रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय
Home रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय

Hypothyroidism के क्या कारण हैं ? Thyroid causes in Hindi

By Dr Paritosh Trivedi On, Monday, February 9, 2015


Thyroid यह गर्दन में श्वास नली के ऊपर और स्वर यंत्र के दोनों और दो भागो में बनी तितली के आकार की, हमारे शरीर में पाए जानेवाले Endocrine glands में से एक ग्रंथि हैं। Thyroid gland में Triiodothyronine (T3) और Thyroxine (T4) जैसे Thyroid hormone बनते है। यह हॉर्मोन रक्त के माध्यम से हमारे सम्पूर्ण शरीर के महत्वपूर्ण अंगो पर असर करता हैं।

Thyroid hormone हमारे शरीर में चयापचय (metabolism) को नियंत्रित करता हैं जिसका असर हमारे शरीर का तापमान, दिल की धड़कन और calories के पाचन पर पड़ता हैं। Thyroid hormone की कमी में चयापचय गति धीमी हो जाती हैं और शरीर में ऊर्जा की कमी हो जाती हैं। Thyroid gland में किसी कारणवश Thyroid hormone के अपर्याप्त निर्माण होने की स्तिथि को Hypothyroidism कहा जाता हैं। Hypothyroidism का प्रमाण पुरुषो की तुलना में महिलाओ में ज्यादा पाया जाता हैं।

Hypothyroidism के कारण संबंधी अधिक जानकारी निचे दी गयी हैं :

Hypothyroidism causes in Hindi

Hypothyroidism के क्या कारण हैं ? Thyroid causes in Hindi

Hypothyroidism कई कारणों से हो सकता हैं। इसकी अधिक जानकारी निचे दी गयी हैं।
  • Hashimoto's Thyroiditis : Thyroid के सूजन को Thyroiditis कहा जाता हैं। Hashimoto's Thyroiditis यह एक स्व-प्रतिरक्षित (autoimmune) रोग हैं। इसमें हमारे शरीर में ऐसे antibodies की निर्मिति होती है जो अपने ही शरीर के अंग को नहीं पहचानती हैं और Thyroid ग्रंथि को हानि पहुचाती हैं। कभी विषाणु (Virus) के हमले के कारण भी Viral Thyroiditis हो सकता हैं। 
  • Grave's Disease : इस रोग में Thyroid ग्रंथि में अधिक मात्रा में हॉर्मोन्स का स्त्राव होता हैं। यह ज्यादातर अनुवांशिक होने से एक परिवार में कई लोगो को प्रभावित कर सकता हैं। 
  • विकिरण (Radiation) : Lymphoma जैसे कर्करोग का ईलाज करने के लिए गले के हिस्से में radiation लेने की जरुरत होती हैं जिस कारण Thyroid ग्रंथि में हॉर्मोन की निर्मिति पर प्रतिकूल असर पड़ता हैं। 
  • Iodine की कमी : शरीर में iodine की कमी के कारण Hypothyroidism हो सकता हैं। दुनियाभर में यह Hypothyroidism का सबसे आम कारण हैं। बहोत अधिक मात्रा में iodine युक्त नमक खाने पर भी Hypothyroidismहोने का खतरा रहता हैं। 
  • शल्य चिकित्सा (Surgery) : किसी कारणवश Thyroid ग्रंथि को ऑपरेशन कर निकालने पर thyroid ग्रंथि के अभाव में Hypothyroidism हो सकता हैं। अगर thyroid ग्रंथि का कुछ हिस्सा ही निकाला गया हो तो बाकी हिस्सा पर्याप्त हॉर्मोन की निर्मिति करता हैं। 
  • दवा (Medicine) : कुछ दवाओ के दुष्परिणाम के कारण आपको Hypothyroidism हो सकता हैं। Amiodarone, Lithium, Interferon alpha और Interleukin-2 जैसे हृदयरोग, मानसिकरोग और कर्करोग में इस्तमाल की जानेवाली दवा के दुष्परिणाम से Hypothyroidism होने का खतरा रहता हैं। कुछ Hyperthyroidism के रोगियों में अधिक मात्रा में anti-thyroid दवा लेने पर हमेशा के लिए Hypothyroidism हो सकता हैं। 
  • जन्मजात (Congenital) : कुछ बच्चो में thyroid ग्रंथि न होने के कारण या अक्षम thyroid ग्रंथि होने के कारण Hypothyroidism हो सकता हैं। कुछ बच्चो के माता या पिता को Hypothyroidism होने पर अनुवांशिक Hypothyroidism भी हो सकता हैं। बच्चो की सामान्य शारीरिक या मानसिक वृद्धि न होने पर Hypothyroidism की जांच करना चाहिए। 
  • पियूष ग्रंथि (Pituitary Gland) : पियूष ग्रंथि भी thyorid ग्रंथि के समान एक endocrine gland हैं। पियूष ग्रंथि से Thyroid Stimulating Hormone (TSH) निर्माण होता हैं जो की Thyroid ग्रंथि को हॉर्मोन बनाने का सन्देश देता हैं। किसी कारणवश पियूष ग्रंथि में TSH हॉर्मोन की निर्मति कम होने पर Hypothyroidism हो सकता हैं। 
  • गर्भावस्था (Pregnancy) : कुछ महिलाओ में गर्भावस्था के दौरान या बाद मे शरीर में antibodies निर्मिति के कारण Hypothyroidism हो सकता हैं। अगर इसका समय पर ईलाज न किया गया तो गर्भावस्था के समय गर्भपात, असामयिक प्रसव, रक्तचाप बढ़ना या गर्भ पर विपरीत परिणाम जैसी समस्या निर्माण हो सकती हैं। 
  • तनाव (Tension) : तनाव में रहने से thyroid ग्रंथि पर बुरा असर पड़ता हैं। तनाव में रहने से thyroid ग्रंथि का स्त्राव बढ़ जाता हैं जिस कारण Hypothyroidism हो सकता हैं।  
  • रजोनिवृत्ति (Menopause) : महिलाओ में रजोनिवृत्ति के समय में ज्यादा प्रमाण में हार्मोनल परिवर्तन होते हैं। यह हार्मोनल परिवर्तन ठीक से न होने से और इस समय ज्यादा तनाव में रहने से Hypothyroidism होने का खतरा रहता हैं। 


Hypothyroidism होने का खतरा किसे रहता हैं ?

ऐसे तो Hypothyroidism होना का खतरा हर व्यक्ति को रहता हैं, पर कुछ लोगो में यह खतरा अधिक रहता हैं। जैसे की :
  • 50 वर्ष से अधिक आयु की महिला। 
  • अगर आपको या आपके परिवार में किसी को कोई स्व-प्रतिरक्षित (auto-immune) रोग हैं।  
  • अगर आप anti-thyroid दवा ले रहे हैं। 
  • अगर आपने कर्क रोग की चिकित्सा के लिए छाती के ऊपरी हिस्से या गले के हिस्से में विकिरण (Radiation) लिया हैं। 
  • आपके Thyroid ग्रंथि का कुछ या पूरा हिस्सा operation कर निकाल दिया हैं। 
  • आप गर्भवती हैं या पिछले ६ महीनो में आपको बच्चा हुआ हैं। 
Hypothyroidism रोग किसे भी हो सकता हैं इसलिए जरुरी है की आप ऊपर दिए हुए कारणों से बचे और अगर आप इस श्रेणी में आते है की आपको Hypothyroidism का खतरा है तो तुरंत अपने डॉकटर की सलाह ले और जांच कराए। Hypothyroidism के लक्षण औए चिकित्सा संबंधी अधिक जानकारी जल्द ही निरोगिकाया पर प्रकाशित की जाएँगी।

यह भी पढ़े 
  1. Hypothyroidism का लक्षण और उपचार
  2. हाइपोथायरायडिज्म के रोगी ने क्या खाना चाहिए ?
  3. Hypothyroidism के रोगी जरूर करे यह Yoga 
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plusFacebook या Tweeter account पर share करे !
loading...

7 comments:

  1. अच्छी जानकारी एवं सलाह।धन्यवाद।

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद राजेशजी !

      Delete
  2. ज्ञानवर्धक आलेख ! इसी लेख में एक साथ ही हाइपोथायरोइड के लक्षण व उपचार की जानकारी भी अगर आप दे देते तो यह एक संग्रहणीय लेख बन जाता ! किश्तों में मिलने वाली जानकारी अक्सर अधूरी ही रह जाती है ! अगले आलेख में समस्त जानकारी के साथ हाईपर थायरोइड के बारे में भी लिखें ! सधन्यवाद !

    ReplyDelete
    Replies
    1. हाइपोथायरायडिज्म के लक्षण और उपचार संबंधी जानकारी जल्द ही निरोगिकाया पर प्रकाशित की जायेंगी l थाइरोइड एक काफी बड़ा विषय है इसलिए किश्तों में संपूर्ण जानकारी देने का प्रयास कर रहे हैं l
      निरोगिकाया पर भेट देने हेतु और आपकी प्रतिक्रिया देने हेतु धन्यवाद !

      Delete
  3. Bhut hi jabardast Gyan diya he Guru G aap ne
    Bhagwan aap ka hamesha saath de
    Jai bholle nath

    ReplyDelete
  4. Baccho ko agar ye hypothridism hota h to kitne tyme tak ye dawai leni hoti h

    ReplyDelete
  5. thank you for this knowledge about hypothyroidism......
    i want to know ...........ae rog puri taraha se mit sakata he k nahi agar mit sakata he to isake liye hame kya karna chahiye please iske bareme muje jankari dijiye ya mail kijiye my
    imail id. :- rajpatel.hothi@gmail.com

    ReplyDelete