रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय
Home रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय

सौंठ के 11 जबरदस्त घरेलु स्वास्थ्य फायदे

By Dr Paritosh Trivedi On, Monday, June 5, 2017


सुखी अदरक (Dry Ginger powder) को सौंठ (Sonth) कहते हैं जिसे सब्जीया, चाय में बतौर मसाला प्रयोग कर सकते हैं। सर्दियों में खांसी-जुखाम आदि समस्याओं को दूर रखने के साथ अन्य मौसमी बीमारियों से बचाने में अदरक ताजा और सूखी दोनों रूप में उपयोगी है। आयुर्वेद में इसे औषधि के रुप में इस्तेमाल करते हैं। 

अदरक ऐसे तो हमारे रसोईघर में हमेशा से होता है और सर्दी-खांसी और जुखाम के लिए हम इसका शहद और तुलसी के साथ उपयोग भी करते आ रहे है पर क्या आप जानते है की सुखी अदरक जिसे सौंठ कहते है एक बेहद उपयोगी घरेलु औषधि हैं। इसका उपयोग स्वास्थ्य से जुड़े कई समस्या को ठीक करने के लिए किया जाता हैं। 

आज इस लेख में हम आपको सौंठ के 11 विशेष घरेलु उपयोग की जानकारी देने जा रहे हैं। अधिक जानकारी के निचे दी गयी हैं :

sonth-ke-fayde-gharelu-upyog

सौंठ के 11 जबरदस्त घरेलु स्वास्थ्य फायदे 11 Health benefits of Dry Ginger (Sonth) in Hindi

  1. कब्ज दूर करें / Constipation : एक चम्मच सोंठ के पाउडर को एक गिलास पानी में उबालें। गुनगुना इसे दिन में एक बार पीने से कब्ज की समस्या में राहत होगी। इस रोग में यह रामबाण है। 
  2. कफ नाशक / Cough reliever : आधा चम्मच सौंठ के पाउडर के साथ मुलेठी के एक चम्मच चूर्ण को मिलाकर पानी में उबालकर गुनगुना पीने से गले में जमा कफ निकल जाएगा। यह खांसी की दिक्कत में भी आराम देता है।
  3. संक्रमण / Infection : पेशाब में संक्रमण की परेशानी है तो सौंठ का प्रयोग लाभदायक हो सकता है। इसके लिए एक गिलास दूध में आधा चम्मच सोंठ पाउडर और एक चम्मच चीनी मिलाकर पिए। इससे पेशाब करने के दौरान होने वाले दर्द में भी कमी आएगी। 
  4. हिचकी / Hiccoughs : अगर किसी व्यक्ति को लगातार हिचकी आ रही हो और कोई भी उपाय करने पर वह ठीक नहीं हो रही हो तो उसे सौंठ से रोक सकते हैं। सौंठ को दूध में उबाले और दूध को ठंडा कर पिलाये। हिचकी आना बंद हो जाएगी। 
  5. दांत दर्द में फायदेमंद / Toothache : मसूड़ों में सूजन या दांत दर्द से पीड़ित है तो आधा चम्मच सोंठ पाउडर में चुटकी भर हल्दी मिलाकर मिश्रण बनाले। प्रभावित हिस्से पर इससे लगाने से फायदा होगा। 
  6. माइग्रेन / Migraine : एक गिलास गुनगुने पानी में एक चम्मच सौंठ का पाउडर मिलाकर पीने से माइग्रेन में आराम मिलता है। 
  7. कैंसर / Cancer : सौंठ में मौजूद तत्व कैंसर पेशी का सफाया करते है। इसके नियमित सेवन से कैंसर की आशंका कम हो जाती हैं। 
  8. पाचन / Digestion : सौंठ कब्ज को दूर करने के साथ-साथ पाचन भी ठीक करता हैं।  पाचन से जुडी समस्या में यह एक बढ़िया औषधि हैं। खाना खाने के बाद पेट फूलने की समस्या भी इससे कम होती हैं। 
  9. जोड़ों में दर्द / Joint pain : जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए आप सौंठ का उपयोग कर सकते हैं। सौंठ और पइसे हुए जायफल के मिश्रण को तिल के तेल में मिलाकर इस तेल से रोजाना घुटनों की मालिश करे। गुनगुने पानी में शहद और सौंठ मिलाकर पिने से भी जोड़ों के दर्द में राहत मिलती हैं। 
  10. मोटापा / Obesity : फैट को कम करने के लिए भी सौंठ उत्तम माना जाता हैं। इसमें थर्मोजेनिक एजेंट होता है जो वसा को कम करता है और पेट की चर्बी कम करने में मदद करता हैं। 
  11. बुखार / Fever : बुखार होने पर शहद के साथ इसे मिलाकर चाटने से पसीना अधिक निकलता है जिससे बुखार तेजी से कम होता है और साथ ही पसीने के साथ शरीर के विषैले तत्व भी बाहर निकल जाते हैं। 
अगर यह स्वास्थ्य से जुड़ी जानकारी आप को उपयोगी लगती है तो कृपया इसे शेयर अवश्य करें !
Image source - foods.ndtv.com 
loading...

No comments:

Post a Comment