रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय
Home रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय

Pregnancy में 7 से 9 महीने (Third Trimester) में कैसा आहार लेना चाहिए ?

By Dr Paritosh Trivedi On, Wednesday, April 26, 2017


लगभग हर महिला का डॉक्टर से यह सवाल जरूर होता है की Pregnancy में हर trimester में कैसी Diet लेना चाहिए। प्रेगनेंसी के हर 3 महीने में गर्भवती महिला ने अपने गर्भ में पल रहे शिशु की जरुरत के अनुसार डाइट लेना जरुरी होता हैं।

प्रेगनेंसी के आखरी तीन महीनों में गर्भाशय का आकार बढ़ने से पेट के ऊपर दबाव आ जाता है और इस वजह से महिला अधिक आहार नहीं ले पाती हैं। इसके विपरीत गर्भ का विकास हो जाने से उसे अधिक पोषक तत्व और ऊर्जा की जरुरत होती हैं। 

प्रेगनेंसी के आखरी तीन महीनों में कैसा आहार लेना चाहिए और क्या सावधानी बरतनी चाहिए इसकी जानकारी निचे दी गयी हैं :

pregnancy-third-trimester-food-fruits-tips-in-hindi

प्रेगनेंसी के आखरी तीन महीनो में महिला ने कैसा आहार लेना चाहिए ? Pregnancy third trimester diet tips in Hindi

गर्भावस्था के आखरी तीन महीनों में महिला ने आहार संबंधी निचे दी हुई बातों का ख्याल रखना चाहिए :
  • अल्प आहार / Small Diet : प्रेगनेंसी के third trimester में गर्भ का विकास होने से पेट के ऊपर दबाव आता है और पेट में आमाशय / Stomach के लिए कम जगह रहती हैं। इस वजह से थोड़ा सा खाने पर भी पेट भरा हुआ लगता है और महिला अधिक आहार नहीं खा पाती हैं। गर्भवती महिला को और गर्भ को पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा और पोषण मिले इसलिए महिला ने हर 2 - 3 घंटे पर अल्पाहार करना चाहिए। थोड़ा-थोड़ा आहार खाने से पेट पर दबाव भी नहीं आता और माँ - गर्भ को पर्याप्त ऊर्जा और पोषण मिलता हैं। 
  • पानी / Water : प्रेगनेंसी के third trimester में गर्भाशय का दबाव पेट के निचे हिस्से पर आने से महिला को बारबार पेशाब लगती है और साथ में पेट पर दबाव आने से महिला अधिक पानी नहीं पि पाती है। शरीर में पानी की मात्रा पर्याप्त बनाये रखने के लिए महिला ने थोड़-थोड़ा पानी पिटे रहना चाहिए और दिनभर में 3 से 4 लीटर पानी पीना चाहिए। 
  • कैल्शियम / Calcium : प्रेगनेंसी के third trimester में शिशु के हड्डियों का विकास लगभग हो जाता है और उसमे कैल्शियम संचय होना जारी रहता हैं। ऐसे समय गर्भवती महिला और शिशु को पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम की आपूर्ति पर्याप्त मात्रा में होने के लिए दूध, दही, पनीर, बादाम, अंजीर और कैल्शियम की गोली का सेवन जरुरी होता हैं। प्रेग्नेंट महिला को इस समय 1000 से 1300 मिलीग्राम कैल्शियम रोजाना मिलना जरुरी होता हैं।         
  • फोलिक एसिड / Folic Acid : गर्भवती महिला हिमोग्लोबिन 12 ग्राम से ऊपर होना चाहिए। अगर रक्त में हिमोग्लोबिन की कमी है तो डॉक्टर से मिलकर हिमोग्लोबिन आयरन और फोलिक एसिड की दवा शुरू करना चाहिए। आयरन का पेट में अच्छे से अवशोषण होने के लिए साथ में विटामिन सी युक्त आहार भी साथ में लेना चाहिए। शरीर में खून की कमी दूर करने के लिए कौन सा आहार खाना चाहिए यह जानने के लिए यह लेख पढ़े – खून की कमी दूर करने के लिए कौन सा आहार खाना चाहिए ?         
  • फाइबर / Fiber : प्रेगनेंसी के तीसरे तिमाही में गर्भाशय के दबाव से महिलाओं को अक्सर कब्ज और बवासीर की शिकायत हो जाती है जो की प्रेगनेंसी में एक गंभीर समस्या हैं। कब्ज से छुटकारा पाने के लिए इस दौरान दिनभर में 8 से 10 गिलास पानी और अधिक फाइबर युक्त अनाज खाना चाहिए। साबुत अनाज, दलिया, फल, हरी पत्तेदार सब्जी, चुकंदर, गाजर, ककड़ी, टमाटर का सेवन करना चाहिए।  
  • प्रोटीन / Protein : प्रेगनेंसी के अंतिम तीन महीनो में शिशु का शारीरिक और मानसिक विकास तेजी से होता हैं। स्वस्थ शरीर और तेज दिमाग के लिए प्रोटीन बेहद जरुरी होता हैं। इसलिए प्रेगनेंसी के अंतिम तीन महीनो में गर्भवती महिला ने अधिक प्रोटीन युक्त आहार जैसे दालें, सोयाबीन, सुकमेवा, दूध, दही,पनीर को अपने आहार में समावेश करना चाहिए। प्रोटीन के सभी आहार स्त्रोत की जानकारी के लिए यह पढ़े - प्रोटीन के आहार स्त्रोत       

प्रेगनेंसी के तीसरे तिमाही में क्या न खाये ?
Foods to avoid in Third Trimester of Pregnanc

प्रेगनेंसी के अंतिम तीन महीनो में निचे दी हुई चीजों का सेवन न करे :
  1. शराब, धूम्रपान या तम्बाखू 
  2. चाय या कॉफ़ी 
  3. तीखा-मसालेदार 
  4. हॉटेल का खाना 
  5. बाजार में मिलनेवाला तैयार खाना 
  6. फ़ास्ट फ़ूड 
  7. कैफीन युक्त आहार 
Pregnancy के Third trimester में आप सही diet लेकर आप स्वयं को और अपने गर्भ में पल रहे शिशु स्वस्थ रखने के साथ सुरक्षित delivery की निश्चिती कर सकते हैं। आप इस दौरान अपने डॉक्टर द्वारा दी हुई विटामिन सप्लीमेंट्स भी जारी रख सकते हैं।    

अगर यह जानकारी आपको उपयोगी लगी है तो कृपया इसे शेयर अवश्य करे !
loading...

No comments:

Post a Comment