आजकल के दौड़भाग के आधुनिक युग में तनाव और आहार की गलत आदतों के चलते कई लोग नींद की कमी यानि की अनिद्रा / Insomnia से परेशान हैं। ' जैसा अन्न, वैसा मन ', यह कहावत तो आप सभी ने सुनी होगी। लेकिन क्या आप जानते हैं कि जो अन्न हम खाते हैं उसका हमारी नींद पर गहरा प्रभाव पड़ता है तथा हमारी भोजन संबंधित आदतो से हमारी नींद भी प्रभावित होती है। 

इस संबंध में शोधकर्ताओं का मानना है कि अच्छी नींद में हमारे खान-पान की भूमिका बहुत अहम है। इस सम्बन्ध में अमेरिका में हुए 4 हजार से अधिक लोगों पर हुए शोध में यह पाया कि रोजाना 7 से 8 घंटे सोने के लिए शरीर में कैल्शियम, पोटैशियम तथा सेलेनियम जैसे मिनिरल्स की आपूर्ति बहुत आवश्यक है। दूध, बादाम, आलू तथा केले में यह मिनरल्स प्रचुर मात्रा में पाया जाता है एवं इनके सेवन से अधूरी नींद की संभावना में 15 से 20 फ़ीसदी की कमी आती है। 

नींद पूरी होने से अगले दिन सुबह ताजगी का अनुभव तो होता ही है साथ ही तनाव भी दूर होता है जिससे हमारी एकाग्रता में वृद्धि होती है तथा दिमाग भी तेज होता है। अनिद्रा की परेशानी से छुटकारा पाने के लिए और रोजाना अच्छी गहरी नींद पाने के लिए हमें अपने आहार में किन आहार पदार्थों का समावेश करना चाहिए इसकी जानकारी निचे दी गयी हैं :


insomnia-treatment-anidra-se-chutkara-pane-ke-upay-Hindi

अनिद्रा से छुटकारा पाने के लिए कैसा आहार लेना चाहिए ?Diet tips for Insomnia in Hindi Language

अनिद्रा से छुटकारा पाने के लिए निचे दिए हुए आहार पदार्थों का अपने दैनंदिन आहार में समावेश करना चाहिए : 
  • दूध / Milk : जिन व्यक्तियों को नींद आने में समस्या होती है वह यदि सोने से पहले गर्म दूध का सेवन करे तो अच्छी नींद आती है। इसका कारण यह है कि दूध में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम होता जो नींद में सहायक होता है। इसके अलावा चीज, दही तथा अन्य डेयरी के पदार्थ भी नींद के लिए उपयोगी होते हैं। 
  • बादाम / Almond : आमतौर पर लोग बादाम का सेवन दिमाग तेज करने के लिए करते हैं लेकिन हाल में हुए एक संशोधन में यह बात सामने आई है कि बादाम के सेवन से हमारे शरीर में उन रसायनों की पूर्ति होती है जो हमारी नींद में सहायक होते हैं। इस कारण से बादाम का सेवन हमारी नींद में सहायक होता है। 
  • चावल / Rice : आपने यह बात जरुर महसूस की होंगी कि चावल के सेवन के बाद हमारा शरीर भारी सा होने लगता है तथा हमें आलस का आभास होता है। परंतु हाल ही में हुए ऑस्ट्रेलिया में एक शोध में यह  पता चला है कि सफेद चावल में प्रचुर मात्रा में ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है जो हमारी नींद में सहायक होता है। सफ़ेद चावल का सेवन सिमित मात्रा में करे क्योंकि की इससे मोटापा बढ़ने का खतरा ही रहता हैं। 
  • नैसर्गिक चाय / Herbal Tea : कैमोमाइल टी तथा अन्य भी कई हर्बल चाय ऐसी है जिसे पीने से हमारी नसों को आराम मिलता है जिस वजह से हमें नींद सरलता से आती है। 
  • शहद / Honey : शहद में प्राकृतिक रूप से शक्कर तथा ग्लूकोस पाया जाता है जो हमारी नींद के लिए उपयोगी होता है। इसलिए हम शहद को अपने आहार में शामिल करके बेहतर नींद पा सकते हैं। अगर आप चाहें तो इसे कैमोमाइल टी तथा दूध के साथ भी ले सकते हैं। 
  • अनाज तथा दालें / Cereals : अनाज तथा दालें से कार्बोहाइड्रेट तथा प्रोटीन जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व पर्याप्त मात्रा में होते हैं तथा यह सरलता से प्राप्त हो जाते हैं जो हमारे नींद के लिए उपयोगी होते हैं। 
  • वसा / Fat : वसा को पराया हम मोटापे से जुड़कर ही देखते हैं परंतु ऐसा नहीं है। कुछ वसायुक्त पदार्थ जैसे नारियल तेल तथा एमसीडी तेल हमारे नींद के लिए बहुत उपयोगी है। तथा कुछ वनस्पति तेल भी इसके लिए कारगर है। 
  • चेरी / Cherry : विशेषज्ञों का कहना है कि प्रतिदिन एक गिलास चेरी के जूस का सेवन अनिद्रा के रोग को पूरी तरह खत्म कर देता है। अतः आप चेरी का सेवन द्वारा अनिद्रा से मुक्ति पा सकते हैं। 
  • अखरोट / Walnut : अखरोट से हमें काफी मात्रा में ट्रिप्टफैन होता है जिसके कारण इसका प्रयोग हमें नींद के लिए बहुत कारगर होता है। 
  • मछली का तेल / Fish Oil : विभिन्न अध्ययनों द्वारा यह बात सिद्ध हुई है कि मछली का तेल का सेवन ना सिर्फ हमारे हृदय तथा मस्तिष्क के लिए उपयोगी होता है बल्कि यह हमारी नींद में भी सहायक होता है। 
जैसे अच्छा आहार और व्यायाम हमारे शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जरुरी है ठीक उसी तरह अच्छी गहरी नींद भी हमारे शरीर को आराम और रिचार्ज करने के लिए बेहद जरुरी हैं। यह लेख हमे हमारे पाठक संदीप संघवी ने ग्वालियर से ईमेल द्वारा भेजा हैं। निरोगिकाया परिवार की ओर से उन्हें बहोतबहोत धन्यवाद। अगर आपके पास भी कोई उपयोगी स्वास्थ्य जानकरी है तो हमें अपने परिचय के साथ ceo.nirogikaya@gmail.com पर अवश्य भेजे। 
Designed by Freepik
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook, Whatsapp या Tweeter account पर share करे !
loading...
Labels:

Post a Comment

खास आपके लिए !

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.