-->

कोरोना वायरस से लड़ने में उपयोगी है यह आयुर्वेदिक, होमियोपैथी और यूनानी दवा - आयुष मंत्रालय

कोरोना वायरस से लड़ने में उपयोगी है यह आयुर्वेदिक, होमियोपैथी और यूनानी दवा - आयुष मंत्रालय कोरोना वायरस से लड़ने में उपयोगी है यह आयुर्वेदिक, होमियोपैथी और यूनानी दवा - आयुष मंत्रालय
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन और आयुष मंत्री श्रीपद नाईक जी ने कोरोना वायरस के उपचार, बचाव और रोग प्रतिरोधक शक्ति (Immunity) को बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक, होमियोपैथी और यूनानी दवा के ऊपर अध्ययन के लिए टास्क फाॅर्स का गठन किया हैं। आज महाराष्ट्र में सबसे अधिक कोरोना वायरस से पीड़ित रोगी है और इसीलिए महाराष्ट्र सरकार ने केंद्र के स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्णय अनुसार 'Task force on Ayush for COVID-19' का गठन किया गया हैं। 

इस टास्क फाॅर्स से कोरोना वायरस से बचाव, रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने और कोरोना वायरस के अलाक्षणिक (Asymptomatic) रोगी में कुछ विशेष आयुर्वेदिक, होमियोपैथी और यूनानी दवा का उपयोग करने का मार्गदर्शक सूचना दी हैं। इसके अलावा आहार-विहार से जुडी कुछ सलाह भी दी हैं। इन सभी मार्गदर्शक सूचनाओं की जानकारी आज इस लेख में हम आपको देने जा रहे हैं। 

corona-ayurveda-homeopathy-medicine-in-hindi

कोरोना वायरस से लड़ने में उपयोगी है यह आयुर्वेदिक, होमियोपैथी और यूनानी दवा - आयुष मंत्रालय 


कोरोना वायरस में उपयोगी आयुर्वेदिक दवा 

  1. Tablet Ayush  64 (500 mg) : इस दवा में कुटकी, सप्तपर्ण, चिरायता, कुबेराक्ष आदि घटक द्रव्य हैं। इसकी दो गोली सुबह शाम खाना खाने के बाद लेना हैं 15 दिन के लिए। बच्चों में एक एक गोली सुबह शाम लेना हैं। 
  2. सुदर्शन घनवटी (250 mg) : यह दवा भी दो गोली सुबह शाम खाना खाने के बाद 15 दिन के लिए लेना हैं। आयुष 64 दवा न मिले तो सुदर्शन घनवटी लेना हैं। 
  3. संशमनी वटी (500 mg) : इसकी एक गोली सुबह शाम खाना खाने के बाद 15 दिन ले सकते हैं। 
  4. च्यवनप्राश : रोज सुबह एक चमच्च च्यवनप्राश जरूर लेना चाहिए। इसमें विटामिन सी अधिक मात्रा में होता हैं। आप चाहे तो दूध के साथ भी इसे ले सकते हैं। डायबिटीज के रोगी शुगर फ्री च्यवनप्राश ले। पढ़े - च्यवनप्राश खाने के फायदे 
  5. आयुर्वेदिक कोरोना काढ़ा : तुलसी 4 भाग, सुंठ 2 भाग, दालचीनी 2 भाग, कालिमिरि 1 भाग लेकर इन्हे एकत्रित कर मिश्रण करे। अब इस मिश्रण का 3 gm चूर्ण 100 ml पानी में इस प्रमाण में लेकर पानी को को उबाले।पानी गर्म करते समय ऊपर ढक्क्न जरूर रखे। जब पानी आधा रह जाए तो इस पानी को छानकर गुनगुना रहने पर सुबह शाम ताजा बनाकर पीना चाहिए। यह पप्रयोग 15 दिन तक करने से रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ती हैं। देखे वीडियो : घर पर कैसे बनाये कोरोना विरोधी आयुर्वेदिक काढ़ा 
  6. नस्य : सुबह और शाम को नाकपूड़ि (nostrils) में तिल तेल या नारियल तेल या गाय का घी ऊँगली से लगाने से लाभ होता हैं। 
  7. गरारा (Gargling) : मुंह में एक बड़ा चमच्च तिल तेल या नारियल तेल लेकर 2 से 3 मिनिट तक गरारा करे और बाद में यह तेल थूक कर गुनगुने गर्म पानी से गरारा करे। ऐसा दिन में 2 से 3 बाद करे।  

कोरोना में उपयोगी होमियोपैथी दवा 

  1. Arsenic Album 30 : इस दवा के 4 छोटे दाने (Globules) खालीपेट सुबह शाम लगातार 3 दिन तक लेना है और एक महीने के बाद दोबारा 3 दिन तक फिरसे इसका कोर्स लेना हैं।  यह दवा लेने से रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ती है। आर्सेनिक एल्बम के अलावा ब्रायोनिआ अल्वा, ऱ्हस टोक्सिको डेंड्रॉन, बेलेडोना जेल्सियम आदि दवा भी फ्लू के मरीजों में कारगर हैं।   

कोरोना में उपयोगी यूनानी दवा  

  1. जोशंदा : बिहिदाना 5 gm, बर्गे गावजबान 7 gm, उन्नाब 7 दाने, सपिस्तान 7 दाने, दालचीनी 3 gm, बनपशा 5 gm लेकर 250 ml पानी में 15 मिनिट तक उबाले और फिर छानकर इसे चाय की तरह दिन में एक से दो बार पिने से लाभ होता हैं। 
  2. खमीरा मरवारीद : दूध के साथ यह 5 gm लेकर इसका सेवन दिन में दो बार करे। डायबिटीज के रोगी इसका सेवन न करे। 
  3. अर्के अजीब : अजवाइन सत्व, पुदीना सत्व और कपूर सत्व को मिलाकर इसे तैयार किया जाता जाता हैं। आधा ग्लास पानी में इसकी 5 बून्द डालकर इस पानी से गरारा करने से कोरोना में लाभ मिल सकता हैं।    

कोविड 19 में सामान्य प्रतिबंधात्मक उपाय 

  1. वैयक्तिक स्वच्छता का पालन करे। 
  2. बार बार हाथों को 20 सेकंड तक अच्छे से साफ़ करे। 
  3. खांसी करते समय या छींकते समय मुंह को रुमाल या कोहनी से ढँक कर रखे।  
  4. हमेशा मास्क का इस्तेमाल करे खासकर भीड़भाड़ वाली जगह पर। 
  5. बीमार होने पर तुरंत डॉक्टर से जांच कराए। 
  6. आवश्यकता न होने पर घर के बाहर न निकले।  
  7. खाने में हल्का और ताजा गर्म खाना ही ले। 
  8. तुलसी के पत्ते, हल्दी और अदरक को पानी में उबालकर पिने से लाभ होता हैं। 
  9. सर्दी या खांसी में कलिमिरि चूर्ण को शहद में मिलाकर लेने से तुरंत लाभ होता हैं। 
  10. ठंडी चीजों का सेवन न करे। 
  11. कम से कम 7 घंटे नींद जरूर लेना चाहिए। 
  12. रोजाना अनुलोम विलोम, कपालभाति और योग जरूर करे। 
  13. Gold Milk : एक कप गर्म दूध में आधा चमच्च हल्दी और आधा चमच्च सुंठ मिलकर पिने से रोग प्रतिरोधक शक्ति मजबूत होती है और श्वास से जुड़े रोग नहीं होते हैं। 
 
ऊपर दी हुई सभी औषधि की जानकारी और मार्गदर्शक सूचना आयुष मंत्रालय, महाराष्ट्र सर्कार द्वारा दी गयी हैं। इनका उपयोग करने से आप की इम्युनिटी मजबूत होती है पर इसका मतलब यह नहीं की आपको कोरोना का संक्रमण नहीं होगा इसलिए आपको सभी सावधानी का पालन अवश्य करना चाहिए। इन दवाओं और मार्गदर्शक सुचना का पालन करने से पहले आपको अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लेना चाहिए। यह लेख आयुर्वेदाचार्य और योग विशेषज्ञ डॉ भावना त्रिवेदीजी ने लिखा हैं। 

अगर यह जानकारी आपको उपयोगी लगती है तो कृपया इसे शेयर जरूर करे।  
देखे हमारे उपयोगी हिंदी स्वास्थ्य वीडियो ! Youtube 52k

Loading

शनिवार, जून 13, 2020 2020-06-13T08:13:49Z

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Follow Us