डेंगू बुखार से जुड़े सवालों के जवाब

डेंगू बुखार से जुड़े सवालों के जवाब डेंगू बुखार से जुड़े सवालों के जवाब
हर वर्ष की तुलना में इस वर्ष भारत में डेंगू बुखार (Dengue Fever) का आतंक अधिक देखने को मिल रहा हैं। हर रोज अखबार में अलग-अलग जगहों पर Dengue Fever के फैलाव के बारें में पढने को मिलता हैं। Dengue Fever का संक्रमण इतना अधिक फैलने के बाद भी लोगों में इस रोग संबंधी जागरूकता का अभाव हैं।

Dengue Fever को लेकर समाज में कई तरह के मिथक फैले हुए हैं। आज इस लेख में हम, Dengue Fever से संबंधित ऐसी ही कुछ सामान्य मिथक को दूर करने का प्रयास कर रहे हैं।

Dengue Fever संबंधी मिथक और उनकी सच्चाई के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आगे पढ़े :

Dengue-fever-myths-facts-vaccine-treatment-in-Hindi
डेंगू बुखार - मिथक और सच 


डेंगू बुखार से जुड़े सवालों के जवाब  Dengue in Hindi

मिथक 1 - Dengue Fever, यह एक Swine flu की तरह संक्रामक रोग हैं !
सच - Swine Flu की तरह Dengue Fever भी Virus से होने के कारण लोगों में यह धारणा है की Dengue Fever भी एक संक्रामक रोग है जो की खांसने, छींकने या हाथ मिलाने से फैलता हैं। कुछ लोग तो Dengue Fever से पीड़ित लोगों से दुरी बनाकर रखते हैं। यह सच है की, Dengue Fever यह Dengue Virus के कारण होता है पर इसका फैलाव छूने से या साथ में बैठने से नहीं होता हैं। Dengue Fever का फैलाव एक मनुष्य से दुसरे मनुष्य में संक्रमित मच्छर के कांटने से होता हैं।

मिथक 2 - Dengue Fever यह एक सामान्य Viral रोग हैं !
सच - कुछ लोगों का यह मानना है की Dengue Fever एक सामान्य Viral रोग है इसलिए यह अपने आप ठीक हो जाता है और इस में डॉक्टर को दिखाने की जरुरत नहीं होती हैं। ज्यादातर मामलों में Dengue Fever अपने आप ठीक हो जाता हैं पर इस रोग में रोगी के Platelet count कम होने के कारण रोगी की स्तिथि गंभीर हो सकती है इसलिए समय पर डॉक्टर से राय लेकर ईलाज कराना जरुरी होता हैं।

मिथक 3 - Dengue Fever में केवल रात को मच्छर दानी लगाकर सोने से बचाव हो सकता हैं !
सच - यह सच है की Dengue Fever और मलेरिया जैसे मच्छर के कांटने से फैलनेवाले रोगों से बचने के लिए मच्छर दानी का उपयोग करना चाहिए। Dengue Fever के मच्छर ज्यादातर दिन के समय में कांटते है, इसलिए रात में मच्छर दानी का उपयोग करने के साथ दिन में भी मच्छर विरोधी उपकरणों का उपयोग करना जरुरी हैं। जिस क्षेत्र में Dengue Fever के मामलें ज्यादा पाए जाते है वहा पर लोगो ने अधिक सतर्कता निभाना जरुरी हैं।


मिथक 4 - Dengue Fever होने पर रोगी को अस्पताल में दाखिल करना जरुरी हैं !
सच - Dengue Fever के सभी मामलों में अस्पताल में दाखिल होना जरुरी नहीं हैं। अगर आपको ज्यादा तेज बुखार नहीं हैं, ज्यादा कमजोरी नहीं हैं, आप ठीक से खाना रहे है और आपका Platelet count 50 हजार से ज्यादा है तो आपको अस्पताल में दाखिल होने की जरुरत कम होती हैं। आपको अस्पताल में दाखिल होना चाहिए है या नहीं इसका सही निर्णय आपके डॉक्टर कर सकते है इसलिए घबराकर अस्पताल में दाखिल होने की जिद न करे।

मिथक 5 - Dengue Fever होने पर पपीते का पत्तों का रस पीना चाहिए। 
सच - कई रोगियों में Platelet count कम हो जाने पर पपीते का पत्तों का रस पिने पर फायदा होते हुए देखा गया है पर इस पर न तो कोई रिसर्च हुआ हैं और न ही इसका कोई ठोस पुरावा हैं। अगर आपको acidity की तकलीफ नहीं है और आप इसे पचा सकते है तो ही इसका उपयोग करे। अब मेडिकल पर papaya extract युक्त दवा मिल रही है जिनका आप इस रस की जगह अपने डॉक्टर की सलाह लेकर इस्तेमाल कर सकते हैं। Dengue Fever के ज्यादातर मरीजों में recovery phase में आने पर अपने आप platelet count बढ़ना शुरू हो जाता हैं।

मिथक 6 - बुखार के साथ आपके blood report में low platelet count आना मतलब आपको Dengue Fever है !
सच - Dengue Fever के अलावा ऐसे अनेक कारण है जिसमे बुखार भी आता है और platelet count भी कम हो जाता है, इसलिए अपनी report देखकर घबराने की कोई जरुरत नहीं हैं। Dengue Fever की कोई विशेष दवा या इंजेक्शन नहीं आता है इसलिए अगर आपके पास पैसो की कमी है तो Dengue Fever की महेंगी जांच कराने की जिद न करे। Dengue Fever की रिपोर्ट positive आने पर भी डॉक्टर आपके लक्षणों के अनुसार ही दवा देते हैं।


मिथक 7 - एक बार Dengue Fever से ठीक हो जाने पर आपको दोबारा Dengue Fever होने का खतरा नहीं होता हैं !
सच - किसी भी व्यक्ति को Dengue Fever यह Dengue Fever के 4 प्रकारों में से किसी एक प्रकार के virus से होता हैं। एक बार जब आपको Dengue Fever होता है और आप उससे ठीक हो जाते है तब आपको उस एक प्रकार के Dengue Fever के virus से हमेशा के लिए प्रतिरोधक शक्ति (Immunity) मिल जाती है पर अन्य प्रकार के Dengue Fever virus से आपको दोबारा Dengue Fever हो सकता हैं। याद रहे की यह दूसरी बार होने वाला Dengue Fever अधिक गभीर होने का खतरा अधिक रहता हैं।

मिथक 8 - MR XYZ डॉक्टर के पास Dengue Fever की शर्तिया दवा मिलती हैं !
सच - अगर कोई व्यक्ति या डॉक्टर यह कहता है की उसके पास Dengue Fever का शर्तिया दवा या वैक्सीन है तो यह आज की तारीख में 100% झूट हैं। आज की तारीख (16/09/2015) तक Dengue Fever की कोई विशेष दवा या वैक्सीन नहीं बनी हैं और इसलिए अगर कोई ऐसा दावा करता है और आपसे अधिक पैसे लेता है तो यह शर्तिया ठगी का मामला हैं। Dengue Fever के ज्यादातर मामलों में रोगी की रोग प्रतिकार शक्ति स्वयं ही ठीक कर देती है और इसका फायदा उठाकर कई लोग ज्यादा पैसा वसूल करते हैं।

मिथक 9 - ऊँची मंजिलो पर रहनेवाले लोगो को Dengue Fever नहीं होता हैं !
सच - Dengue Fever फैलाने वाले Aedes aegypti मच्छर ज्यादा ऊपर तक नहीं उड़ते है पर लिफ्ट से यह उपरी मंजिलो तक पहुच सकते हैं। अगर उपरी मंजिलो पर पानी जमा होता है तो ऐसी जगह पर breeding कर इनकी संख्या भी बढ़ सकती हैं और Dengue Fever फ़ैल सकता हैं।

मिथक 10 - किसी भी मच्छर के कांटने से Dengue Fever फ़ैल सकता हैं !
सच - Dengue Fever केवल संक्रमित (Infected) Female Aedes Aegypti मच्छर के कांटने से फैलता है। अगर आपको किसी मच्छर ने काँटा हैं तो घबराने की जरुरत नहीं है, यह जरुरी नहीं की वह Dengue Fever फ़ैलाने वाला मच्छर ही हैं। फिर भी, मच्छर कांटने से फैलने वाले Dengue Fever और मलेरिया जैसे रोगों से बचने के लिए मच्छर विरोधी उपाय योजना करना जरुरी हैं।

बोनस टिप - डेंगू बुखार ठीक होने के क्या लक्षण हैं ?
जवाब - डेंगू बुखार ठीक होने के लक्षण निचे दिए गए हैं।

  1. बुखार न आना 
  2. शरीर पर खुजली आना। हमारा अनुभव है की कई रोगी में डेंगू ठीक होने पर रोगी को शरीर पर थोड़ी खुजली होना शुरू होता हैं। 
  3. ब्लड रिपोर्ट में सफ़ेद रक्त कण यानि की WBC का बढ़ना। शुरुआत में WBC कम होते है और जैसे जैसे शरीर में डेंगू के खिलाफ रोगप्रतिरोधक शक्ति निर्माण होने लगती है WBC का प्रमाण धीरे धीरे सामान्य होने लगता हैं। 
  4. ब्लड रिपोर्ट में प्लेटलेट की संख्या बढ़ना। डेंगू में पहले रोगी के प्लेटलेट की मात्रा कम होती है और इनका प्रमाण धीरे-धीरे फिरसे सामान्य होना शुरू हो जाता हैं। यह संकेत है की आप अब ठीक हो रहे हैं। 
  5. रोगी को भूख अच्छे से लगना, कमजोरी कम होना और बदनदर्द में कमी यह भी डेंगू ठीक होने के लक्षण हैं। 
  6. रोगी को डेंगू के सारे लक्षण ठीक होने में 10 से 15 दिन का समय लग सकता हैं। 

Dengue Fever क्या है और इससे बचने के लिए हमने क्या करना चाहिए इसकी सम्पूर्ण जानकरी लेने के लिए यहाँ क्लिक करे - डेंगू बुखार की सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में !

Image courtesy of David Castillo Dominici at FreeDigitalPhotos.net

यह जानकारी अवश्य पढ़े :
  1. High Blood Pressure को कम करने के उपाय 
  2. गुनगुने पानी के साथ निम्बू और शहद लेने के फायदे !
  3. अब बालों का झड़ना रोकना है आसान !
  4. मोटापा कम करने के आसान उपाय !
  5. वजन बढ़ाने के उपाय !
  6. पेट की चर्बी कैसे कम करे ? पढ़े सरल उपाय 
  7. कब्ज / Constipation से छुटकारा पाने के घरेलु उपाय 
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook , Whatsapp या Tweeter account पर share जरुर करे !
Keywords - Dengue fever myths and facts in Hindi. डेंगू बुखार - मिथक और सच.
देखे हमारे उपयोगी हिंदी स्वास्थ्य वीडियो ! Youtube 16k
अपनी दवा पर 20% बचत करे !
अपनी दवा पर 20% बचत करे !

Loading

Tuesday, September 15, 2015 2018-10-15T09:28:23Z

7 comments:

  1. Replies
    1. धन्यवाद अरुण कुमारजी !

      कृपया इस जानकारी को अपने मित्रों के साथ share जरुर करे !!

      Delete
  2. thank you sir....... etna kuch batane ke liya

    ReplyDelete
  3. खूप उपयुक्त माहिती. Dragon fruit चा उपयोगही परिणामकारक आहे

    ReplyDelete
  4. Hello Doctor

    Sir Mujhe stomach mei proplem chal rahi hai jab se dengue hai..
    ab dengue to nahi hai par stomach mei lower side mei center mei thoda bhi pressure padne par latrine mei blood aata hai..aur stomach bhi pehle jaisa strong nhi raha ..
    please kuchh sujhaav bataiye doctor ..
    Thank you.

    ReplyDelete
    Replies
    1. Apko doctor se milkar pet ki sonography aur endoscopy karana chhaie.

      Delete

Follow Us