Pregnancy Diet Tips in Hindi

हर महिला कि यह इच्छा होती है कि वह एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दे। इस इच्छा को पूर्ण करने के लिए गर्भावस्था मे पौष्टिक आहार का सेवन पर्याप्त मात्रा मे करना बेहद जरुरी है। गर्भस्थ शिशु का विकास माता के आहार पर निर्भर होता है। गर्भवती महिला को ऐसा आहार करना चाहिए जो उसके गर्भस्थ शिशु के पोषण कि आवश्यक्ताओ को पुरा कर सके।

सामान्य महिला को प्रतिदिन 2100 calories का आहार करना चाहिए। Food and Nutrition Board के अनुसार सगर्भा महिला को आहार के माधयम से 300 calories अतिरिक्त मिलनी ही चाहिए। यानि सामान्य महिला कि अपेक्षा गर्भवती महिला को 2400 calories प्राप्त हो इतना आहार लेना चाहिए और विविध Vitamins, Minerals अधिक मात्रा में प्राप्त करना चाहिए।

गर्भावस्था में महिला को आहार में कौन से चीजे लेना चहिए ओर कितनी मात्रा में लेना चाहिए इसकि अधिक जानकारी निचे दि गयीं है।

Pregnancy-Diet-Tips-In-Hindi

गर्भवती / Pregnant महिला ने कैसा आहार लेना चाहिए ?

1) प्रोटीन (Proteins) 
  • गर्भवती महिला को आहार मे प्रतिदिन 60 से 70 ग्राम Proteins मिलना चाहिए। 
  • गर्भवती महिला के गर्भाशय, स्तनों तथा गर्भ के विकास ओर वृद्धि के लिये Proteins एक महत्वपूर्ण तत्व है।
  • अंतिम 6 महीनो के दौरान करीब 1 किलोग्राम Proteins की आवश्यकता होती है। 
  • Protein युक्त आहार मे दूध और दुध से बने व्यंजन, मूंगफली, पनीर, चिज़, काजू, बदाम, दलहन, मांस, मछली, अंडे आदि का समावेश होता है।     
2) कैल्शियम (Calcium)
  • गर्भवती महिला को आहार मे प्रतिदिन 1500 -1600 मिलीग्राम Calcium मिलना चाहिए। 
  • गर्भवती महिला और गर्भस्थ शिशु की स्वस्थ और मजबूत हड्डियों के लिये इस तत्व कि आवश्यकता रहती है। 
  • Calcium युक्त आहार में दूध और दूध से बने व्यंजन, दलहन, मक्खन, चीज, मेथी, बीट, अंजीर, अंगूर, तरबूज, तिल, उड़द, बाजऱा, मांस आदि का समावेश होता है। 
3) फोलिक एसिड (Folic Acid)
  • पहली तिमाही वाली महिलाओं को प्रतिदिन 4 mg Folic Acid लेंने की आवश्यकता होती है। दूसरी और तीसरी तिमाही मे 6 mg Folic Acid लेंने की आवश्यकता होती है। 
  • पर्याप्त मात्रा में Folic Acid लेने से जन्मदोष और गर्भपात होने का खतरा कम हो जाता है। इस तत्व के सेवन से उलटी पर रोक लग जाती है। 
  • आपको Folic Acid का सेवन तब से कर लेना चाहिए जब से आपने माँ बनने का मन बना लिया हो। 
  • Folic Acid युक्त आहार मे दाल, राजमा, पालक, मटर, मक्का, हरी सरसो, भिंड़ी, सोयाबीन, काबुली चना, स्ट्रॉबेरी, केला, अननस, संतरा, दलीया, साबुत अनाज का आटा, आटे कि ब्रेड आदि का समावेश होता है।  
4) पानी (Water)
  • गर्भवती महिला हो या कोई भी व्यक्ति, पानी हमारे शरीर के लिये बहुत महत्वपुर्ण है। गर्भवती महिलाओ को अपने शरीर कि बढ़ती हुईं आवश्यकताओं को पुरा करने के लिये प्रतिदिल कम से कम 3 लीटर (10 से 12 ग्लास) पानी जरुर पीना चाहिए। गर्मी के मौसम में 2 ग्लास अतिरिक्त पानी पीना चाहिए।  
  • हमेशा ध्यान रखे कि आप साफ़ और सुरक्षीत पानी पी रहे है। बाहर जाते समय अपना साफ़ पानी साथ रखे या अच्छा बोतलबंद पानी का उपयोग करे।  
  • पानी की हर बूंद आपकी गर्भावस्था को स्वस्थ और सुरक्षित बनाने मे सहायक है। 
5)  विटामिन (Vitamins)
  • सगर्भावस्था के दौरान Vitamins कि जरुरत बढ़ जाती है। 
  • आहार ऐसा होना चाहिए कि जो अधिकधिक मात्रा मे calories तथा उचित मात्रा में Proteins के साथ Vitamins कि जरुरत कि पूर्ति कर सके। 
  • हरी सब्जियां, दलहन, दूध आदि से Vitamin उपलब्ध हो जाते है। 
6) आयोडीन (Iodine)
  • गर्भवती महिलाओ  के लिये प्रतिदिन 200-220 माइक्रोग्राम Iodine कि आवश्यकता होती है। 
  • Iodine आपके शिशु के दिमाग के विकास  के लिये आवश्यक है। इस तत्व की कमी से बच्चे मे मानसिक रोग, वजन बढ़ना और महिलाओ मे गर्भपात जेसी अन्य खामिया उत्पन्न होती है।   
  • गर्भवती महिलाओ को अपने डॉक्टर कि सलाह अनुसार Thyroid Profile जॉंच कराना चाहिए। 
  • Iodine के प्राकृतिक स्त्रोत्र है अनाज, दालें, ढूध, अंड़े, मांस। Iodine युक्त नमक अपने आहार मे Iodine शामिल करने का सबसे आसान और सरल उपाय है।  
 7) झींक (Zinc)
  • गर्भवती महिलाओ  के लिये प्रतिदिन 15 से 20 मिलीग्राम Zinc कि आवश्यकता होती है। 
  • इस तत्व कि कमी से भूख नहि लगतीं, शारीरिक विकास अवरुद्ध हो जात्ता है, त्वचा रोग होते है। 
  • पर्याप्त मात्रा में शरीर को Zinc कि पूर्ति करने के लिए हरी सब्जिया और Multi-Vitamin supplements ले सकते है। 
गर्भवती महिलाओ को आहार संबंधी निम्नलिखित बातों का ख्याल रखना चाहिए :
  1. गर्भवती महिला को हर 4 घंटे में कुछ खाने की कोशिश करनी चाहिए। हो सकता है आपको भूक न लगी हो, परन्तु हो सकता है कि आपका गर्भस्थ शिशु भूका हो। 
  2. वजन बढ़ने कि चिंता करने के बजाय अच्छी तरह से खाने कि ओर ध्यान देना चाहिए। 
  3. कच्चा दूध न पिए। 
  4. मदिरापान / धूम्रपान न करे। 
  5. Caffeine की मात्रा कम करे। प्रतिदिन 200 mg से अधिक caffeine लेने पर गर्भपात और कम वजन वाले शिशु के जन्म लेने का खतरा बढ़ जाता है। 
  6. गर्भवती महिलाओ को गर्म मसालेदार चींजे नहीं खाना चाहिए। 
  7. Anemia से बचने के लिए साबुत अनाज से बने पदार्थ, अंकुरित दलहन, हरे पत्तेवाली साग भाज़ी, ग़ुड़, तिल आदि लोहतत्व से भरपूर खाद्यपदार्थों का सेवन करना चाहिए। 
  8. सम्पूर्ण गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला का वजन 10 से 12 किलो बढ़ना चाहिए।  
  9. गर्भवती महिला को उपवास नहीं करना चाहिए। 
  10. गर्भवती महिला को मीठा खाने की इच्छा हो तो उन्हें अंजीर खाना चाहिए। इसमें प्रचुर मात्रा में Calcium है और इससे कब्ज भी दूर होता हैं। 
  11. Vegetable सूप और जूस लेना चाहिए। भोजन के दौरान इनका सेवन करे। बाजार में मिलने वाले रेडीमेड सूप व् जूस का उपयोग न करे। 
  12. गर्भवती महिला को fast foods, ज्यादा तला हुआ खाना, ज्यादा तिखा और मसालेदार खाने से परहेज करना चाहिए। 
  13. अपने डॉकटर कि सलाह अनुसार Vitamin और Iron कि गोलिया नियमित समय पर लेना चाहिए।   
#pregnancydiet  #pregnancydiethindi
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook या Tweeter account पर share करे !
loading...
Labels:

Post a Comment

  1. This was nice post. really important fact share with him Thank you.

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपके ब्लॉग पर स्वास्थ्य के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारियां हैं. जिसे मुझ जैसी लड़कियों को बहुत लाभ हो सकता हैं. इसके लिए धन्यवाद

      Delete
  2. Dear Paritosh

    I am very happy to see your progress....you are doing a great job and if you can continue this,some day your work would be appreciated by millions.

    My best wishes.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Dear Gopal Mishra

      Many thanks for visiting the blog and appreciating the efforts.

      People like you are inspiration for new bloggers like us.

      Take care. Happy Blogging !!

      Delete
  3. very very nice post.I like post.very usable post

    ReplyDelete
  4. WE LIKE IT PL SHARE SUCH INFORMATION, THANKS

    ReplyDelete
    Replies
    1. Ratanji, We are happy that you like the Health information shared here. Kindly share this with your friends to spread the health awareness.

      Delete
  5. Its really good information, very nice

    ReplyDelete
  6. sir, my wife is 8th months pregnancy but weight of children is two week down in this situation what i do ?

    ReplyDelete
  7. bhaot bahut dhanyewaad is leakh k liye, kaafi jaankaari mili hai!

    ReplyDelete
  8. Its really good information ....i like this post..... thank yau so much

    ReplyDelete
  9. Thanks for sharing this information. This is nice post

    ReplyDelete
  10. This is really good article and other article on this website. These knowledgeable articles helps other to stay healthy and also help to produce healthy living beings :). You are doing really nice work. Thanks a lot. Jai Hind.

    ReplyDelete
  11. Its is good information for pregnent women so i agree .

    ReplyDelete
  12. Sir jab se denguebhua problem ho gai hai stomach mei...pachan kriya bhi normal nhi chal rhi...aur 4 mahine pehle mujhe loose motion ho gye the air kamjori k karan chakkar aa kr gir gya tha tab mere body mei internal bleeding ho rhi hai endoscopy or ultra sound dono normal report hai phir bhi mujhe stomach mei pain aur kabhi labhi blood aata hai latrine mei jaise ki stomach koi andar imjury ho...kripya meri smasya k samadhan sujhaye...kya khana ya nhi khana kripya bataye..
    Thank u...😊

    ReplyDelete

खास आपके लिए !

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.