अगर आप मुहांसो से परेशान है, अपनी त्वचा को फिर से जवां करना चाहते हैं, बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करना चाहते  हैं, त्वचा पर सनबर्न के निशान कम करना चाहते हैं या त्वचा को निखारना चाहते हैं तो आपको केमिकल पील / Chemical Peel यह चिकित्सा अपनाकर जरूर खुशी होगी। यह एक ऐसी सौंदर्य प्रक्रिया है जिसे चेहरे में सुधार लाने के लिए प्रयोग किया जाता है।

Beauty Therapy में यह चिकित्सा काफी पुरानी और प्रचलित है। हालांकि समय के साथ इस में भी कई बदलाव और अविष्कार हुए है लेकिन इसके अच्छे परिणामों की वज़ह से ज्यादातर कॉस्मेटोलॉजिस्ट या स्किन डॉक्टर्स की यह पसंदीदा चिकित्सा है। केमिकल पील यह एक नाजुक और सावधानीपूर्वक की जाने वाली चिकित्सा होने के कारण इसे डर्मेटोलॉजिस्ट या प्रशिक्षित व्यक्ति द्वारा ही किया जाना चाहिए।

Chemical Peel के बारे में लोगों में कई तरह की शंकाएं और सवाल रहते हैं। आज हम सवाल - जवाब  के अंतर्गत आपको केमिकल पील चिकित्सा के बारे में जानकारी देंगे। Chemical Peel की सम्पूर्ण जानकारी निचे दी गयी हैं :  

CHEMICAL-PEEL-IN-HINDI-BENEFITS-COST-SIDE-EFFECTS

केमिकल पील चिकित्सा क्या है और इसके फायदे What is Chemical Peel Therapy and its benefits in Hindi

केमिकल पील चिकित्सा क्या है ?Chemical Peel Therapy details in Hindi  

केमिकल पील यह ऐसी चिकित्सा है जिसमें विशेष प्रकार के रासायनिक तरल पदार्थ (chemical solution) का प्रयोग त्वचा की बिगड़ी हुई, खराब या क्षतिग्रस्त बाहरी परत निकालने के लिए किया जाता है। आमतौर पर यह चिकित्सा चेहरे के लिए की जाती है पर इसके अलावा शरीर के अन्य भाग जैसे गर्दन, पीठ, हाथ आदि पर भी जरूरत हो तो इसका उपयोग कर सकते हैं। इसमें त्वचा की मृत त्वचा (dead skin) निकालकर उसकी जगह नई त्वचा आती है, जो पहले से अधिक विकसित (improved tone, texture and colour), मुलायम होती है। 

केमिकल पील चिकित्सा कैसे काम करती है ?How does Chemical Peel work in Hindi 

Chemical Peel में त्वचा की जरूरत के हिसाब से केमिकल सोलुशन त्वचा के ऊपर लगाया जाता है। यह 2 तरीकों से काम करता है। 

1. पहला तरीका 

पील सोलूशन द्वारा त्वचा को एक नियंत्रित क्षति (controlled injury) पहुंचा कर इसकी बाहरी परत को निकाला जाता है। इसके बाद उस जगह पर नई पेशियां (new tissues) उत्पन्न हो कर एक नई त्वचा निर्माण होती है जो कि पहले से कहीं अधिक आकर्षक होती हैं। 
  
2. दूसरा तरीका 

त्वचा के भीतर कोलाजेन को उत्तेजित कर त्वचा में नई जान डाली जाती है। जिससे त्वचा दमकने लगती है। 

केमिकल पील के प्रकार कितने होते है ? Types of Chemical Peel  in Hindi

केमिकल पिल को मुख्य तौर डैमेज की गहराई और त्वचा के अंदर पहुचने की क्षमता पर तीन भागों में बांटा जाता है। 
  1. सुपरफिशयल पील
  2. मीडियम पील 
  3. डीप पील 
सोलूशन के आधार पर पील के अन्य प्रकार यह होते हैं। इनका समावेश भी उपरोक्त प्रकारों में ही हो जाता है। 
  1. अल्फा हाइड्रोक्सी एसिड (ग्लायकोलिक एसिड) पील - यह mild peels याने कम प्रभाव वाले होते है।
  2. बीटा हाइड्रोक्सी एसिड (सैलिसिलिक एसिड) पील 
  3. लेक्टिक एसिड पील
  4. TCA पील (Trichloroacetic peel)
  5. Jessner's पील - इसमें 2 पील्स का combination होता है।
  6. Retionic एसिड पील 
  7. Mandelic पील आदि। 
किस व्यक्ति में कौन सी पील करना है इसका चयन व्यक्ति के समस्या, आवश्यकता के आधार पर डर्मेटोलॉजिस्ट या प्रशिक्षित डॉक्टर द्वारा किया जाता है।

केमिकल पील का उपयोग किन परिस्तिथि मे करते है ?Chemical Peel Indications in Hindi 

  • मुहांसे , मुहांसो के निशान - गड्डे  
  • असमान रंग की त्वचा (uneven skin tone)  
  • त्वचा का साँवला रंग  
  • त्वचा को जवां दिखाने के लिए  
  • झुर्रिया, चेहरे पर दाग धब्बे मिटाने के लिए  
  • कैंसरपूर्व कोशिकाओं पर 
  • उम्र को कम दिखाने  
  • निस्तेज / Dull हो चुकी त्वचा की गुणवत्ता को सुधारने  
  • स्ट्रेच मार्क्स कम करने के लिए 
Chemical Peel से सभी तरह के निशान तो नहीं जाते पर निशानों को काफी हद तक कम किया जाता है।

Chemical Peel के लिए सही व्यक्ति और सही त्वचा कोन सी होती है ? 

फेयर स्किन और लाइट हेयर का कॉम्बिनेशन पील के लिए बेहतर माना जाता है।  वे लोग जो अपने चेहरे की दिखावट (appearance) से खुश नही होते है, जिनका चेहरा सनबर्न से खराब हुआ है ऐसे व्यक्तियों में इसके काफी अच्छे परिणाम मिलते है। 

केमिकल पील कैसे कार्य करता है ?

केमिकल पील यह एक non toxic सोलूशन के द्वारा स्किन पर धीरे से मसाज करके त्वचा की उपरी परत हटाता है। इससे त्वचा के अंदर कोलेजन सेल्स को उत्तेजित कर नई पेशियों का निर्माण होता है, जो आपको पहलेसे कई अधिक हेल्थी और जवां लुक देती है। 

Chemical Peel के बाद आपकी त्वचा में क्या बदलाव आते है ? 

पहले सिटींग के बाद से ही आपको आपकी त्वचा में बदलाव महसूस होने लगेगा। स्किन पहले से अधिक मुलायम और जवां लगने लगेगी। बाद में हर एक सेटिंग के बाद यह इंप्रूवमेंट बढ़ता जाएगा। 

Chemical Peel के बाद किस तरह के परिणाम मिलते है ? 

  • मुहांसो की वजह से त्वचा पर आये हुए दाग धब्बे कम होते है। 
  • धुप से झुलसी हुई त्वचा की बारीक रेखाए, झुर्रियां और निशान मिटते है। 
  • मुहांसे और त्वचा की सूजन कम होती है। 
  • दाग धब्बे कम होकर त्वचा का रंग एक जैसा होता है।  
  • मुलायम त्वचा के लिए कोलाजेन बनना शुरु होता है। 
  • चेहरे की मृत त्वचा हटकर त्वचा ताजगी से भरी, जवां और मुलायम होने लगती है। 

Chemical Peel किसे नही करना चाहिए ? 

  • जिनकी त्वचा पर धब्बों के निशान काफी गहरे होते है या त्वचा का रंग गहरा होता है उन्हें पील का प्रयोग सावधानी से करना होता है क्योंकि कई बार पील के बाद नई आने वाली त्वचा और पुरानी त्वचा में फर्क दीखता है। 
  • प्रेग्नेंट महिलाएं तथा जिन्हें एक्जिमा या त्वचा की कोई अन्य बीमारी हो उन्हें डॉक्टर के सलाह के बिना पील नहीं करवाना चाहिए। 

Chemical Peel के क्या दुष्परिणाम होते है ? Side effects of Chemical Peel in Hindi

Chemical Peel में एक चीज का हमेशा ध्यान रखिए कि जब भी पील करवाना है तो एक अच्छे डर्मेटोलॉजिस्ट या प्रशिक्षित व्यक्ति के द्वारा ही करना चाहिए। अगर आपकी त्वचा संवेदनशील है या पील का प्रयोग असावधानी से या किसी अप्रशिक्षित के हाथों हुआ है तो यह दुष्परिणाम हो सकते है।
  • घाव का निशान 
  • त्वचा का झुलसना   
  • संक्रमण / Infection 
  • चेहरे के रंग में असमानता  
  • त्वचा का मलिनिकरन / Discoloration 
  • त्वचा का रंग गहरा होना   

Chemical Peel के दौरान और बाद में क्या सावधानी बरतें ?Chemical Peel Precautions in Hindi

  • Chemical Peel के दौरान और बाद में हमें प्रत्यक्ष रुप से धुप से बचना चाहिए। 
  • चाहे हम घर में रहे या बाहर हमें हमारे त्वचा के अनुसार सनस्क्रीन का सही तरीके से इस्तेमाल करना चाहिए। 
  • मेकअप या ब्लीच का इस्तेमाल ना करे या कम करे। 
  • नई त्वचा आने में थोड़ा समय लगता है  तब तक त्वचा में कुछ बदलाव दिख सकते है । इसलिए इसका प्रयोग किसी पार्टी या उत्सव के तुरन्त पहले न करे। 
  • घरेलू केमिकल पिल्स के किट भी मिलते हैं परंतु इसका प्रयोग सावधानी से करें। अगर इसे ठीक तरह से नहीं लगाया तो इससे त्वचा को हानि भी हो सकती है।
Chemical Peel अगर किसी प्रशिक्षित डॉक्टर या सौंदर्य विशेषज्ञ द्वारा की जाये तो यह एक बेहद असरदार चिकित्सा हैं। केमिकल पील से आप अपने चेहरे को और अधिक सुन्दर, बेदाग़ और जवान बना सकते हैं। यह विशेष जानकारी हमें सौंदर्य विशेषज्ञ डॉ भावना त्रिवेदी जी ने भेजी हैं। निरोगिकाया टीम और पाठकों की ओर से उनका बहोत-बहोत धन्यवाद ! 

अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook, Whatsapp या Tweeter account पर share करे !
loading...
Labels:

Post a Comment

खास आपके लिए !

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.