दूध पिने के फायदे और नुकसान

दूध पिने के फायदे और नुकसान दूध पिने के फायदे और नुकसान
आयुर्वेद में दूध को सात्म्य आहार याने शरीर के लिये हितकारी आहार कहा गया है। दूध यह एक ऐसा पेय पदार्थ है जो हमसे जन्म से जुड़ा हुआ है। जिसे हर कोई जानता है। हमे बचपन से यह बताया जाता है कि दूध पीना हमारे सेहत के लिए कितना फायदेमंद है। एक नवजात बच्चे के पोषण का आधार केवल दूध होता हैं। 

दूध का हमारे शारीरिक व मानसिक विकास में काफी योगदान होता है। दूध विटामिन A, B, K और कैल्शियम, मैग्नेशियम, पोटैशियम, फोस्पोरस जैसे पोषक तत्व का एक बड़ा स्रोत है। दूध में सेरोटोनिन हार्मोन भी रहता है जो मस्तिष्क को शांत करने में मदद करता है। रोज एक गिलास दूध पीने से हमारा दिमाग चुस्त-दुरुस्त बना रहता है। आयुर्वेद के अनुसार दूध वातपित्तशामक, बल्य, हृद्य, क्षुधाशामक होता है। आयुर्वेद में गाय के दूध को सर्वोत्तम माना गया है। उसमें भी देसी गाय के दूध के प्रयोग पर अधिक बल दिया गया है।

कई बार हमारे मन में यह संशय रहता है कि दूध कितना पिया जाए और कब किया जाए तो जिससे लाभ या नुकसान हो सकता है। आज हम आपको बताएंगे कि दूध से क्या फायदे और नुकसान होते हैं। साथ ही दूध पीने का सही समय कौन सा है ताकि आप उसके गुणों से लाभान्वित हो सकें हो सकें। 


health-benefits-of-milk-in-hindi

दूध पिने के फायदे और नुकसान Health Benefits of Milk in Hindi 

दूध पिने के फायदे 

  • हड्डियां होती है मजबूत : दूध हमारे शरीर के लिए कैल्शियम की आपूर्ति का अच्छा स्त्रोत है, जिससे हड्डियां मजबूत बनने में मदद मिलती है। यह हमारे दांतों को भी मजबूत बनाता है। दूध में प्रोटीन रहता है जिससे हमारे शरीर की मांसपेशियों के पुनर्निर्माण में सहायता होती है। साथ ही मांसपेशियां भी मजबूत होती है। अगर शरीर को कही फ्रैक्चर हो तो दूध में हल्दी मिलाकर उसे उबालकर प्रयोग करना चाहिए। 
  • वजन रहता है नियंत्रित : दूध पीने की वजह से काफी देर तक भूख नहीं लगने का अहसास बना रहता है, ऐसे में व्यक्ति हल्का खाना खाता है और उसका वजन नियंत्रण में रहता है। दूध में प्रोटीन अधिक होता है, जो कार्बोहाइड्रेट के स्तर को घटाता है, जिसके चलते वजन कम होता है बशर्ते आप मलाई निकालकर दूध का प्रयोग करें। आप को कम से कम एक गिलास दूध सुबह नाश्ते के समय और रात को सोने से पहले पीना चाहिए।
  • सुंदरता में लगाएं चार चाँद : कहा जाता है कि पुराने जमाने में महलों की रानीया दूध से नहाया करती थी। सुंदरता को बढ़ाने में दूध काफी उपयोगी होता है। दूध में काफी विटामिन व न्यूट्रिएंट्स मौजूद होने के कारण नियमित तौर पर दूध पीने से आपकी त्वचा कोमल, मुलायम व चमकीली बनती है। त्वचा पर दूध मलने से झुर्रियां कम होती है। वैसे कच्चे दूध से मसाज क्लींजिंग क्रीम की तरह काम करता है। 
  • आएगी अच्छी नींद : अगर हमने रात का खाना किसी वजह से ना खाया हो और हमें नींद नहीं आ रही है तो एक चुटकी जायफल और केसर मिलाकर गर्म दूध पीजिये, इससे आपको अच्छी और शांत नींद आएगी।
  • सर्दी जुकाम से दे राहत : अगर आप सर्दी जुकाम से परेशान रहते है तो हर रोज दूध में हल्दी, अदरक या सौंठ, तुलसी, काली मिर्च, लौंग, गुड़ डालकर उबालकर पियें। बार बार हो रहे ज़ुकाम मे गर्म दूध में कालीमिर्च डालकर पीए। 15 दिनों तक हर रोज 1 कालीमिर्च बढ़ाते जाए फिर 15 दिनों तक घटाते जाए। 
  • शरीर को हाइड्रेट रखने में करता है मदत : उपवास में दिन में 2 से 3 ग्लास दूध पीने से शरीर को एनर्जी मिलती है। वर्कआउट के बाद 1 ग्लास दूध पीने से थकान दूर होकर ताजगी मिलती है , शरीर को पोषण मिलता है, मांसपेशियों का विकास होने में मदत मिलती है तथा वर्कऑउट की पीड़ा भी कम होती है। आप चाहे तो एक्सरसाइज के बाद प्रोटीन मिल्क शेक भी बनाकर पी सकते है। 
  • कब्ज से देता है राहत : सोने से पहले 1 ग्लास गुनगुने दूध में 8 -10 मनुका डालकर पिये। इससे कब्ज में राहत मिलेगी। 1 ग्लास गुनगुने दूध में 8 से 10 मनुका व 1 अंजीर मिलाकर पीने से पाइल्स के तकलीफ में राहत मिलती है।
  • बढ़ाएगा मेमोरी पावर : रोज रात को 1 ग्लास गर्म दूध में आधा चम्मच बादाम तेल मिलाकर पीने से मस्तिष्क को ताकत मिलती है, साथ ही मेमोरी बढ़ने में मदत मिलती है। दूध में बादाम के साथ इलायची मिलाकर पीने से दिमाग, दिल, आंखे व मस्तिष्क के लिए फायदेमंद होता है। 
  • चॉकलेट वाला दूध बनाएगा आपको जवां : चॉकलेट एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते है। चॉकलेट पाउडर मिलाकर दूध पीने से या चॉकलेट डॉयफ्रूइट मिल्क शेक पीने से स्वाद के साथ मस्तिष्क को मजबूती मिलेगी। साथ ही त्वचा जवां होकर झुर्रियां कम होने में मदत मिलेगी। 
  • आयरन की कमी होगी दूर : दूध में शक्कर के बजाय गुड़ मिलाकर पीने से आयरन की कमी दूर होती है। यह शरीर को काफी फायदा करता है व शक्कर से होनेवाले नुकसान से बचाता है।
  • चिंता को करता है दूर : आफिस या जॉब में पूरा तनाव भरा दिन बिताने के बाद घर आने पर अगर हम 1 ग्लास दूध पीते है, तो यह हमें प्रसन्नता व ताजगी के साथ पोषण देता है। अगर आप थका थका महसूस कर रहे हो तो 1 ग्लास ठंडा दूध आपको कुछ एनर्जी जरूर देगा। 
  • बढ़ाता है इम्युनिटी पावर : रोजाना दूध पीना आपको बीमारियों से लड़ने में मदत करता है। दूध के सेवन से लिवर के हानिकारक तत्व, कॉलेस्टेरॉल कम होने में मदत मिलती है। साथ ही हृदय को भी स्वस्थ रखता है। 


क्या है दूध पिने का सही तरीका ? 

दूध पिने के सही तरीके की जानकारी निचे दी गयी हैं :
  • दूध में मिठास के लिए शक्कर ना डालें। मीठा दूध कफकारक होता है। इसके अलावा शक्कर मिलाकर पीने से कैल्शियम नष्ट होता है। इसमें प्राकृतिक मिठास होती है अगर मीठे की जरूरत हो तो शहद, गुड़,  मनुका या मिश्री डालें। 
  • दूध को अधिक देर तक उबालने से इसमें मौजूद विटामिन बी नष्ट होता है। 1 उबाल आने पर इसे प्रयोग में ले। 
  • दूध में थोड़ा पानी मिला सकते है, ताकि वह पचने में भारी न हो। आप चाहे तो दूध में 1 चुटकी इलायची, सुंठ, केसर, जायफल,लौंग, दालचीनी का पावडर भी मिला सकते है, जिससे वह पेट मे जाकर गर्मी उतपन्न करता है, जिससे दूध आसानी से हजम हो सके। यह दूध कफकारक भी नही होता है।
  • याद रखे, खट्टे व नमकीन चीजों के साथ दूध का सेवन कभी न करे। आजकल फ्रूट्स और दूध मिलाकर फ्रूट सैलेड बनाया जाता है, जो कि आयुर्वेद के अनुसार विरुद्धान्न होता है। इससे कई तरह की त्वचा की समस्याएं होती है एवम शरीर के लिए नुकसानकारी होता है। 

क्या हैं दूध पीने का सही समय ?

दूध पिने के सही समय की जानकारी निचे दी गयी हैं : 
  • आयुवेद रात में दूध पीने को प्राथमिकता देता है। वैसे तो दूध सुबह भी लाभदायक होता है क्योंकि सूर्य की गर्मी के साथ इसका पाचन भी अच्छे से होता है एवम दिनभर एनर्जी भी बनी रहती है।  
  • रात को सोने से पहले दूध पिया जाए तो नींद अच्छी आती है व दिमाग शांत रहता है, क्योंकि दूध में अमीनो एसिड ट्रीप्टोपिन होता है, जो नींद के लिए आवश्यक हार्मोन सेरोटोनिन को बढ़ाता है। अगर आपको रात को सोने से पहले दूध पीना है तो शाम को भोजन के 3 घंटे होने के बाद दूध पिए, ताकी तब पेट खाली हो और दूध का पाचन आसानी से हो सके। 
  • बहुत ठंडे या बहुत गर्म दूध के के दूध के के बजाय गुनगुना या कमरे के तापमान के बराबर दूध पीना बेहतर होता है।
  • कोशिश करे कि, रात को दूध पीते वक्त उसमे 1 चम्मच गाय का घी मिलाकर पिएं। 
  • दूध को कभी भी भोजन के साथ नही पीना चाहिए, ऐसा करने से उसका पाचन सही नही होता है।

दूध पीने के नुकसान क्या हैं ?

  1. कई लोगों को दूध हज़म नही होता है। उन्हें पेट बार बार खराब होने या पेट फूलने की शिकायत रहती है। आजकल दूध की क़्वालिटी में पहले के तुलना में काफी गिरावट आने के कारण यह परेशानी होती है। 
  2. कई लोगों को दूध की एलर्जी होती है, जिसमे उन्हें दस्त लगती है या पेट मे मरोड़ आती है। यह उसमें मौजूद लैक्टोज़ इनटॉलेरेंस के वजह से होता है। 
  3. आजकल पैकेट वाला दूध काफी इस्तेमाल होता है , जो न कि ताज़ा होता है न ही जैविक। जो शरीर को नुकसान कर सकता है। कोशिश करे, की ताजा, बिना पैकेट वाला दूध ही प्रयोग करे। 
  4. जो लोग कफ प्रकृति के हो, जिनका पाचन कमजोर रहता हो, पेट मे कीड़े होते हो या पेट बार बार खराब होता हो, उन्हें दूध पीने से बचना चाहिए या दूध में सौंठ और काली मिर्च मिलाकर पीना चाहिए।
तो यह है दूध के फायदे, नुकसान, दूध पीने का सही समय व तरीका आदि के बारे में जानकारी। दूध के गुणों के कारण इसे सर्वश्रेष्ठ आहार भी कहा जाता है। हमे इसे सही तरीके से अपनाकर इसके लाभ जरूर उठाने चाहिए।

अगर आपको यह दूध के फायदे और नुक्सान की जानकारी उपयोगी लगी है तो कृपया इसे शेयर अवश्य करे !
देखे हमारे उपयोगी हिंदी स्वास्थ्य वीडियो ! Youtube 21k
अपनी दवा पर 20% बचत करे !
अपनी दवा पर 20% बचत करे !

Loading

Thursday, November 02, 2017 2017-11-02T06:56:41Z

1 comment:

  1. बहुत स्वास्थ्यवर्धक पोस्ट.
    धन्यवाद

    ReplyDelete

Follow Us