तंबाकू / Tobacco, दुनिया में सबसे ज्यादा प्रयोग किए जाने वाले नशे के प्रकारों में से एक है। यह गुटखा, जर्दा, खैनी, बीडी, सिगरेट, हुक्का, चिलम आदि अनेक रूपों में प्रयोग किया जाता है। तंबाकू उत्पादों का सेवन धीमी मौत के रूप में काम करता है। तंबाकू उत्पाद कैंसर, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, धमनी कठिनता, एसिडिटी, अल्सर आदि अनेक रोगों का कारण है। 

लोगों में तंबाकू का सेवन का प्रमाण कम करने के लिए और तंबाकू के दुष्परिणाम से जुडी जागरूकता निर्माण करने के लिए सरकार की तरफ से कई कार्यक्रम चल रहे है परन्तु फिर भी लोग इसकी आदत से छुटकारा पाने में असफल रहते हैं। अधिकतर लोग मित्रों का दबाव, शौकिया, फिल्मों से प्रेरित होकर, पारिवारिक माहौल, गलत संगत आदि कारणों से तंबाकू का सेवन करना शुरू करते हैं। 

आज इस लेख में हम आपको तंबाकू की आदत से छुटकारा पाने के कुछ आसान आयुर्वेदिक घरेलु उपाय की जानकारी देने जा रहे है जिन्हे अपनाकर आप सफलतापूर्वक इस जहरीले तंबाकू की आदत को छोड़ पाएंगे। 
तंबाकू की आदत छोड़ने के आयुर्वेदिक घरेलू उपाय की जानकारी निचे दी गयी हैं :


how-to-quit-tobacco-in-hindi-tambaku-chodne-ke-upay

तंबाकू की आदत छोड़ने के 7 आयुर्वेदिक घरेलू उपाय 

Ayurveda Home remedies to quit Tobacco in Hindi

तंबाकू में प्रमुख एक्टिव तत्व निकोटिन है। इसके नियमित सेवन से कैंसर और ह्रदय रोग जैसे गंभीर दुष्परिणाम होते हैं। अचानक तंबाकू की लत को छोड़ने से भी कमजोरी, थकान, बैचेनी, हाथ-पैर कांपना, जी मचलाना, चक्कर आना जैसे तंबाकू बंद करने (विथड्रावल) के लक्षण नजर आते हैं और पीड़ित दुबारा तंबाकू का सेवन करना शुरू कर देता हैं। 

आज इस लेख में हम आपको ऐसे आयुर्वेदिक घरेलु जड़ीबूटी की जानकारी देने जा रहे है जिससे तंबाकू की आदत से भी छुटकारा मिलता है और इसे छोड़ने से शरीर पर होनेवाले प्रारंभिक लक्षण भी कम होते हैं जिससे पीड़ित सफलतापूर्वक तंबाकू को छोड़ पाता हैं। 
  1. आंवला : 100 ग्राम चुकंदर के रस में कद्दूकस से कसे हुए आंवले के टुकड़े इतने डालें जो रस में डूब जाए। हल्का काला नमक डालें। सब को अच्छे से मिक्स करके दो से तीन दिन छाया में सुखा कर रख ले। नशे की तलब होने पर तीन चार टुकड़े मुंह में रखकर चबाए। तलब कम करने, पाचन ठीक करने और भूख बढ़ाने में यह उपयोगी उपाय है। 
  2. अदरक : अदरक के छोटे-छोटे टुकडे करें। इसमें थोड़ा नींबू का रस एवं थोड़ा सा काला नमक डाल ले। धूप में सुखा लें। एक-दो टुकड़े दिन में तीन-चार बार चबाना तंबाकू-बीड़ी-सिगरेट की तलब को कम करने, गैस, एसिडिटी, अपचन में बहुत फायदेमंद है। 
  3. अजवाइन : समान मात्रा में अजवाइन और सौंफ लेकर तवे पर भुने। इसमें स्वादानुसार निम्बू का रस मिलाये। जब भी तंबाकू या बीड़ी-सिगरेट पिने की इच्छा हो तो इस मिश्रण के कुछ दाने मुंह में रखे और चबाये। इससे तंबाकू की तलब कम होगी और पाचन भी बढ़िया रहेगा।  
  4. मुलहटी : खांसी, सिरदर्द, जुखाम जैसे तंबाकू छोड़ने के लक्षण होने पर मुलहटी का टुकड़ा मुंह में रख कर चूसे या मुलहटी पाउडर आधा चम्मच की मात्रा में थोड़ा शहद मिलाकर चाटे। 
  5. निम्बू : 250 ml गुनगुने पानी में आधा निम्बू का रस और दो चमच्च शहद मिलाकर रोज सुबह खाली पेट पिने से भी तंबाकू की तलब धीरे-धीरे कम होगी और शरीर में मौजूद निकोटिन आदि विषैले तत्व बाहर निकालेंगे। 
  6. हरड़ : कब्ज, गैस, एसिडिटी, भूख न लगना जैसे लक्षणों में हरड़ उपयोगी है। कब्ज होने पर आधा से एक चम्मच की मात्रा में इसका चूर्ण रात में गर्म पानी के साथ ले। नशे की तलब होने पर हरड़ वटी या कच्ची हरड़ के टुकडे, आंवले के टुकडे, सौंफ, इलायची मिलाकर चबाएं। 
  7. असगंध : हाथ-पैर कांपना, कमजोरी, थकान, बदन दर्द, अनिद्रा, तनाव जैसे लक्षणों में 3 से 5 ग्राम असगंध पाउडर सुबह शाम दूध के साथ लेना लाभदायक है। 
Click करे और अवश्य पढ़े - धूम्रपान / Smoking छोड़ने के उपाय
यदि नशा करते हुए ज्यादा समय नहीं हुआ है और नशे की मात्रा भी कम है तो यह उपाय बहुत फायदेमंद साबित होते हैं। यदि ज्यादा मात्रा में और काफी समय से नशा कर रहे हैं तो डॉक्टर से अवश्य राय लेना चाहिए। नशे से जुड़े माहौल को पूरी तरह बदलने की कोशिश करें और नशे को छोड़ने का मजबूत संकल्प लें। 

हर वर्ष भारत में लाखो लोग की मृत्यु तंबाकू से होनेवाले दुष्परिणाम के कारण होती हैं। अगर यह तंबाकू की आदत से छुटकारा पाने के आयुर्वेदिक घरेलु उपाय की जानकारी आपको उपयोगी लगती है तो कृपया इसे शेयर अवशय करे ! आपका एक शेयर किसी परिवार को बचा सकता हैं ! धन्यवाद !! 
loading...
Labels:

Post a Comment

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.