फॉलिक एसिड - महिलाओं का मददगार

फॉलिक एसिड - महिलाओं का मददगार फॉलिक एसिड - महिलाओं का मददगार
हमारे शरीर को स्वस्थ और सशक्त रखने के लिए कई तरह के विटामिन्स की जरुरत होती हैं। ऐसा ही एक शरीर के लिए बेहद जरुरी विटामिन हैं फॉलिक एसिड। खून की कमी और गर्भस्थ शिशु में मस्तिष्क (Brain) और स्पाइन की जन्मजात विकृति की आशंका को दूर करने के लिए शरीर में पर्याप्त मात्रा में फॉलिक एसिड होना बेहद जरुरी होता हैं।

फॉलिक एसिड को ही Folate या Vitamin B9 कहा जाता हैं। यह विटामिन बी कॉम्प्लेक्स का ही एक भाग हैं। मानव निर्मित कृत्रिम विटामिन बी9 को फॉलिक एसिड कहा जाता हैं। गर्भावस्था में इसकी जरुरत अधिक होती हैं। गर्भस्थ शिशु के विकास और स्वास्थ्य के लिए यह बेहद जरुरी हैं।

फॉलिक एसिड का महत्त्व, फायदे, आहार स्त्रोत और इसके औषधि की मात्रा की जानकारी नीचे दी गयी हैं।
folic-acid-uses-in-hindi

फॉलिक एसिड - महिलाओं का मददगार 


फॉलिक एसिड क्या है ? Folic acid in Hindi

फोलेट, एक Vitamin है जो Vitamin B complex का एक भाग है, इसके ही कृत्रिम संस्करण को फॉलिक एसिड कहा जाता हैं। यह शरीर में Red blood cells की निर्माण हेतु जरुरी होता हैं। माँ के पेट में पल रहे गर्भस्थ शिशु के मानिसक और शारीरिक विकास के लिए भी इसकी आवश्यकता होती हैं। अगर इसकी जरुरी मात्रा आहार से प्राप्त नहीं होती है तो दवा / supplements लेकर इसकी कमी को दूर करना जरुरी होता हैं।

जरूर पढ़े - प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण क्या है ?

फॉलिक एसिड के फायदे Folic acid uses in Hindi

फॉलिक एसिड विटामिन हमारे शरीर के लिए बेहद जरुरी विटामिन हैं। पर्याप्त मात्रा में फॉलिक एसिड लेने से निम्नलिखित फायदे होते हैं :
  1. खून की कमी / Anemia : शरीर में नयी रक्त कोशिकाओं (cells) का निर्माण और बनाए रखने का काम फॉलिक एसिड करता हैं। इससे शरीर में खून की कमी नहीं होती हैं। फॉलिक एसिड की कमी से शरीर में खून कम बनता है इसलिए किशोर उम्र की लड़कियों को सप्ताह में कम से कम एक बार फॉलिक एसिड की गोली लेने की सलाह दी जाती हैं। 
  2. गर्भावस्था / Pregnancy : सामान्यतः महिलाओं को रोजाना 400 माइक्रोग्राम फोलेट की जरुरत होती है पर गर्भावस्था में 700 माइक्रोग्राम फोलेट की आवश्यकता होती हैं। सम्पूर्ण गर्भावस्था में पर्याप्त मात्रा में फॉलिक एसिड लेने से गर्भ में पल रहे बच्चे का मानसिक विकास अच्छा होता है और स्पाइन की विकृति जैसे की Spina Bifida से बचाव होता हैं। गर्भावस्था के पहले तीन महीने में पर्याप्त फॉलिक एसिड लेना अति आवश्यक है। जो महिलाए प्रेगनेंसी प्लान कर रही है उन्होंने प्रेग्नेंट होने के एक महीना पहले से ही फॉलिक एसिड युक्त आहार और गोली लेना शुरू कर देना चाहिए। ऐसा करने से समय पूर्ण प्रसव होने की आशंका 50% कम हो जाती हैं। 
  3. कैंसर / Cancer : फॉलिक एसिड कैंसर के कारण cells के DNA में होने वाले बदलाव को रोकने का काम करता है जिससे कैंसर को बढ़ने से रोका जा सकता हैं। 
  4. उच्च रक्तदाब / High Blood pressure : अमेरिका में हुए एक शोध में यह बात सामने आयी है की पर्याप्त मात्रा में फॉलिक एसिड लेने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कम किया जा सकता हैं। 
  5. मानिसक रोग / Mental disorder : इस बात के पर्याप्त प्रमाण है की फॉलिक एसिड तनाव, अवसाद, याददाश्त की कमी जैसे मानसिक समस्या को रोकने में सहायक हैं। 
  6. किडनी रोग / Kidney failure : किडनी रोग से पीड़ित रोगियों में खून में Homocysteine का level बढ़ जाता है जिससे stroke और ह्रदय रोग का खतरा बढ़ जाता हैं। ऐसे में फॉलिक एसिड लेने से शरीर में Homocysteine के स्तर को कम किया जा सकता है। 
  7. दवा का दुष्परिणाम / Drug Side effects : Arthritis के रोगियों को Methotrexate दवा दी जाती है और इस दवा से होने वाले नुकसान से बचने के लिए रोगी को फॉलिक एसिड की दवा भी दी जाती हैं।  
अवश्य पढ़े - अश्वगंधा के फायदे और उपयोग

फॉलिक एसिड की आवश्यक मात्रा  Folic acid dosage in Hindi

एक युवा महिला को प्रतिदिन लगभग 400 माइक्रोग्राम फोलेट का सेवन करना चाहिए। जो महिलाए प्रेगनेंसी प्लान कर रही है उन्हें लगभग 700 माइक्रोग्राम फोलेट का सेवन करना चाहिए। गर्भवती महिलाओं को फोलेट की आवश्यकता पूरी करने के लिए सप्लीमेंट दवा लेने की सलाह दी जाती हैं। 

फॉलिक एसिड की आयु के अनुसार रोजाना आवश्यक मात्रा (daily requirement) इस प्रकार हैं :
  • 0 से 6 महीने : 65 mcg
  • 7 से 12 महीने : 80 mcg
  • 1 से 3 साल : 150 mcg
  • 4 से 8 साल : 200 mcg
  • 9 से 13 साल : 300 mcg
  • 14 साल से ऊपर : 400 mcg
  • गर्भवती महिला : 600 - 700 mcg
  • स्तनपान के समय : 500 mcg
उपयोगी जानकारी - बच्चों की भूख कैसे बढ़ाए

फॉलिक एसिड के आहार स्त्रोत Folic acid food source in Hindi

फॉलिक एसिड की जरूरत पूरी करने के लिए आपको अपने आहार में निचे दिए हुए आहार पदार्थों का समावेश करना चाहिए :
  1. सब्जियां : गहरी हरी पत्तेदार सब्जिया जैसे पालक, मेथी, फलियां, मटर, बीट, ब्रोकली 
  2. फल : खट्टे-मीठे फल जैसे खरबूजा, संतरा, केला, निम्बू, स्ट्रॉबेरी और अंगूर 
  3. अनाज : साबुत अनाज, ब्रेड, आटा, चावल, पास्ता, सभी प्रकार के अंकुरित अनाज, अंडे
अगर आहार से आपकी फॉलिक एसिड की जरुरत पूरी नहीं होती है तो डॉक्टर की सलाह से आप Vitamin supplement दवा भी ले सकते हैं। याद रहे, कभी भी बिना डॉक्टर की सलाह से कोई दवा नहीं लेना चाहिए क्योंकि विटामिन की गोली के भी शरीर पर गंभीर दुष्परिणाम हो सकते हैं। 

अगर आपको यह फॉलिक एसिड का महत्त्व, फायदे, आहार स्त्रोत, और इसके औषधि की मात्रा की जानकारी उपयोगी लगती है तो कृपया इसे शेयर जरूर करे। 
देखे हमारे उपयोगी हिंदी स्वास्थ्य वीडियो ! Youtube 21k
अपनी दवा पर 20% बचत करे !
अपनी दवा पर 20% बचत करे !

Loading

Monday, April 22, 2019 2019-05-18T09:27:10Z

No comments:

Post a Comment

Follow Us