सूखे मेवों में बादाम के पश्चात अखरोट का अपना खास महत्व होता है। इसे अंग्रेजी में Walnut कहा जाता है।  अखरोट की गिरी स्वादिष्ट, पुष्टिकारक तथा शक्तिवर्धक होती है। अखरोट बोने के 30 से 40 वर्ष बाद इस पर फल लगते हैं। फलों को तोड़ कर किसी सुरक्षित स्थान पर रख देते हैं। तीन मास बाद इन फलों के अंदर का  दूध सुख कर गिरी का रूप धारण करता है। 

ऊंचे पर्वतों पर पाए जाने वाला अखरोट पौष्टिक और रुचिकारक होता है। आयुर्वेद के अनुसार यह स्निग्ध, वीर्यवर्धक, कफपित्तकारक एवम दस्तकारी होता है। यह वातशामक होने से वात रोग में खासकर आमवात में विशेष लाभकारी होता है।

अखरोट जल, कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा, खनिज,  विटामिन बी, इ एवं लोह तत्व, कैल्शियम से युक्त होता है। यह कोलेस्ट्रॉल रहित होता है साथ ही इसमें सोडियम की मात्रा भी कम होती है। भारत में अखरोट का प्रयोग  लड्डू, केक, कुकीज, चॉकलेट्स और शेक आदि में किया जाता है।

अखरोट खाने से होनेवाले विभिन्न स्वास्थ्य लाभ की जानकारी निचे दी गयी हैं :

akhrot-walnut-health-benefits-hindi
अखरोट खाओ : फिट रहो

अखरोट खाने के फायदे और नुक्सान 
Health benefits and side effects of Walnut in Hindi

अखरोट खाने के स्वास्थ्य लाभ Health Benefits of Walnut in Hindi 

1. मस्तिष्क की कमजोरी / Sharp Mind 

प्रकृति ने हमें कुछ ऐसी चीजे दी है जिन का आकार, वर्ण या सुगंध से हम इनके फायदे के बारे में जान सकते हैं।  अखरोट का आकार मस्तिष्क के आकार से काफी मिलता जुलता होता है। इसलिए इसे ब्रेन फूड भी कहा जाता है। विटामीन E, ओमेगा 3 फैटी एसिड, एंटीऑक्सीडेंट्स का अच्छा स्त्रोत होने से इसके रोजाना सेवन से मस्तिष्क को ऊर्जा मिलती है। जो विद्यार्थी अपना दिमाग तेज और चुस्त करना चाहते हैं, साथ ही अपनी स्मरण शक्ति बढ़ाना चाहते हैं उन्हें रोजाना अखरोट का सेवन करना चाहिए। 

बुढ़ापे में होने वाली अल्ज़ाइमर्स जैसी बीमारी के रोकथाम लिए भी अखरोट का नियमित सेवन लाभकारी होता है। अखरोट को एक गिलास दूध के साथ सेवन करने से इसका फायदा ज्यादा होता है। अखरोट की गिरी 25 ग्राम की मात्रा में भोजन के साथ लगातार तीन मास तक खाने से मस्तिष्क की दुर्बलता नष्ट होती है।

प्रयोगविधि - कढ़ाई में थोड़ा देसी घी डालकर उसमें अखरोट की गिरी को थोड़ा देर भूनिये। फिर उसमे चीनी मिलाकर शीतल होने पर खाइए।

2. हृदय के लिए हितकारी / Strong Heart 

अखरोट में L arginine मौजूद होता है, इसके सेवन से दिल दुरुस्त रहता है और हृदय रोगों की संभावनाएं भी कम होती है। अखरोट के सेवन से तनाव का स्तर कम होकर ब्लड प्रेशर भी नियंत्रण में रहता है। 

3. एक्ज़िमा के लिए / Skin Disorder 

अखरोट की गिरी को एक्जिमा वाले स्थान पर लगाएं करीब 1 महीने में एक्जिमा ठीक हो जाएगा। 

4. शक्तिवर्धक / Health Tonic 

8 अखरोट की गिरी , 4 बादाम गिरी और 8-10 मनूका प्रतिदिन सुबह खाए और इसके पश्चात दूध पीए। इसके रोजाना सेवन से वृद्धों में भी ताकत आती है।

5. बच्चों में कृमि / Deworming

कुछ दिन शाम को बच्चों को दो अखरोट खिलाकर ऊपर से दूध पिलाएं इससे पेट में रहे कृमि बाहर निकल जाएंगे। 

6. पेट में मरोड़ / Abdominal Pain 

जिनको पेट में मरोड़ आती है एक अखरोट को पीसकर उसका लेप नाभि पर करें , मरोड़ आना बंद हो जाएगी।

7. पथरी का इलाज / Stone Problem

अखरोट को छिल्के सहित कूटकर छान लें। 1 चम्मच सुबह शाम लें और ऊपर से ठंडा पानी पिए कुछ दिनों में पथरी निकल जाएगी। 

8. बिस्तर में पेशाब / Bed-wetting

जिन बच्चों को रात में बिस्तर पर पेशाब करने की आदत हो उनके लिए दो अखरोट और करीब 20 किशमिश रात को खिलाए। ऐसा करीब 20 से 25 दिन करें यह आदत छूट जाएगी। 

9. फुंसिया / Acne

अगर फुंसियां अधिक निकलती हो तो साल भर नित्य 5 अखरोट खाने से धीरे-धीरे फुंसिया निकलना बंद हो जाएगी। 

10. सफेद दाग / Vitiligo 

अखरोट खाते रहने से धीरे धीरे सफेद दाग भी चले जाते हैं क्योंकि अखरोट में एक एसा तत्व होता है कि उसके जड़ों के पास की मिट्टी भी काली हो जाती है। 

11. अन्य उपयोग / Other
  • शाकाहारी लोगों के लिए यह प्रोटीन का एक अच्छा स्रोत है इसीलिए अगर आप वेजिटेरियन है तो इसे रोजाना खाना शुरू करें। 
  • स्तनपान कराने वाली माताए अगर गेहूं के आटे में अखरोट के पत्तों का चूर्ण मिलाकर इसकी गाय के घी में बनी हुई पुरिया करीब हफ्ताभर खाए तो दूध में वृद्धि होगी। 
  • अखरोट के तेल को 20 से 40 मिले की मात्रा में दूध के साथ प्रातः पीने से कब्ज की शिकायत नहीं रहती , पेट अच्छेसे साफ़ होकर पाचनतंत्र सही रहता है। 
  • अखरोट के सेवन से वजन घटाने में भी सहायता मिलती है। फाइबर की मात्रा अधिक होने से भूख पर नियंत्रण रहता है। जो व्यक्ति अपना वजन घटाना चाहते हैं उन्हें नित्य अखरोट का सेवन करना चाहिए।
  • टाइप टू डायबिटीज के मरीजों में अखरोट का सेवन लाभकारी होता है।
  • अखरोट में एंटी कैंसर तत्व पाए जाते हैं जिससे कई प्रकार के कैंसर से बचाव होता है।
  • जिन पुरुषों में स्पर्म काउंट की कमी हो उन्हें नित्य अखरोट का सेवन करना चाहिए। स्पर्म काउंट में वृद्धि होगी।
  • अगर आपको नींद नहीं आने की समस्या हो रही हो तो कुछ अखरोट रोजाना रात को दूध के साथ खाने की आदत डाल ले। धीरे-धीरे यह समस्या समाप्त हो जाएगी। 
  • रोजाना अखरोट का सेवन आपकी त्वचा को हेल्थी और ग्लोइंग बनाए रखता है। इससे त्वचा लंबे समय तक जवां रहती है, इसीलिए कई सौंदर्य उत्पादक में अखरोट का इस्तेमाल किया जाता है। 
  • अगर आप ग्लोइंग स्किन पाना चाहते हैं तो चार अखरोट,  दो चम्मच ओटमील, एक चम्मच शहद और एक चम्मच मलाई का पेस्ट बना लें, इसमें थोड़ा जैतून का तेल मिलाकर इस फेस पैक को करीब 30 मिनट चेहरे पर लगाएं। त्वचा पर ग्लो आ जाएगा। 
  • चेहरे की डेड स्कीन और गंदगी हटाने के लिए वालनट स्क्रब का इस्तेमाल करें। इसके लिए दो चम्मच अखरोट पाउडर एक चम्मच शहद और आधा नींबू का रस मिलाकर पेस्ट बनाएं इसे चेहरे पर 2 से 3:00 मिनट तक रगड़े और फिर कुछ देर रहने दें।  तत्पश्चात ठंडे पानी से धो लें इससे त्वचा की रूखी और बेजान डेड स्किन निकलकर त्वचा मुलायम और चमकदार हो जाएगी। 
  • अखरोट में जरूरी पोषक तत्व होते हैं। इसके तेल से बालों की नियमित मालिश करने से बाल घने मजबूत और सुंदर हो जाएंगे। 

अखरोट खाने के नुक़सान Side effects of Walnut in Hindi

  • अगर आपको नट्स खाने से एलर्जी होती है जैसे स्किन रैश, गले में जकड़न, या सांस लेने में तकलीफ तो आपको अखरोट नहीं खाना चाहिए।
  • काले अखरोट नहीं खाने चाहिए। इसमें आयरन का अवशोषण घटाने वाले तत्व पाए जाते हैं जिससे एनिमिया हो सकता है। काले अखरोट के प्रयिग से किडनी और लिवर डैमेज के कुछ केसेस भी सामने आये है। साथ ही त्वचा पर इनका प्रयोग भी नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें कुछ कैंसर कारक तत्व पाए जाते हैं।
  • खांसी में अखरोट का इस्तेमाल ना करें यह शरीर में पानी की कमी करता है और बुखार में दी जाने वाली दवाई का असर भी कम करता है। 
  • अखरोट के जरूरत से ज्यादा सेवन से दस्त, पेट दर्द आदि समस्या हो सकती है। 

अखरोट कब और कैसे खाना चाहिए ? How to eat Walnuts in Hindi

  • अखरोट खाने का सही समय शीत ऋतु होता है क्योंकि पचने में भारी होने से यह इस ऋतु में आसानी से पचते हैं और शरीर को ताकत भी देते हैं। 
  • अखरोट की गिरी को कभी भी छिलके के साथ खाएं क्योंकि इसके छिलके में 90% से अधिक पोषक तत्व होते हैं।
  • आप 1 दिन में पांच से छह अखरोट खा सकते है। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या डाइटिशियन से सलाह ले। 
अखरोट के फायदे उसकी नुकसान की तुलना में कहीं ज्यादा अधिक है। इसलिए इस एक सीमित मात्रा में अपने दैनिक दिनचर्या का हिस्सा बनाया है और इसके लाभ का मजा उठाए।
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook, Whatsapp या Tweeter account पर share करे !
Designed by Freepik
loading...
Labels:

Post a Comment

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.