मधुमेह (Diabetes) के मरीजों को अपने रक्त शर्करा को नियंत्रण में रखने के लिए खान-पान संबंधी विशेष ध्यान रखना होता है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सभी पोषक तत्व से युक्त समतोल आहार लेना जरुरी होता हैं और इसके लिए आहार में फलों (Fruits) का एक अहम स्थान हैं। 

मधुमेह (Diabetes) के मरीजों को अक्सर यह सवाल होता हैं की, " क्या फल हमारे लिए सुरक्षित हैं ?"  सामान्य व्यक्तिओ की तरह मधुमेह (Diabetes) के मरीजों को भी दिन में 3 से 4 बार फलों का सेवन करना चाहिए। जिन मरीजों की रक्त शर्करा दवा या Insulin Injection के साथ नियंत्रण में रहती हैं ऐसे मधुमेह के मरीज अल्प मात्रा में फलों का सेवन कर सकते हैं।  

मधुमेह (Diabetes) के मरीजों को लिए जरुरी है की वह अपने आहार में हररोज Low Glycemic Index (GI) वाले फलों का समावेश करे। मधुमेह (Diabetes) के मरीजों के लिए सुरक्षित फल और उनसे मिलने वाले लाभ संबंधी जानकारी निचे दी गयी है :

top-10-Fruits-for-Diabetic-Patients-In-Hindi
  1. जामुन (Black Berry) : मधुमेह के मरीजों के लिए यह सबसे अच्छे फलों में से एक हैं। इनमे प्रचुर मात्रा में Vitamins, Anti-Oxidants और Fiber होते हैं। आधी कटोरी जामुन खाने से सिर्फ 62 Calories और 16 gram Carbohydrates मिलते हैं। जामुन शरीर में Insulin की मात्रा और रक्त शर्करा कम करने के गुणधर्म को बढ़ाता हैं। 
  2. अमरुद (Guava) : अमरुद का Glycemic Index केवल 20 हैं। अमरुद में प्रचुर मात्रा में Fiber होने के साथ Vit A और Vit C भी होता हैं जो की मधुमेह के मरीजों के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक हैं। अमरुद खाने से आपकी रक्त शर्करा नियंत्रण में रहती हैं और शरीर को स्फूर्ति भी प्राप्त होती हैं। 
  3. सेब (Apple) : सेब यह मधुमेह के मरीजों का सबसे पसंदीदा फल हैं। सेब में काफी मात्रा में Vitamins, Anti-Oxidants और Fiber होते हैं। सेब में Pectin नामक एक रसायन होता हैं जो रक्त शर्करा में 50% तक कमी लाता हैं। सेब का Glycemic Index केवल 38 हैं। एक छोटे सेब से केवल 54 Calories और 14 gram Carbohydrates मिलते हैं। ध्यान रहे की सेब हमेशा छिलको के साथ ही खाए क्योंकी मुख्य Anti-Oxidants सेब के छिलको में ही होते हैं। 
  4. तरबूज (Watermelon) : तरबूज का GI ज्यादा है परन्तु तरबूज से मिलने वाली प्राकृत शर्करा Fructose का आसानी से ऊर्जा में परवर्तन होने से मधुमेह रोगी इसे कुछ मात्रा में खा सकते हैं। तरबूज में Cartenoids होता है जो की रक्त शर्करा कम करने में सहायक हैं। तरबूज से प्रचुर मात्रा में Lycopene मिलता हैं जो की मधुमेह के दुष्परिणामों से शरीर की रक्षा करता हैं।  
  5. संतरा (Oranges) : American Diabetes Association अनुसार मधुमेह के मरीजों ने रोज एक संतरा खाना चाहिए। संतरे का Glycemic Index केवल 35 से 50 के बीच हैं। संतरे में भरपूर Fiber होता हैं जो शरीर में शर्करा का पाचन समय बढ़ा देता हैं। संतरा में भरपूर मात्रा में Vitamin C और Anti-Oxidants होते हैं।     
  6. पपीता (Papaya) : मधुमेह के मरीजों के लिए पपीता एक बेहद उपयोगी फल हैं। जिन मरीजों की रक्त शर्करा काफी ज्यादा रहती हैं उन्हें पपीता का सेवन जरूर करना चाहिए। पपीता का सेवन करने से रक्त शर्करा कम होती हैं। पपीते में अधिक मात्रा में Carotene और Papain नामक एक enzyme रहता हैं जो की मधुमेह के दुष्परिणाम जैसे की ह्रदय रोग, किडनी रोग और असमय बुढ़ापे से बचाता हैं।
  7. नाशपाती (Pears) : Vitamin और Fiber से युक्त नाशपाती फल, मधुमेह के मरीजों के लिए एक उत्तम आहार हैं। नाशपाती में Levulose नामक प्राकृत शर्करा होने से वह मीठा लगता है परन्तु इस शर्करा का पाचन तुरंत हो जाता हैं जिससे रक्त शर्करा में वृद्धि नहीं होती हैं। नाशपाती में Calories और Carbohydrates कम होते है परन्तु fiber अधिक होने से मधुमेह और वजन कम करने वालो के लिए यह उत्तम फल हैं। 
  8. एवोकाडो (Avocado) : यह मेक्सिको में पैदा होने वाला नाशपाती जैसा फल हैं जो आज कल भारत में भी अपने पौष्टिक गुणों के कारण काफी प्रसिद्ध हो गया हैं। एवोकाडो मधुमेह के मरीजों को मधुमेह से होने वाले ह्रदय रोग से बचाता हैं। 
  9. अनार (Pomegranate) : अनार मीठा होता है परन्तु अनार में अधिक मात्रा में Vitamins, Anti-Oxidants और Fiber होते हैं। अनार का रस बनाकर पिने की जगह अनार के दाने निकालकर खाना ज्यादा फायदेमंद होता हैं। अनार शरीर में रक्तवाहिनिओ में चर्बी जमा नहीं होने देता है और अच्छे Cholesterol को बढ़ाता हैं। 
  10. चेरी (Cherries) : चेरी का  का Glycemic Index केवल 20 हैं। चेरी फल में Anthocyanins नामक रसायन होता है जो की शरीर में Insulin ज्यादा मात्रा में निर्माण करने में मदद करता हैं जिससे रक्त शर्करा नियंत्रित रहने में मदद मिलती हैं। Anthocyanins रसायन Pre-Diabetic व्यक्तियों को मधुमेह (Type 2 Diabetes Mellitus) होने से बचाने में मदद करती हैं।      
मधुमेह के मरीजों को सलाह है की अगर आप आहार में कोई ज्यादा GI वाला फल जैसे की अनार या तरबूज आदि फल ले रहे है तो बाद में खाने के वक्त कम GI वाला आहार ले या ऐसा फल खाने के पहले कोई व्यायाम जरूर करे। किसी फल का जूस बनाकर पिने की जगह पूरा फल खाने का प्रयास करे जिससे फल के पुरे Vitamins और Fiber का लाभ मिल सके। फलों को खाते समय कुछ नियम का ध्यान जरूर रखना चाहिए। इन नियमो की अधिक जानकारी इस लेख में है - फलों को खाने के नियम।

आपसे निवेदन हैं की, मधुमेह के मरीजों को आहार और व्यायाम के साथ मधुमेह की दवा लेना भी बेहद जरुरी है। कृपया अपने मन से या किसी ने कहा है इसलिए बिना अपने डॉक्टर की सलाह के कभी भी अपनी दवा बंद न करे। समय-समय पर डॉकटर आपकी रक्त शर्करा जांच कर दवा कम ज्यादा कर सकते हैं। कोई भी फल आहार में लेने से पहले अपने डॉक्टर या आहार विशेषज्ञ की सलाह जरूर ले।
Glycemic Index संबंधी अधिक जानकारी के लिए पढ़े - Glycemic Index information in Hindi

अगर आपको यह लेख उपयोगी लगता है तो कृपया इस लेख को निचे दिए गए बटन दबाकर अपने Google plus, Facebook या Tweeter account पर share करे !

Image courtesy : Praisaeng at FreeDigitalPhotos.net
Keywords: Diabetes diet, Best fruits for Diabetes in Hindi, Diabetes and Fruits, मधुमेह और फल, मधुमेह और आहार 
loading...
Labels: ,

Post a Comment

Author Name

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.