आजकल की भागदौड़ की जिंदगी में ज्यादातर लोग अपनी सेहत को नजरअंदाज कर रहे हैं। समय की कमी और पति-पत्नी दोनों नौकरी पेशा होने के कारण झटपट तैयार होनेवाले पर सेहत के लिए हानिकारक फास्टफूड का अधिक सेवन कर रहे हैं। फास्टफूड से शरीर को पोषण तो नहीं मिलता है बल्कि मोटापा जैसी भयावह बीमारी हो जाती हैं।

आप अपने आहार में झटपट खाना तैयार करने के लिए हानिकारक फास्टफूड की जगह पौष्टिक सूजी का इस्तेमाल कर सकते हैं। सेहतमंद नाश्ते के लिए सूजी का प्रयोग हलवा, इडली या उपमा के तौर पर किया जाता हैं। खाने में हल्की व सुपाच्य सूजी गेहू से बनायीं जाती हैं। सूजी को रवा या अंग्रेजी में Semolina भी कहा जाता हैं।

सूजी को आहार में शामिल करने से होनेवाले विविध लाभ की जानकारी निचे दी गयी हैं :

Health-benefits-of-Semolina-rava-suji-hindi
  • नाश्ता / Breakfast : दिनभर शरीर में स्फूर्ति रहने के लिए अच्छा सेहतमंद और ऊर्जावान नाश्ता जरुरी होता हैं। नाश्ते में सूजी का उपमा, इडली या हलवा आदि लेने पर शरीर को ऊर्जा प्राप्त होती हैं। आप इसके साथ सब्जियों का उपयोग कर इसे और पौष्टिक बना सकते हैं। 
  • ह्रदय रोग / Heart Disease : ह्रदय के रोगियों से सूजी का आहार में समावेश अवश्य करना चाहिए। सूजी ह्रदय संबंधी बिमारियों का खतरा कम करती है और रक्तसंचार को सही रखती हैं। 
  • मोटापा / Obesity : मोटापे से पीड़ित लोगो ने अपना वजन कम करने के लिए आहार में सूजी अवश्य लेना चाहिए। यह स्वादिष्ट और सुपाच्य होने से जल्द पच जाता हैं। इसमें फाइबर अधिक होने से पेट अधिक समय तक भरा रहने का एहसास रहता है जिस कारण आवश्यकता से अधिक आहार लेने से बचा जा सकता हैं। सूजी का Glycemic Index कम होने के कारण इसे खाने से वजन बढ़ने का खतरा नहीं रहता हैं। 
  • मधुमेह / Diabetes : मधुमेह से पीड़ित रोगियों के लिए यह एक उत्तम आहार हैं। इसका Glycemic Index कम होने से रक्त शर्करा बढ़ने का खतरा नहीं रहता है। गेहू की तुलना में इसका रक्त में अवशोषण / absorption होने में अधिक समय लगने से मधुमेह के रोगियों में रक्त शर्करा कम-ज्यादा होने का खतरा नहीं रहता हैं। 
  • पाचन / Digestion : सूजी का पाचन आसानी से होता है। इसमें अधिक मात्रा में फाइबर, कैल्शियम, सेलेनियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस और पोटैशियम जैसे तत्व होते है जो पाचन शक्ति बढ़ाने में सहायक होते हैं ,
  • रोग प्रतिकार शक्ति / Immunity : सूजी में अधिक मात्रा में सेलेनियम / Selenium पाया जाता हैं जिससे रोग प्रतिकार शक्ति में इजाफा होता है। हमारे आस-पास हर समय करोडो रोग कारक सूक्ष्म जीवाणु और विषाणु रहते है जिनसे लड़ने के लिए शरीर की रोग प्रतिकार शक्ति सशक्त होना आवश्यक होता हैं। 
  • लोह तत्व / Iron : रक्त की कमी / Anemia से पीड़ित व्यक्तिओ ने सूजी अवश्य खाना चाहिए। इसमें प्रचुर मात्रा में लोह तत्व / Iron होता है। शरीर में रक्त की निर्मिति के लिए इसकी आवश्यकता होती हैं। 
  • तंत्रिका प्रणाली / Nervous System : सूजी में फॉस्फोरस, जिंक और मैग्नीशियम जैसे तंत्रिका प्रणाली के लिए आवश्यक तत्व होते है जिससे तंत्रिका प्रणाली सुचारू रूप से कार्य करती हैं। 
  • प्रोटीन / Protein : सूजी में प्रोटीन में अधिक रहता है जो की सशक्त मांसपेशियों के लिए जरुरी होता हैं।
सूजी / रवा के विभिन्न स्वास्थ्य लाभ का पूरा उपयोग करने के लिए इसे अपने आहार में अवश्य शामिल करे। यह पौष्टिक भी है और स्वस्त भी। आप सूजी के साथ अन्य सब्जी मिलाकर कई तरह के स्वादिष्ठ पकवान भी बना सकते हैं।
अगर आपको यह लेख स्वास्थ्य की दृष्टी उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook या Tweeter account पर share अवश्य करे !
loading...
Labels:

Post a Comment

  1. I WANT TO GAIN WEIGHT SO PLEASE TELL ME ANY DIET OR SUPPLYMENT...

    ReplyDelete
    Replies
    1. Kindly copy and paste following link in your browser and read the article on weight gain tips.
      http://www.nirogikaya.com/2014/12/diet-tips-for-weight-gain-in-hindi.html

      Delete

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.