हस्थमैथुन से छुटकारा पाने के आसान उपाय Hasthamaithun ki lat chodne ke upay

हस्थमैथुन से छुटकारा पाने के आसान उपाय Hasthamaithun ki lat chodne ke upay हस्थमैथुन से छुटकारा पाने के आसान उपाय Hasthamaithun ki lat chodne ke upay
हस्थमैथुन / Hasthamaithun या अंग्रेजी में जिसे Masturbation कहा जाता है युवा आयु में लगने वाली एक ऐसी आदत है जिससे छुटकारा पाना बेहद मुश्किल हो जाता हैं। ऐसे तो अगर कोई व्यक्ति हस्थमैथुन कभी-कभी करता हो तो इससे कोई विशेष नुकसान नहीं होता हैं पर अगर किसी व्यक्ति को रोजाना हस्थमैथुन की आदत पद जाये तो इससे छुटकारा पाना बेहद जरुरी होता हैं।

कम उम्र में उचित सलाह और यौन शिक्षा न मिलने के कारन अक्सर बच्चे और युवा हस्थमैथुन के शिकार हो जाते हैं। हस्थमैथुन क्या है और इसके फायदे और नुकसान के बारे में हम विस्तार में पहले ही जानकारी दे चुके हैं। आज इस लेख में हम हस्थमैथुन की आदत से छुटकारा पाने के उपाय की जानकारी दे रहे हैं।

पढ़े : हस्थमैथुन के फायदे और नुकसान 

हस्थमैथुन या मुठ मारने की आदत से छुटकारा पाने के विविध उपाय की जानकारी निचे दी गयी हैं :

how-to-stop-masturbation-hindi-hastmaithun-chutkara-pane-ke-upay

हस्थमैथुन से छुटकारा पाने के उपाय
Hasthamaithun ki lat chodne ke upay
How to stop Masturbation Tips in Hindi

हस्थमैथुन या मुठ मारने की आदत से छुटकारा पाने के विविध उपाय की जानकारी निचे दी गयी हैं :
  • योग / Yoga : हस्थमैथुन से छुटकारा पाने के लिए हमारा अपने मन पर काबू पाना बेहद जरुरी होता हैं। योगासन, प्राणायाम और मैडिटेशन का अभ्यास कर हम हम काफी हद तक अपने विचारों और चंचल मन पर काबू पा सकते हैं। रोजाना मैडिटेशन और अनुलोम-विलोम का अभ्यास करे। 
  • दृढ़ संकल्प / Determination : हस्थमैथुन की लत से छुटकारा पाने के लिए दृढ़ संकल्प होना जरुरी होता हैं। जब कभी आपकी हस्थमैथुन की इच्छा हो तब आपको अपने संकल्प को याद करे और किसी अन्य काम में खुद को व्यस्त करे। आप चाहे तो कोई अच्छी किताब पढ़ सकते है या फिर कोई मोटिवेशनल विडियो देख सकते हैं। 
  • समय / Time : हस्थमैथुन का ख्याल अक्सर तब आता है जब व्यक्ति अकेला या बिन काम का होता हैं। हम सभी जानते है की खाली दिमाग शैतान का घर होता है और इसलिए ऐसा कोई विचार मन में ना आये इसलिए आपको अपने पुरे दिन का टाइम टेबल सेट करना चाहिए। अपने काम को, परिवार को और सेहत के लिए व्यायाम को पर्याप्त समय दे और इस तरह से प्लान बनाये की कोई बेकार समय न रहे। 
  • कामुक चीजे / Porn Material : अपने मोबाइल, लैपटॉप, कंप्यूटर और आसपास की सभी पोर्न / कामुक किताबे, विडियो आदि सामग्री को delete या नष्ट कर दे। इन्टरनेट पर भी आपके device से ऐसी कोई सामग्री surfing न हो इसलिए parenting control में जाकर adult चीजों को ब्लॉक कर दे। ऐसे मित्रों से भी दुरी बनाये जो आपका समय पोर्न से जुड़े जोक्स या कामुक बातें कर बर्बाद करते हैं। 
  • व्यायाम / Exercise : रोजाना कोई व्यायाम करने से आपका शरीर फिट रहेगा और सोच भी सकारात्मक रहेगी। अगर समय मिले तो शाम को भी व्यायाम करे और रात को भोजन करने के बाद टहले। ऐसा करने से रात में नींद जल्दी आएगी। अक्सर हस्थमैथुन की इच्छा रात में अधिक होती है और रात में थककर जल्द सोने से आप ऐसी इच्छा से बच सकते हैं।
  • आयुर्वेद / Ayurveda : आयुर्वेद में शरीर को स्वस्थ और दिमाग को तेज रखने के लिए ब्रम्हचर्य का महत्त्व बताया गया हैं। आयुर्वेद में यह भी कहा गया है की अत्याधिक हस्थमैथुन से शरीर का सार जिसे ओज कहा जाता है वह कम हो जाता है, जिससे शरीर निस्तेज और कमजोर हो जाता हैं। हस्थमैथुन को कण्ट्रोल करने के लिए आयुर्वेदिक डॉक्टर अश्वगंधा, शतावरी, ब्राम्ही जैसे आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल करते है जिससे मन और विचारों पर काबू पाया जा सकता है और बुरी आदतों से बचा जा सकता हैं। 
  • विशेषज्ञ की सलाह / Specialist opinion : अगर ऊपर दिए हुए सभी उपाय करने के बाद भी आप अधिक हस्थमैथुन की आदत से छुटकारा नहीं पा रहे है तो आपको विशेषज्ञ डॉक्टर या मनोचिकित्सक से मिलकर उनकी सलाह लेनी चाहिए।  
ऐसे तो कभी कबार हस्थमैथुन करने से कोई नुक्सान नहीं होता है पर समस्या यह है की एक दो बार इसे करने पर पुरुष या महिला को इसकी लत लग जाती जिससे शरीर पर शारीरिक और मानसिक विपरीत परिणाम हो सकते हैं। आशा है आपको यह जानकारी उपयोगी लगी होगी। अगर आपके पास भी हस्थमैथुन छुड़ाने का कोई अन्य उपाय है तो निचे comment में अवश्य लिखे हम उसे लेख में जरूर ऐड करेगे। 
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook, Whatsapp या Tweeter account पर share करे !
Designed by Freepik
देखे हमारे उपयोगी हिंदी स्वास्थ्य वीडियो ! Youtube 13k
अपनी दवा पर 20% बचत करे !
अपनी दवा पर 20% बचत करे !
loading...

Loading

Sunday, January 08, 2017 2017-07-20T12:23:45Z

No comments:

Post a Comment

Follow Us