हम लोग फिट रहने के लिए कई तरह के व्यायाम करते हैं। कुछ लोग सुबह वाकिंग करते है तो कुछ लोग जिम में जाकर पसीना बहाते हैं। हर तरह के व्यायाम शरीर को फायदा जरूर पहुचाते है पर अगर आप किसी ऐसे व्यायाम के तलाश में है जिसे हम सम्पूर्ण व्यायाम कह सके तो वह हैं तैराकी / Swimming

स्विमिंग / तैराकी एक थेरेपी की तरह काम करती है। तैराकी से शरीर पर जमी चर्बी कम होने लगती है और व्यक्ति कहीं ज्यादा उर्जावान महसूस करता है। हर रोज 30 मिनट की तैराकी शरीर से लगभग 440 कैलोरीज कम करती है। पानी की घनता हवा से 800 गुना ज्यादा होती है और इसलिए जब हम तैराकी करते है तो हमारे शरीर के मांसपेशियों की कसरत बेहतर होती हैं।  

तैराकी / Swimming के स्वास्थ्य लाभ और तैराकी करते समय क्या सावधानी बरतनी चाहिए इसकी जानकारी निचे दी गयी हैं : 


swimming-health-benefits-hindi

तैराकी के स्वास्थ्य लाभ Health Benefits of Swimming in Hindi

  1. मांसपेशियों की मजबूती / Muscles : रेगुलर स्विमिंग करने से अन्य व्यायाम की जरूरत नहीं पड़ती। इससे मांसपेशियां मजबूत होती है। जिमिंग के मुकाबले तैराकी में 10 गुना अधिक मेहनत करनी पड़ती है। इससे मांसपेशियों में खिंचाव होने से शरीर के जोड़ भी मजबूत होते हैं। 
  2. दिल रहता तंदुरुस्त / Heart : स्विमिंग से पूरी बॉडी का मूवमेंट होता है। इससे रक्त-संचार बेहतर होता है। ऐसे में हृदय का काम भी सुचारु होने से यह अंग सेहतमंद रहता है। ह्रदय और दिमाग से जुड़े रोगों की आशंका काफी हद तक कम होने से तनाव भी कम होता है। 
  3. वजन पर नियंत्रण / Weight Loss : यह शरीर की एक्स्ट्रा कैलोरी बर्न करने में मदद करती है। इससे शरीर पर जमी अतिरिक्त चर्बी कम होती हैं और बॉडी शेप में रहती है। शरीर में लचीलापन लाने के लिए यह बेहतर व्यायाम है। 
  4. कोलेस्ट्रोल रहता नियंत्रित / Cholesterol : ह्रदय रोग और वजन बढ़ने से होने वाले रोगों की आशंका स्विमिंग करने से कम हो जाती है। साथ ही इससे शरीर के लिए जरूरी हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन कोलेस्ट्रॉल (HDL) की मात्रा बढ़ती है यह बैड कोलेस्ट्रॉल (LDL) बढ़ने से रोकता है। 
  5. डायबिटीज का कम होता खतरा / Diabetes : डायबिटीज 1 और 2 दोनों के मरीजों के लिए स्विमिंग एक थेरिपी की तरह काम करती है। तैराकी से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होने लगती है जिससे वजन और ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है। इस वजह से शुगर लेवल में भी उतार चढ़ाव नहीं होता है। 
  6. तनाव / Stress : तैराकी करने से मन प्रसन्न रहता है और शरीर में तनाव कम करनेवाले हॉर्मोन का स्त्राव बढ़ता हैं। डिप्रेशन से लड़ने के लिए यह एक बेहतर थेरेपी हैं। 
  7. रोग प्रतिकार शक्ति / Immunity : अध्ययन से यह बात सामने आयी है की जो लोग हफ्ते में कम से कम 4 दिन तैराकी करते है उनकी रोग प्रतिकार शक्ति औरों के मुकाबले अधिक स्ट्रांग होती हैं। ऐसे लोग कम बीमार पड़ते है और बीमार पड़ते है तो जल्द भी ठीक हो जाते हैं। 

स्विमिंग के लिए कौन सी सुविधाएं है जरूरी ?

स्विमिंग के लिए निचे दी हुई सुविधाएं होना जरुरी हैं। जैसे की :
  1. स्विमिंग पूल के पानी में क्लोरीन का स्तर 0.5 ppm होना चाहिए। 
  2. पानी की नियमित जांच हो ताकी बैक्टीरियल इन्फेक्शन से बचाव हो सके। 
  3. स्विमिंग ट्रेनर का होना जरूरी है। 
  4. बिगिनर्स के लिए लाइफ जैकेट या ट्यूब उपलब्ध होना चाहिए। 
  5. पुल के पास शॉवर व चेंजिंग रूम की व्यवस्था होनी चाहिए। 

स्विमिंग करते समय क्या सावधानी बरते ? Which Precautions to follow while Swimming?

स्विमिंग तो फायदेमंद है ही लेकिन इस दौरान पुल का क्लोरीन युक्त पानी हमारे शरीर के कई अंगों पर असर डाल सकता है। स्विमिंग शरीर के लिए संपूर्ण व्यायाम है। यह बॉडी का कई तरह से फायदा पहुंचाती है लेकिन इस दौरान कुछ सावधानियां बरतकर त्वचा आंखें और कान के इन्फेक्शन से बचाया जा सकता हैं। जाने कैसे करें बचाव :
  • आंखें / Eyes : क्लोरीन युक्त पानी आंखो की नमी को कम करता है। इस वजह से आंखों में खुजली और लालिमा जैसी दिक्कत हो सकती है। कंजक्टिवाइटिस इंफेक्शन हो सकता है। स्विमिंग गॉगल्स पहन कर ही स्विमिंग करें। गॉगल ऐसे चुनें जो आपकी आंखों पर फिट बैठता हो। 
  • त्वचा / Skin : जिनकी त्वचा बेहद संवेदनशील होती है उन्हें पूल के पानी से एलर्जी की आशंका रहती है। उन्हें त्वचा पर लाल चकत्ते हो सकते हैं जिनसे खुजली और जलन होती है। जिनकी त्वचा स्विमिंग के बाद रूखी / Dry हो जाती है वह इससे पहले या बाद में मॉइस्चराइजर लोशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। नारियल तेल का प्रयोग भी ले सकते हैं। 
  • कान / Ear : स्विमिंग करने वाले अधिकतर तैराकी में स्विमर इयर्स की समस्या देखी जाती हैं। इस समस्या में तैराक को क्लोरीन युक्त पानी कान में जाने से सूजन, संक्रमण और दर्द होता है। इयरप्लग या कैप पहने। सर्दी जुखाम की समस्या में स्विमिंग न करें। स्विमिंग के बाद कान में खुजली एलर्जी से परेशानी हो तो ईएनटी विशेषज्ञ को दिखाएं। 
  • बाल / Hairs : पूल के क्लोरीन युक्त पानी के कारण बाल रूखे कमजोर और बेजान हो जाते हैं। पूल में उतरने से पहले बालों में ओलिव ऑइल या नारियल तेल लगाएं। बालों को खुला ना छोड़ें। स्विमिंग कैप पहनें। 
इस तरह आप ऊपर दी हुई सावधानी बरतकर तैराकी का भरपूर लुफ्त उठा सकते हैं। हमारे स्वास्थ्य के लिए हर तरह के व्यायाम आवश्यक है इसलिए अपने क्षमता और स्वास्थ्य के अनुसार हर व्यायाम को समय देना चाहिए और फिट रहने की कोशिश करना चाहिए।
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook, Whatsapp या Tweeter account पर share करे !
loading...
Labels:

Post a Comment

खास आपके लिए !

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.