Hepatitis B यह वायरस से होनेवाला एक बेहद खतरनाक संक्रामक रोग हैं। यह रोग लीवर (यकृत) को संक्रमित कर देता हैं। समय पर Hepatitis B का उपचार और एहतियात न बरतने पर लीवर failure होकर रोगी की मृत्यु भी हो सकती हैं। दुनियाभर में हरवर्ष हजारो लोगो की मृत्यु Hepatitis B के कारण होती हैं।

Hepatitis B के उपचार की जानकारी पढने के पहले, Hepatitis B के कारण (causes), लक्षण (symptoms) और निदान (diagnosis) की जानकारी पाने के लिए यह पढ़े - Hepatitis B का कारण, लक्षण और निदान

Hepatitis B के उपचार और Hepatitis B से बचने के उपाय की जानकारी इस लेख में निचे दी गयी हैं :

Hepatitis-B-Treatment-Remedies-and-Prevention-in-Hindi
Hepatitis B का उपचार कैसे किया जाता हैं ?

Hepatitis B का उपचार, Hepatitis B की तीव्रता और संक्रमण के समय अवधि अनुसार किया जाता हैं। Hepatitis B से पीड़ित ज्यादातर रोगी पहले 2 से 3 महीने में ठीक हो जाते है और बहोत कम मरीजों में जीर्ण (Chronic) Hepatitis B होता हैं। 

Hepatitis B के उपचार की जानकारी निचे दी गयी हैं ;
  • तीव्र (Acute) Hepatitis B - Hepatitis B का संक्रमण होने पर जल्द उपचार लेना जरुरी होता हैं। 
  1. संक्रमित सुई से संपर्क होने पर पहले 7 दिन के भीतर और संक्रमित व्यक्ति से असुरक्षित यौन संबंध रखने पर पहले 2 हफ्तों के अंदर उपचार लेना चाहिए। अगर आपने पहले Hepatitis B वैक्सीन नहीं ली है तो तीव्र संक्रमण होने पर Hepatitis B Immunoglobulin का एक डोस और Hepatitis B वैक्सीन के अनुसूची (schedule) अनुसार 3 डोस लेना चाहिए। 
  2. डॉक्टर आवश्यकता अनुसार रोगी के लक्षण देखकर तीव्र Hepatitis B में एंटीबायोटिक्स, दर्द नाशक दवा, लिवर प्रोटेक्टिव दवा (लिवर टॉनिक) और विटामिन दे सकते हैं। 
  • जीर्ण (Chronic) Hepatitis B - ऐसे तो ज्यादातर जीर्ण Hepatitis B के रोगियों में कोई लक्षण या समस्या नजर नहीं आती हैं पर लिवर को क्षति (Cirrhosis / Cancer) से बचाने के लिए जरुरत पड़ने पर एंटी-वायरल दवा का उपयोग किया जाता हैं। जीर्ण Hepatitis B में लिवर निष्क्रिय (Liver failure / Fulminant Hepatitis) होनेपर पीड़ित को बचाने के लिए Liver Transplant किया जाता हैं। 
  • अन्य - Hepatitis B यह लिवर का रोग होने के कारण, Hepatitis B का निदान होने पर आहार और दवा लेते समय कुछ सावधानिया बरतना जरुरी हैं। 
  1. ज्यादा तेल और मसाले युक्त आहार नहीं लेना चाहिए। 
  2. कमजोरी महसूस होने पर पूरा आराम करे। 
  3. दिन भर में कम से कम 8 से 10 ग्लास पानी पीना चाहिए। 
  4. पिने के लिए हमेशा शुद्ध पानी का इस्तेमाल करे। पिने के लिए मिनरल वॉटर या उबाल कर ठन्डे किये हुए पानी का उपयोग करे। 
  5. शराब और धूम्रपान का सेवन न करे। 
  6. कोई भी दवा लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लेना चाहिए। 
  7. आहार में कम वसा / FAT युक्त और अधिक प्रोटीन युक्त आहार लेना चाहिए। 
Hepatitis B का निदान होने पर रोगी ने Hepatitis B रोग के विशेषज्ञ Hepatologist को एक बार अवश्य दिखाना चाहिए।  

Hepatitis B से बचने के लिए क्या एहतियात बरतने चाहिए ?

Hepatitis B से बचने के लिए निचे दिए हुए एहतियात बरतने चाहिए :
  • सुरक्षित यौन संबंध - अपरिचित व्यक्तिओ के साथ यौन संबंध न रखे। व्यक्ति के स्वास्थ्य की जानकारी न होने पर यौन संबंध करते समय कंडोम का इस्तेमाल करे। 
  • निर्जंतुक सुई - अस्पताल में हमेशा निर्जंतुक सुई या ब्लेड का इस्तेमाल करे। 
  • सलून में शेविंग या बाल कटाते समय हमेशा नयी ब्लेड  इस्तेमाल करने का आग्रह करे। 
  • Tattoo कराते समय या कान छिदवाते समय निर्जंतुक सुई का इस्तेमाल हो रहा है इसका ध्यान रखे। 
  • अपने शेविंग ब्लेड या टूथ ब्रश किसी भी व्यक्ति के साथ शेयर न करे। 
  • Hepatitis B vaccine - बच्चों को जन्म के समय पहला डोस, 1 महीने पर दूसरा डोस और 6 महीने में तीसरा डोस देकर Hepatitis B से सुरक्षा दे सकते हैं। Combination वैक्सीन इस्तेमाल करने पर या जरुरत पड़ने पर 4 booster डोस दे सकते हैं। 18 वर्ष से कम आयु के सभी बच्चों ने यह वैक्सीन जरूर लगाना चाहिए। यह वैक्सीन लगाने पर अगले 20 वर्षो तक Hepatitis B होने का खतरा 95% तक कम हो जाता हैं। जिन व्यक्तिओ को Hepatitis B होने का खतरा है उन्होंने भी इस वैक्सीन के 3 डोस डॉक्टर की सलाहनुसार लगाने चाहिए। 
Hepatitis B से पीड़ित व्यक्ति ने औरों को Hepatitis B नहीं फैले इसलिए क्या सावधानी बरतनी चाहिए ?

अगर आपको पता है की आपको Hepatitis B है तो अन्य व्यक्तिओ को इस बीमारी की लागत न हो इसलिए आपने निचे दी हुई सावधानी बरतनी चाहिए :
  • अपने परिवार को इस बात की जानकारी दे की आपको Hepatitis B हैं। 
  • रक्तदान न करे। 
  • शरीर का कोई भी अवयव दान (Organ Transplant) न करे। 
  • जब तक आपके डॉक्टर यह न कहे की आपके कारण अब किसी को Hepatitis B नहीं फ़ैल सकता है तब तक यौन संबंध रखते समय हमेशा कंडोम का उपयोग करे। 
  • अपना व्यक्तिगत सामान जैसे की ब्लेड, टूथब्रश, टॉवल, नेल कटर इत्यादि किसी के साथ शेयर न करे। 
  • अपने डॉक्टर और डेंटिस्ट को जांच कराते समय अपने Hepatitis B होने की जानकारी अवश्य दे। 
  • अगर आपको Hepatitis B है तो गर्भावस्था के दौरान इसकी जानकारी अपने डॉक्टर को दे। प्रसव के बाद ध्यान दे की आपके शिशु को पहले 12 घंटो में Hepatitis B Immunoglobulin और Hepatitis B वैक्सीन का प्रथम डोस दिया गया हैं। 
  • आपके रक्त से युक्त कपडे या टिश्यू को जला दे या उन्हें ठीक से पैक कर Bio medical waste को सौप दे। 
आपसे अनुरोध है कि आप आपने सुझाव, प्रतिक्रिया या स्वास्थ्य संबंधित प्रश्न निचे Comment Box में या Contact Us में लिख सकते है !
अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है और आप समझते है की यह लेख पढ़कर किसी के स्वास्थ्य को फायदा मिल सकता हैं तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook , Whatsapp या Tweeter account पर share जरुर करे !
Keywords - Hepatitis B Treatment, Remedies and Prevention in Hindi. Hepatitis B का उपचार / ईलाज / चिकित्सा, एहतियात और बचने के उपाय. Hepatitis B ka ilaj, upchar, chikitsa. Hepatitis B se kaise bache.
loading...
Labels:

Post a Comment

  1. मेरी पत्नी पिछले 6 सालो सेhepatitis b से पडित है और doctor की देख-रेख में normal है मैंने hbs vaccine की 3 dose 6 साल पहले लिए थे। क्या मुझे अब vaccine की और dose की जरुरत है या 3 vaccine जीवन भर सुरक्षा देगीं???

    ReplyDelete
    Replies
    1. वैक्सीन से २० वर्ष तक सुरक्षा प्राप्त होती हैं.

      Delete

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.