मधुमेह / Diabetes के रोगियों को अपने शरीर की समस्याओं पर ध्यान देने को विशेष जरुरत होती हैं। Diabetes के मरीज फिर चाहे वह Type 1 हो या Type 2 से पीड़ित हो, उन्हें मुख स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होना बेहद जरुरी हैं। उनके लिए दातों की देखभाल करना उतना ही जरुरी है जितना की पैरों की देखभाल करना। एक स्वास्थ्य सर्वेक्षण में पाया गया है की कैंसर जनित और कैंसर पूर्व के अधिकांश रोगी मधुमेह से पीड़ित थे।

Diabetes का रोगी अगर अपने शरीर के ओर ध्यान नहीं देता हैं तो शरीर के सभी अंग जैसे की किडनी या आँखों की समस्या घेर लेती हैं। चूँकि Diabetes के रोगी की रोग प्रतिकार शक्ति / Immunity कमजोर हो जाती हैं इसलिए दातों पर भी इसका सीधा असर हो जाता हैं। उनके मुंह में ऐसा विशेष संक्रमण हो जाता हैं जिससे दांत और मसूड़े कमजोर हो जाते हैं।

जो Diabetes के रोगी नियमित जांच कराते है, पथ्य पालन के साथ समय पर अपनी दवा लेते हैं और मुख की अच्छे से साफ़-सफाई पर ध्यान देते हैं उन्हें मसूड़ों में रक्त संक्रमण नहीं होता हैं। पर ऐसे मरीज जिनका मधुमेह कण्ट्रोल नहीं हैं उन्हें मुख में निचे दी हुई समस्या हो सकती हैं :

diabetes-dental-oral-health-hindi
मधुमेह और दंतरोग 
  • मसूड़ों में दर्द और सुजन 
  • मसूड़ों से खून / मवाद (Pus) आना 
  • मुंह से बदबू आना 
  • दाँतों का हिलना 
  • लार (Saliva) की कमी 
  • मुंह सुख जाना 
  • सांस लेते समय विशेष प्रकार की बदबू (Acetonic odour) आना 
  • होटों का फटना 
Diabetes के रोगी को ऐसी परेशानी से बचने के लिए और मुख दुर्गंधगी के कारण शर्मिंदगी के एहसास से बचने के लिए निचे दिए हुई उपाय योजना करना चाहिए :
  • समय-समय पर दंत रोग विशेषज्ञ (Dentist) से दांतों की जांच, दांतों की अच्छे से सफाई, मसूड़ों का ईलाज, दंतक्षय का भराव आदि कराना चाहिए। 
  • दिन में दोबार ब्रश अवश्य करे। 
  • जीभ को नर्म ब्रश से साफ़ करना न भूले। 
  • नियमित रूप से माउथवाश का उपयोग करे। 
  • मसूड़ों की मालिश करे। 
  • दांतों के बीचे की सफाई डेंटल प्लास्क से करे। 
  • अपने मधुमेह / Diabetes को नियंत्रण में रखने के लिए समय-समय पर डॉक्टर से जांच कराते रहे और पथ्य पालन करे। 
मुख शरीर का द्वार हैं। मुंह, दांत और मसूड़ों में पनपने वाली बीमारियाँ शरीर के प्रमुख अंगो को Blood circulation के माध्यम से संक्रमित (Infected) कर सकती हैं। मुख के स्वास्थ्य की अनदेखी करने से Cancer / कर्करोग जैसी जानलेवा बीमारी भी घर कर सकती हैं। अपने मुख और परिणामतः अपने शरीर को सदृढ़ और स्वस्थ रखने के लिए Diabetes के रोगियों से हर संभव कोशिश करनी चाहिए।  

अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook, Whatsapp या Tweeter account पर share जरुर करे !
Image courtesy of digitalart at FreeDigitalPhotos.net
loading...
Labels:

Post a Comment

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.