला शीतल, पौष्टिक,  बलवर्धक, कांतिवर्धक, मधुर, स्निग्ध, वात पित्त नाशक और कफकारक रहता है। यह तृष्णा एवं दाह का नाश करता है। केला सर्वाधिक पौष्टिक तत्व से भरपूर रहता है। सौ ग्राम केला करीब 9 कैलरी ऊर्जा देता है। केले के छिलके में भी विटामिन होते हैं जो केले के पकने पर उसके गुर्दे में चले जाते हैं तथा छिल्का पतला चित्तीदार हो जाता है। इस में ढेर सारे औषधीय गुण होते हैं।

केला खाने के विभिन्न फायदे और नुक्सान की जानकारी निचे दी गयी हैं :


banana-health-benefits-in-hindi

केला खाने के फायदे और नुकसान 

पका केला ठंडा, रुचिकर, मीठा, सुस्वादु, पुष्टिकारक, शरीर का मांस को बढ़ाने वाला, रक्त विकार नाशक, पथरी, रक्त पित्त को दूर करने वाला, प्रदर,  नेत्र रोग मिटाने वाला होता है। केले में फास्फोरस अधिक होता है जो मन मस्तिष्क को शक्ति प्रदान करता है।

केला यह मौसमी फल नहीं है। हमारे यहां पर यह 12 महीने मिलता है, तो हम हररोज इसका लाभ उठा सकते हैं। केले कच्चे और पके दोनों फायदेमंद होते हैं। कच्चे केले खाने से पित्त, दाह, जलन और कफ इन सबमें आराम मिलता है। पके केले से भूक व प्यास मिटती है। आंख एवम दिल की रक्षा होती हैं।

केला खाने के फायदे Health benefits of eating Banana in Hindi

आइये, जानते है केले के विभिन्न फायदे :- 
  1. देता है प्राकृतिक ऊर्जा - केले में कार्बोहाइड्रेट्स, विटामिन, खनिज तथा प्राकृतिक शर्कराएं इनका स्वस्थ मिश्रण होता है, जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है। अगर आप सुबह नाश्ते में एक केला खाते हो तो लंच तक आपको भूख लगने की संभावना बहुत कम होती है। साथ ही ऊर्जा और ताजगी भी महसूस होगी।
  2. देता है ताकद मस्तिष्क को - केले के सेवन से मस्तिष्क को सेरोटोनिन मिलता है। मानसिक रूप से परेशान व्यक्तियों के मस्तिष्क से सेरोटोनिन की कमी होती है। केले में यह कमी पूरी करने की अद्भुत क्षमता है। केले में मौजूद पोटेशियम मस्तिष्क को ऑक्सीजन पहुंचाने वाली संचार प्रणाली को नियंत्रित करता है। 
  3. हृदय हितकारी होता है केला - केले में आवश्यक पोटेशियम होता है जो उच्च रक्तचाप के नियंत्रण में तथा कई तरह के हृदय रोग में फायदेमंद रहता है। केले में मौजूद पोटेशियम दिल की धड़कन का नियंत्रण तथा शरीर में पानी के स्तर का संतुलन बनाए रखता है।
  4. मोटापा भी कम करता है केला - कई लोग मानते है कि केला मोटापा बढ़ाता है लेकिन केला मोटापा नहीं बढ़ाता। केले में सोडियम बहुत कम होता है तथा कोलेस्ट्रोल बिल्कुल नहीं होता है, अतः व्यायाम करने वाले इसका सेवन कर सकते हैं। एक नई रिसर्च से पता चला है कि हर रोज सुबह एक केला खाकर उसके ऊपर एक कप गर्म पानी पीने से ना सिर्फ मोटापा कम होता है बल्कि हम अपने शरीर को मनचाहा आकार भी दे सकते हैं। केले का Glycemic index कम होता है। केले में मौजूद स्टार्च और कार्बोहाइड्रेट्स वैसे तो वजन बढ़ाते हैं पर अगर इसे गर्म पानी के साथ सेवन किया जाए तो इससे वजन कम होने में मदद मिलती है। साथ ही आप का पेट भी भरा भरा सा महसूस होता है और एनर्जी भी मिलती है। वजन कम करने की चाह रखने वाले कई लोगों को मीठा खाने की इच्छा होती है। ऐसे में प्राकृतिक शर्करा से युक्त केला उनके लिए बेहतर ऑप्शन होता है।
  5. वजन बढ़ाता है केला - अगर आपको अपना वजन बढ़ाना है तो केला खास असरकारक है। प्रतिदिन एक केला, दूध, शहद और थोड़ी इलाइची पाउडर मिलाकर शेक बना कर खाए या केला खाकर उसके ऊपर से दूध पिए इससे धीरे-धीरे आपका वजन भी बढ़ेगा। अपने भोजन के अलावा अतिरिक्त कैलोरीज के लिए दो समय केला और दूध खाएं। 
  6. करता है आंतो की सफाई - केला आंतों की सड़न रोकता है। केले का कैलशियम आंतों की सफाई करने में अत्यंत प्रभावी भूमिका निभाता है। 
  7. पेट के अल्सर में लाभदायक - केले का नियमित सेवन आपका मेटाबोलिज्म भी बढ़ाता है साथ ही आपका पाचन तंत्र भी सुधारता है। केले में मौजूद तत्व पेट मे एक श्लैष्मिक सुरक्षात्मक लेयर बनाता है, जो पेट के अतिरिक्त एसिड के लिए बाधा का कार्य करता है। केले का सेवन अल्सर के रोगियों के लिए भी फायदा करता है। इसका सेवन अम्लता को बेअसर करता है और अल्सर तैयार करने वाले बैक्टीरिया भी खत्म होते है। 
  8. कब्ज से मुक्ति - केले का सेवन अनिद्रा, कब्ज दूर करके पेशाब की जलन मिटाता है। इसमें मौजूद अघुलनशील फाइबर पाचनतंत्र के माध्यम से आगे जाता है और मलः त्याग में आसानी करता है। लेकिन इसका सेवन सीमित मात्रा में करे। अधिक मात्रा में ये कब्ज और गैस करता है। 
  9. दस्त में भी उपयोगी - केले में पेप्टिन नामक घुलनशील तत्व पाया जाता है जो आंतो से पानी का अवशोषण करता है, जिसकी वजह से दस्त में राहत मिलती है। यह अतिसार, अर्श और कुष्ठ रोग तथा हृदय रोगियों के लिए प्राकृतिक औषधि है। यह आसानी से पच जाता है अतः वायु विकार उत्पन्न नहीं करता। 
  10. बवासीर की चिकित्सा - अगर आप बवासीर से परेशान हैं तो केले को बीच में चीरा लगाकर उसमें चने के बराबर कर्पूर रख कर खा ले, इससे आपको आराम मिलेगा।
  11. हड्डियों को मजबूती - केले में विशेष प्रोबायोटिक बैक्टेरिया होते हैं जो कैल्शियम को सोखते हैं और हड्डियों को मजबूती प्रदान करते हैं।
  12. बढ़े प्रतिकारक्षमता - प्रतिदिन केला जरूर खाएं। इसमें मौजूद कैरेटेनॉइड ऐंटि-ऑक्सिडेंट आपकी प्रतिकार क्षमता को विकसित करता है,  और साथ ही आपको बीमारियों से भी बचाता है।
  13. बच्चों का टॉनिक - बच्चों को केला अवश्य खिलाएं, क्योंकि यह विटामिन,  पोषक तत्व, खनिज का खजाना है जिसकी बढ़ते बच्चों को आवश्यकता होती है।
  14. अन्य फायदे :
  • खाने के बाद प्रतिदिन केला खाने से पाचन सुगम होगा एवं मांसपेशिया भी मजबूत होगी।
  • मुलायम चमकदार बाल चाहिए तो केले में एवोकैडो पाउडर या कोको पाउडर एवं नारियल का दूध मिलाकर 15 मिनट लगाकर रखें।
  • अगर बच्चा मिट्टी खाता हो तो 5 ग्राम शहद के साथ एक केला प्रतिदिन खिलाएं। इससे पेट की मिट्टी बाहर आ जाएगी तथा बच्चे की मिट्टी खाने की आदत भी छूट जाएगी।  
  • मुहं में छाले के उपचार के लिए गाय के दूध के दही के साथ केला, खाए आराम मिलेगा।
  • कच्चा केला मसल कर दूध मिलाकर चेहरे पर लगाएं,  चेहरे पर निखार आएगा।
  • रूखी त्वचा के लिए एक पका केला मसलकर चेहरे पर लगाएं। 20 से 25 मिनट रहने दे, फिर साधे पानी से धो लें।  चेहरा स्निग्ध और मुलायम हो जाएगा।
  • कील मुहांसों के लिए एक केला मसल कर उसमें शहद और नींबू मिलाकर चेहरे पर लगाएं। कुछ देर बाद धो ले। आराम मिलेगा।
  • कहते हैं, कि हर रोज एक केला खाने से अंधेपन का खतरा दूर होता है। केले में कैरेटेनॉइड नामक तत्व रहता है जो फल सब्जियों को लाल, नारंगी, पीला रंग देता है। यह तत्व लीवर में जाकर विटामिन ए में परिवर्तित होता है, जो कि आंखों के लिए महत्वपूर्ण होता है। 
  • केले का उपयोग करने से किडनी कैंसर और दूसरे कैन्सर से बचाव होता है। 
  • महिलाओं को अगर ज्यादा ब्लीडिंग की समस्या है तो कुछ दिनों तक दूध में केला मैश करके खाएं, इससे आराम मिलेगा।
  • पित्त की बीमारी होने पर केले को घी के साथ मिलाकर खाएं।

केला कब खाना चाहिए ?

  1. हर रोज सुबह नाश्ते में आप केला खा सकते हैं,  इससे आपका पेट काफी समय तक भरा महसूस होगा और आपको एनर्जी भी मिलेगी। लेकिन ध्यान रखे कि केला खाली पेट ना खाएं।
  2. केले के सेवन से मूड भी अच्छा रहता है। इसलिए तनावग्रस्त व्यक्ति को केला खाना चाहिए।
  3. परीक्षा के पहले केला खाना अच्छा होता है क्योंकि इसमें पाये जाने वाला हाई पोटैशियम दिमाग को चुस्त और अलर्ट रखता है।
  4. अगर आप वर्कआउट या खेल से जुड़े हो तो वर्कआउट की थकान के बाद सिर्फ केला ही है जो आपको उर्जा और ताजगी दे सकता है। केला शरीर को धीरे-धीरे उर्जा देते रहता है और ताजगी बनाए रखता है।

केला खाने के दुष्परिणाम और सावधानी Side effects of eating Banana in Hindi

  1. केले को दिन में ही खाना चाहिए, क्योंकि गर्मी में जल्दी पचता है। 
  2. केला रात में खाने से रात में खाना हजम नहीं होता है।
  3. खाली पेट केला नहीं खाना चाहिए। खाने के 1 घंटे बाद खाये।  
  4. केला खाकर पानी ना पिएं। दूध पीने या इलायची खाने से केला जल्दी हजम होगा।
  5. अधिक मात्रा में केले का सेवन करने से भारीपन महसूस होगा और आलस्य रहेगा। 
  6. कफ प्रकृति या अस्थमा रोगी वाले को केला नहीं खाना चाहिए।
  7. जब भी आपको फल के तौर में केला खाना है तो पूर्णता पका हुआ केला ही खाएं। सब्जी या पकोड़े बनाने के लिए कच्चे केले का इस्तेमाल किया जाता है।
तो यह है पोषकता से पूर्ण केले के कई फायदे। आशा करते हैं कि यह आर्टिकल पढ़कर आप केले के प्रति अपना नजरिया बदल कर इसे अपने दैनंदिन जीवन का हिस्सा बनाकर सदा स्वस्थ रहेंगे।
अगर यह जानकारी आपको उपयोगी लगती है तो कृपया इसे शेयर अवश्य करे !
loading...

No comments:

Post a Comment