रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय
Home रोग योग आयुर्वेद डाइट सलाह सभी लेख परिचय

अंकुरित अनाज के स्वास्थ्य संबंधी फायदे

By Dr Paritosh Trivedi On, Saturday, June 27, 2015


आज की युवा पीढ़ी को आहार में Fast food लेना ज्यादा पसंद हैं। असल में देखा जाये तो इस आहार में आवश्यक पोषक तत्व जैसे की प्रोटीन, विटामिन और फाइबर का अभाव रहता हैं। Fast food में अम्लीयता और देर से पचने वाले तत्वों का प्रमाण ज्यादा रहता हैं। यह तत्व लम्बे समय तक आंतो में चिपके रहने से सड जाते और अनेक पाचन संबंधी रोग को जन्म देते हैं।

अच्छा पोषण सभी के सेहत के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण होता हैं। अंकुरित अनाज सभी पोषक तत्वों से भरपूर होने के कारण शरीर को स्वस्थ और मजबूत रखने के लिए इनका सेवन जरुर करना चाहिए। अंकुरित अनाज यह अन्य फलो और सब्जियों की तुलना में सस्ते है और इन्हें बनाना भी अन्य आहार बनाने की तुलना में बेहद आसान हैं। अंकुरित अनाज न केवल हमारे शरीर का पोषण करता है बल्कि हमारे समय और पैसो की बचत भी करता हैं।

अंकुरित अनाज कैसे बनाते है और इसके स्वास्थ्य संबंधी लाभ की अधिक जानकारी निचे दी गयी हैं :
Health benefits of Sprouted grains in Hindi

अंकुरित अनाज कैसे बनाते हैं ?

अंकुरित अनाज में आप मुंग, चना, मूंगफली, मसूर, सोयाबीन, काले चने इत्यादि का उपयोग कर सकते हैं। कुछ लोग तो गेहू को भी अंकुरित कर खाना पसंद करते हैं। यह कम खर्चीला है और एक उत्तम, स्वादिष्ठ और पोषक नाश्ता हैं।
  • अंकुरित करने वाले बीजो को पहले अच्छे से साफ कर पानी से धोना चाहिए। उसमे से मिट्टी, कंकड़ और खराब बिज को निकाल देना चाहिए। 
  • साफ़ किये हुए बिज को 8 से 10 घंटो तक स्वच्छ पानी में भिगोकर रखे। 
  • अगले दिन सुबह उन बीजो को निकालकर दुबारा पानी से साफ़ करे और एक सूती कपडे में बांध कर उपयुक्त स्थान पर रखे। 
  • लगभग 24 घंटो में बिज अंकुरित हो जाते हैं। 
  • अंकुरित अनाज का उपयोग करने से पहले फिर से स्वच्छ पानी से धोना चाहिए। 
  • इसमें स्वदानुसार हरी मिर्च, ककड़ी, टमाटर, धनिया इत्यादि मिला सकते हैं। 
  • अंकुरित अनाज का प्रारंभ में अल्प मात्रा में खाना चालू करे और धीरे-धीरे इनकी मात्रा बढ़ाना चाहिए। 
  • इन्हें पूर्ण रूप से चबाकर खाना चाहिए। 
  • जिनके दातं नहीं है उन्हें अंकुरित अनाज का पेस्ट बनाकर खिलाना चाहिए। 

अंकुरित अनाज के स्वास्थ्य संबंधी फायदे Health Benefits of Sprouted Grains in Hindi 

अंकुरित अनाज के स्वास्थ्य संबंधी फायदे निचे दिए गए हैं :
  • पोषक तत्व : अंकुरित अनाज में भरपूर मात्रा में लगभग सभी पोषक तत्व होते है। अंकुरित अनाज में रोग प्रतिकार शक्ति को बढ़ावा देनेवाले Anti-Oxidants, रक्त में हिमोग्लोबिन की मात्रा को बढाने के लिए लोह तत्व, हड्डियों को मजबूती प्रदान करने के लिए कैल्शियम और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जरुरी सभी विटामिन और मिनरल्स पर्याप्त मात्रा में रहते हैं। 
  • प्रोटीन तत्व : अंकुरित अनाज से हमें प्रोटीन मिलता हैं। शाकाहार करने वाले व्यक्तिओ के आहार में प्रोटीन की कमी पायी जाती हैं। अंकुरित अनाज को अपने आहार में शामिल कर हम यह कमी दूर कर सकते हैं। हमें अपनी रोग प्रतिकार शक्ति बढ़ानी हो या मसल्स को मजबूत करना हो, शरीर को इसके लिए प्रोटीन्स की जरुरत होती हैं। प्रोटीन्स के स्वास्थ्य संबंधी अन्य लाभ जानने के लिए यह पढ़े - प्रोटीन्स के लाभ 
  • वजन नियंत्रण : ज्यादातर युवा पीढ़ी नाश्ते में अधिक calorie युक्त fast food का सेवन करते हैं। इनमे पोषक तत्व की कमी रहती है और calories की अधिकता के कारण वजन भी बढ़ जाता हैं। अंकुरित अनाज पोषक तत्वों से भरपूर होने के बावजूद भी इनमे calories की कमी रहती हैं। मोटापा से पीड़ित व्यक्तिओ के लिए यह श्रेष्ठ आहार हैं। अंकुरित अगर लेने से हमें पोषक तत्व भी मिलते है और वजन बढ़ने का खतरा भी कम रहता हैं। 
  • इसे पढ़ना ना भूले : कितना होना चाहिए आपका वजन ?
  • पाचन शक्ति : अंकुरित अनाज खाने से पाचन शक्ति मजबूत होती हैं। अंकुरित अनाज में फाइबर भी अधिक मात्रा में रहता हैं। फाइबर के कारण यह आसानी से जल्द हजम हो जाते है और कब्ज, अम्लपित्त और गैस की तकलीफ नहीं होती हैं। 
  • नाश्ता : Fast food की तुलना में अंकुरित अनाज एक बेहतरीन विकल्प हैं। यह ज्यादा पौष्टिक, कम खर्चीला, दुष्परिणाम रहित, बनाने में आसन और वजन को नियंत्रण करने में सहायक हैं।  
अंकुरित अनाज सभी आयु के वर्गों के लिए एक उत्तम आहार हैं। नवजात शिशु और गर्भिणी महिला को भी शरीर और मानसिक दुर्बलता दूर करने के लिए इनका उपयोग किया जा सकता हैं। आप अपने स्वादानुसार इसमें प्याज, निम्बू, टमाटर, धनिया, काली मिर्च इत्यादि मिलाकर और भी स्वादिष्ठ बनाकर उपयोग कर सकते हैं।

उपयोगी जानकारी - गुनगुने पानी के साथ निम्बू और शहद लेने के फायदे !

अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plusFacebook  या Tweeter account पर share जरुर करे !
loading...

1 comment:

  1. ankurit anaj ko kaccha kha sakate hai ya nahi...........

    ReplyDelete